RAILWAYMEN PAID TRIBUTES TO DEPARTED LEADER WITH MOIST EYES; LAL SLAAM TO COM. RAKHAL DAS GUPTA

RAILWAYMEN BIDS FAREWELL TO COM. RAKHAL DADA WITH MOIST EYES IN GUWAHATI. COM. SHIVA GOPAL MISHRA reached Guwahati to give final respects. Com. Shiva Gopal Mishra said that India has lost true son of the soil and great trade union leader. He said that Com. Rakhal Da remained always at the forefront in struggles for Working class in general and railwaymen in particular.

Born at village Satgram in Dacca District on 30th December, 1932 to father Sh. Gopal Das Gupta and mother Bagala Bala Das. Com. Rakhal Das suffered many ailments in his childhood but he braved those and didn’t allow ailments to overpower him.

He studied upto class-IV in Satgram Uchha Primary School. The head pandit of the school was Md. Jalil Miah. He was very strict academician. From him Com. Rakhal Das Gupta learned many lessons of life and rose to the lead the world’s largest Federation of workers.

Com. Rakhal Das Gupta worked day and night for Railway staff as President of All India Railway Men’s Federation. Com. Rakhal Das Gupta took his last breathe on 21.12.2020. He left the void in trade union movement which would be difficult to fill.

Lal Salaam to Com. Rakhal Das Gupta!



Source link

संयुक्त राष्ट्र ने 75 वर्ष के इतिहास में द्वितीय विश्व युद्ध के बाद सबसे बड़े संकट का सामना किया



संयुक्त राष्ट्र ने इस साल अपने 75 वर्ष पूरे किये हैं और उसने द्वितीय विश्व युद्ध के बाद दुनिया के सबसे बड़े संकट का सामना किया है तथा कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए वैश्विक कार्रवाई को दिशा दी



Source link

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की चेतावनी, किसानों से धोखेबाजी की तो…




मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में किसानों की खुशहाली को लेकर बेहद गंभीर हैं। इसको लेकर मुख्यमंत्री ने अल्टीमेटम भी दे दिया है।



Source link

Christmas Special: क्रिसमस के मौके पर घर पर बनाएं प्लम केक, ये रही बनाने की आसान रेसिपी



क्रिसमस के मौके पर प्लम केक ज्यादातर घरों में बनता है। सूखे मेवो से भरपूर इस केक को घर पर बनाए वो भी बिना ओवन के। 



Source link

Facebook Have Removed A Blue Tick Verification From Apple Page – नए लेवल पर पहुंची टिम कुक और जुकरबर्ग की लड़ाई, फेसबुक ने एपल के पेज का वेरिफिकेशन हटाया


टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Thu, 24 Dec 2020 12:42 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

एपल की नई प्राइवेसी पॉलिसी के बाद फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग और एपल के सीईओ टिम कुक आमने सामने हैं। एपल के एप स्टोर की नई प्राइवेसी पॉलिसी जहां यूजर्स के लिए बढ़िया बताई जा रही है, वहीं फेसबुक खुलकर इसका विरोध कर रहा है। फेसबुक का कहना है कि एपल की नई पॉलिसी एकतरफा है, जबकि एपल ने फेसबुक के सभी सवालों के जवाब भी दे दिए हैं।

अब फेसबुक ने बड़ा कदम उठाते हुए एपल के फेसबुक पेज का वेरिफिकेशन हटा दिया है, हालांकि अभी तक यह साफ नहीं है कि किस कारण से फेसबुक ने यह फैसला लिया है। फेसबुक पर तमाम बड़ी कंपनियों और ऑर्गेनाइजेशन के फेसबुक पेज ब्लू टिक के साथ वेरिफाइड हैं। एपल का इंस्टाग्राम पेज अभी भी ब्लू टिक के साथ वेरिफाइड है।

क्या है एपल का प्राइवेसी न्यूट्रिशन लेबल?
एपल के नए प्राइवेसी न्यूट्रिशन लेबल के तहत सभी डेवलपर्स को एप स्टोर पर अपने एप पब्लिश करने से पहले ही बताना होगा कि वह कौन-कौन सी सूचनाएं इकट्ठा करेंगे। दूसरे शब्दों में कहें तो एपल के एप स्टोर से किसी एप को डाउनलोड करने से पहले ही आसान भाषा में उस एप की प्राइवेसी पॉलिसी आपको मिल जाएगी जिसमें डाटा कलेक्शन और एक्सेस समेत कई जानकारियां होंगी।

इससे यूजर्स को यह भी पता चल जाएगा कि कोई एप आपके किसी डाटा का क्या कर रहा है और किसी फीचर का एक्सेस क्यों ले रहा है। एपल का यह न्यूट्रिशन लेबल काफी हद तक फूड आइटम के पैकेट पर दिए गए न्यूट्रिशन लेबल की तरह ही है। नई पॉलिसी iOS, iPadOS, macOS, watchOS और tvOS के सभी एप्स पर लागू होगी। नई पॉलिसी एपल के इनहाउस एप्स पर भी लागू होगी।

