कोविड-19 का टीका बनाने वाली सभी कंपनियों के साथ बातचीत कर रहा है भारत: स्वास्थ्य मंत्रालय

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह की सभी घरेलू और विदेशी टीका निर्माताओं के साथ बातचीत चल रही है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह की सभी घरेलू और विदेशी टीका निर्माताओं के साथ बातचीत चल रही है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

Ministry of Health: केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा, ‘कोविड-19 टीका उपलब्ध कराने के लिए राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह घरेलू और विदेशी निर्माताओं समेत सभी टीका निर्माताओं के साथ बातचीत कर रहा है.’

नई दिल्ली. स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) ने मंगलवार को कहा कि कोविड-19 (COVID-19) का टीका उपलब्ध कराने को लेकर राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह की सभी घरेलू और विदेशी टीका निर्माताओं के साथ बातचीत चल रही है. एक दिन पहले ही दवा कंपनी फाइजर और बायोएनटेक एसई ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के संभावित टीके के 90 प्रतिशत तक असरदार होने की घोषणा की थी.

क्या भारत कोविड-19 टीके के लिए फाइजर के साथ तालमेल करने पर विचार कर रहा है और टीके के लिए विशेष कोल्ड चेन को लेकर आधारभूत संरचना है, इस पर केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा, ‘कोविड-19 टीका उपलब्ध कराने के लिए राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह घरेलू और विदेशी निर्माताओं समेत सभी टीका निर्माताओं के साथ बातचीत कर रहा है.’ उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘जब हम यह वार्ता करेंगे, हम उनके टीके के विकास की स्थिति पर गौर करेंगे. हमें नियामकीय मंजूरी को भी देखना होगा कि कहां पर उन्होंने प्रगति की है. हम इसे रखने के संबंध में व्यवस्था पर भी बात करेंगे कि क्या इस टीके को दो से आठ डिग्री से लेकर शून्य से 50 डिग्री या 90 डिग्री सेल्सियस नीचे रखने की जरूरत होगी तथा टीके को दिए जाने के संबंध में भी बात करेंगे.’

ये भी पढ़ें: ICMR ने कहा- दिल्ली में कोविड की तीसरी लहर, प्रदूषण और सर्दी के चलते भी बढ़े केस

ये भी पढ़ें: देश में 79 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से उबरे, अब तक 11.96 करोड़ हुए टेस्टउन्होंने कहा, ‘इसमें लगातार बदलाव हो रहा है और नियामकीय मंजूरी मिल जाने पर हम आपके साथ इस बारे में सूचना साझा करेंगे.’ क्या शुरुआत में टीका केवल महानगरों में उपलब्ध होगा क्योंकि केंद्र 2021 के आरंभ से टीकाकरण के लिए तैयारी कर रहा है, इस सवाल पर भूषण ने कहा कि सरकार महानगर और गैर महानगरों के बीच भेदभाव नहीं करती. उन्होंने स्पष्ट किया, ‘टीके के लिए नियामकीय मंजूरी मिल जाने पर हमारी योजना है कि प्राथमिकता वाले सभी आबादी समूहों को यह उपलब्ध हो, इसमें क्षेत्र मायने नहीं रखेगा कि कौन कहां रहता है.’ फाइजर और बायोएनटेक एसई ने सोमवार को कहा कि उसका टीका कोविड-19 से बचाव में 90 प्रतिशत से ज्यादा असरदार पाया गया है.





Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page