जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सेना ने ढेर किया एक और आतंकवादी

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


तलाशी अभियान के दौरान सैनिकों ने आतंकी को किया ढेर. (सांकेतिक तस्वीर)

तलाशी अभियान के दौरान सैनिकों ने आतंकी को किया ढेर. (सांकेतिक तस्वीर)

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के शोपियां जिले (Shopian district) में सुरक्षा बलों (Security forces) का तलाशी अभियान उस वक्त मुठभेड़ में बदल गया जब आतंकियों ने गोलियां चला दीं. सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया जिसकी अभी तक पहचान नहीं की जा सकी है.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 19, 2020, 9:11 PM IST

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के शोपियां जिले (Shopian district) में सोमवार शाम को हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बलों (Security forces) ने एक आतंकवादी (terrorist) को मार गिराया. पुलिस ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि आतंकी की पहचान की जा रही है.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि आतंकियों की उपस्थिति की सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने जेनापोरा क्षेत्र के मेल्हुरा में घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया था. उन्होंने कहा कि आतंकियों द्वारा सुरक्षा बलों पर की गई गोलीबारी के बाद तलाशी अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया. अन्य विवरण का इंतजार किया जा रहा है.

आतंकी संगठनों की तोड़ दी गई है रीढ़
बीते अगस्त महीने में जम्मू-कश्मीर के  DGP दिलबाग सिंह ने उत्तरी कश्मीर में संवाददाता सम्मेलन में कहा था, ‘पिछले साढ़े सात महीनों में कुल 26 आतंकवादी कमांडर मारे गए, जिसके बाद उनका नेतृत्व ढांचा काफी हद तक टूट चुका है. ये सब अपने संगठन में नंबर एक या नंबर दो थे. सुरक्षा बलों के लिए यह बड़ी सफलता है और इससे लोगों को राहत मिली है.जम्मू-कश्मीर में आतंकी संगठनों के खिलाफ बड़ा अभियान

सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर में आतंकी संगठनों के खिलाफ बड़ा अभियान छेड़ा हुआ है. एक के बाद एक आतंकी कमांडरों के मारे जाने की वजह से तकरीबन सभी बड़े संगठन नेतृत्व विहीन होने की कगार पर पहुंच गए हैं. इस दौरान पुलिस और सुरक्षा बलों की सबसे बड़ी सफलता ये रही कि आम लोगों को इससे सबसे कम नुकसान हुआ है. पुलिस और सुरक्षा बलों ने इस बात का खयाल रखा है कि आतंकी ऑपरेशन्स के दौरान किसी भी आम नागरिक को कोई दिक्कत न पहुंचे. साथ ही सूचना तंत्र को मजबूत कर कोशिश की गई है कि पुलिसकर्मियों को भी कम से कम नुकसान पहुंचे.





Source link

Leave a Comment

Translate »
You cannot copy content of this page