फेसबुक को है आपत्ति
एपल की नई प्राइवेसी पॉलिसी से फेसबुक के स्वामित्व वाले एप व्हाट्सएप को आपत्ति है। व्हाट्सएप ने नई पॉलिसी की आलोचना करते हुए कहा है कि एपल का नया एप न्यूट्रिशन लेबल पक्षपातपूर्ण है। WhatsApp ने कहा है कि थर्ड पार्टी एप के लिए न्यूट्रिशन लेबल है लेकिन उन एप्स का क्या जो पहले से ही आईफोन में इंस्टॉल मिलते हैं, हालांकि एपल ने साफतौर पर कहा है कि नया नियम थर्ड पार्टी एप और एपल के एप सभी पर लागू होगा।

व्हाट्सएप का यह भी कहना है कि एपल का आईमैसेज एप स्टोर पर नहीं तो फिर एपल इसके साथ न्यूट्रिशन लेबल कैसे लगाएगा। एपल ने व्हाट्सएप के इस सवाल का भी जवाब दिया है और कहा है कि आईमैसेज का न्यूट्रिशन लेबल एपल की साइट पर देखा जा सकेगा।

एपल की नई प्राइवेसी पॉलिसी के बाद फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग और एपल के सीईओ टिम कुक आमने सामने हैं। एपल के एप स्टोर की नई प्राइवेसी पॉलिसी जहां यूजर्स के लिए बढ़िया बताई जा रही है, वहीं फेसबुक खुलकर इसका विरोध कर रहा है। फेसबुक का कहना है कि एपल की नई पॉलिसी एकतरफा है, जबकि एपल ने फेसबुक के सभी सवालों के जवाब भी दे दिए हैं।

अब फेसबुक ने बड़ा कदम उठाते हुए एपल के फेसबुक पेज का वेरिफिकेशन हटा दिया है, हालांकि अभी तक यह साफ नहीं है कि किस कारण से फेसबुक ने यह फैसला लिया है। फेसबुक पर तमाम बड़ी कंपनियों और ऑर्गेनाइजेशन के फेसबुक पेज ब्लू टिक के साथ वेरिफाइड हैं। एपल का इंस्टाग्राम पेज अभी भी ब्लू टिक के साथ वेरिफाइड है।

क्या है एपल का प्राइवेसी न्यूट्रिशन लेबल?

एपल के नए प्राइवेसी न्यूट्रिशन लेबल के तहत सभी डेवलपर्स को एप स्टोर पर अपने एप पब्लिश करने से पहले ही बताना होगा कि वह कौन-कौन सी सूचनाएं इकट्ठा करेंगे। दूसरे शब्दों में कहें तो एपल के एप स्टोर से किसी एप को डाउनलोड करने से पहले ही आसान भाषा में उस एप की प्राइवेसी पॉलिसी आपको मिल जाएगी जिसमें डाटा कलेक्शन और एक्सेस समेत कई जानकारियां होंगी।

इससे यूजर्स को यह भी पता चल जाएगा कि कोई एप आपके किसी डाटा का क्या कर रहा है और किसी फीचर का एक्सेस क्यों ले रहा है। एपल का यह न्यूट्रिशन लेबल काफी हद तक फूड आइटम के पैकेट पर दिए गए न्यूट्रिशन लेबल की तरह ही है। नई पॉलिसी iOS, iPadOS, macOS, watchOS और tvOS के सभी एप्स पर लागू होगी। नई पॉलिसी एपल के इनहाउस एप्स पर भी लागू होगी।

फेसबुक को है आपत्ति
एपल की नई प्राइवेसी पॉलिसी से फेसबुक के स्वामित्व वाले एप व्हाट्सएप को आपत्ति है। व्हाट्सएप ने नई पॉलिसी की आलोचना करते हुए कहा है कि एपल का नया एप न्यूट्रिशन लेबल पक्षपातपूर्ण है। WhatsApp ने कहा है कि थर्ड पार्टी एप के लिए न्यूट्रिशन लेबल है लेकिन उन एप्स का क्या जो पहले से ही आईफोन में इंस्टॉल मिलते हैं, हालांकि एपल ने साफतौर पर कहा है कि नया नियम थर्ड पार्टी एप और एपल के एप सभी पर लागू होगा।

व्हाट्सएप का यह भी कहना है कि एपल का आईमैसेज एप स्टोर पर नहीं तो फिर एपल इसके साथ न्यूट्रिशन लेबल कैसे लगाएगा। एपल ने व्हाट्सएप के इस सवाल का भी जवाब दिया है और कहा है कि आईमैसेज का न्यूट्रिशन लेबल एपल की साइट पर देखा जा सकेगा।



Source link

China Suspends UK Flights Over Mutant Coronavirus Strain


China Suspends UK Flights Over Mutant Coronavirus Strain

China has already imposed strict entry requirements to curb the spread of the coronavirus.

Beijing, China:

China on Thursday suspended flights to and from Britain after it reported a new, more infectious strain of the coronavirus.

