राहुल गांधी, प्रियंका गांधी ने मंदी और महंगाई को लेकर सरकार पर साधा निशाना

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने महंगाई पर सरकार पर कसा तंज.   (फाइल फोटो)

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने महंगाई पर सरकार पर कसा तंज. (फाइल फोटो)

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बिहार में किसानों की ओर से मंडी की मांग किए जाने संबंधी खबर साझा करते हुए ट्वीट किया, देश के किसानों ने मांगी मंडी, लेकिन प्रधानमंत्री ने थमा दी भयानक मंदी.

नई दिल्ली. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा (Rahul Gandhi) ने देश में मंदी (Recession) एवं महंगाई (Inflation) के मुद्दे को लेकर सोमवार को सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि पूंजीपतियों का विकास किया जा रहा है. राहुल गांधी ने बिहार में किसानों की ओर से मंडी की मांग किए जाने संबंधी खबर साझा करते हुए ट्वीट किया, देश के किसानों ने मांगी मंडी, लेकिन प्रधानमंत्री ने थमा दी भयानक मंदी.

उन्होंने जो खबर साझा की उसके मुताबिक, बिहार के किसान पंजाब की तर्ज पर मंडियां चाहते हैं.प्रियंका गांधी ने लखनऊ हवाई अड्डे का प्रबंधन एक निजी समूह को दिए जाने संबंधी खबर साझा करते हुए आरोप लगाया, भाजपा का जनता को दीवाली का गिफ्ट : भयंकर महंगाई, भाजपा का अपने पूंजीपति मित्र को दीवाली गिफ्ट : 6 हवाई अड्डे पूजीपंतियों को, पूंजीपतियों का विकास.

राहुल गांधी पहले भी केंद्र सरकार पर हमला कर चुके हैं. इससे पहले राहुल गांधी ने केंद्र द्वारा लाए गए नए कृषि कानूनों को किसानों, मजदूरों तथा देश की नींव को कमजोर करने वाला बताते हुए भरोसा जताया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन कानूनों पर पुनर्विचार करेंगे. उन्होंने कहा, देश में किसान की हालत के बारे में सभी को जानकारी है.इसे भी पढ़ें :- राहुल का केंद्र सरकार पर हमला, कहा- देश की नींव को कमजोर करने वाले हैं नए कृषि कानून किसानों की आत्महत्या की खबरें मिलती रहती हैं. एक तरह से देश ने स्वीकार कर लिया है कि किसान आत्महत्या करते हैं, लेकिन हमें स्वीकार नहीं करना है. हमें किसान, मजदूर, छोटे दुकानदारों की रक्षा करनी चाहिए. उनके साथ मिलकर खड़ा होना चाहिए, क्योंकि किसान और मजदूर इस देश की नींव हैं. अगर वह कमजोर होंगे तब यह नींव कमजोर होगा.





Source link

Leave a Comment

Translate »
You cannot copy content of this page