China has largely curbed the spread of Covid-19 within its borders, but authorities remain highly vigilant about the threat of “imported” virus cases.

“Given the exceptional nature of the virus mutation and its potential impact … China has suspended flights between China and the UK after full assessment,” foreign ministry spokesman Wang Wenbin said at a routine briefing.

As fears rose over the new virus strain, Ireland, Italy, Germany, the Netherlands and Belgium halted UK flights earlier this week.

Turkey and Canada have also banned incoming flights from Britain indefinitely.

Newsbeep

China has already imposed strict entry requirements to curb the spread of the coronavirus and last month banned foreign arrivals from a number of countries including Britain, Belgium, India and the Philippines.

International carriers are largely limited to one flight per week per foreign city. The new flight ban will prevent Chinese nationals based in Britain from returning to China.
 

(Except for the headline, this story has not been edited by NDTV staff and is published from a syndicated feed.)



Source link

Woman Return Delhi From Britain Ran Away To Vijaywada Suspected Of New Strain Of Covid 19 Sample Send For Testing – ब्रिटेन से लौटी महिला दिल्ली से भागी, विजयवाड़ा में मिली, कोरोना के स्ट्रेन से हो सकती है संक्रमित


अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली
Updated Thu, 24 Dec 2020 12:58 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ब्रिटेन से भारत लौटी महिला के दिल्ली से भाग जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग समेत तमाम सरकारी हल्कों में हड़कंप मच गया। कोरोना के नए स्ट्रेन का खौफ इतना रहा कि पूरे देश में अलर्ट जारी कर दिया गया।

इन सबके बीच रेलवे से लेकर तमाम यातायात विभाग को इसकी सूचना दी गई। काफी तलाश करने के बाद महिला विजयवाड़ा स्थित अपने घर पर मिली,  महिला ट्रेन पकड़कर दिल्ली से विजयवाड़ा पहुंच गई थी।

स्वास्थ्य विभाग इस महिला को कोरोना संक्रमित होने के साथ ही नए स्ट्रेन की संदिग्ध भी मान रहा है। महिला के सैंपल टेस्ट के  लिए भेज दिए गए हैं। इसके बाद ही यह पता चल सकेगा कि इस महिला में ब्रिटेन में पाए गए घातक कोरोना स्ट्रेन हैं या नहीं।

ब्रिटेन से भारत लौटी महिला के दिल्ली से भाग जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग समेत तमाम सरकारी हल्कों में हड़कंप मच गया। कोरोना के नए स्ट्रेन का खौफ इतना रहा कि पूरे देश में अलर्ट जारी कर दिया गया।

इन सबके बीच रेलवे से लेकर तमाम यातायात विभाग को इसकी सूचना दी गई। काफी तलाश करने के बाद महिला विजयवाड़ा स्थित अपने घर पर मिली,  महिला ट्रेन पकड़कर दिल्ली से विजयवाड़ा पहुंच गई थी।

स्वास्थ्य विभाग इस महिला को कोरोना संक्रमित होने के साथ ही नए स्ट्रेन की संदिग्ध भी मान रहा है। महिला के सैंपल टेस्ट के  लिए भेज दिए गए हैं। इसके बाद ही यह पता चल सकेगा कि इस महिला में ब्रिटेन में पाए गए घातक कोरोना स्ट्रेन हैं या नहीं।



Source link

Australian Cricket Coach Justin Langer Happy With Stressed Indian Team Before Boxing Day Test – ऑस्ट्रेलियाई कोच ने फिर टीम इंडिया के जख्मों को कुरेदा, मेलबर्न टेस्ट से पहले याद दिलाई एडिलेड की पारी

जस्टिस लैंगर


स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, मेलबर्न
Updated Thu, 24 Dec 2020 12:13 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

बॉक्सिंग डे टेस्ट से पहले ऑस्ट्रेलिया की तरफ से माइंड गेम जारी है, टीम के खिलाड़ी लगातार भारतीय टीम के पहले टेस्ट के प्रदर्शन का जिक्र कर मेहमान टीम पर मनोवैज्ञानिक दबाव बढ़ाने में जुटे हुए हैं। इसी कड़ी में ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर ने कहा कि एडीलेड टेस्ट में 36 रन पर सिमटी भारतीय टीम से उन्हें सहानुभूति है लेकिन उन्हें खुशी है कि 26 दिसंबर से शुरू हो रहे बॉक्सिंग डे टेस्ट से पहले मेहमान टीम दबाव में है।

गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 36 रन के उसके न्यूनतम टेस्ट स्कोर पर समेटकर पहला टेस्ट ढाई दिन में ही जीत लिया था। लैंगर ने कहा कि उनकी टीम विराट कोहली की गैरमौजूदगी का फायदा उठाना चाहेगी जिससे नए कप्तान अजिंक्य रहाणे पर दबाव बनेगा।

यह पूछने पर कि अगर वह भारतीय कोच रवि शास्त्री की जगह होते तो क्या करते, उन्होंने कहा, ‘मुझे इससे कोई सरोकार नहीं। मैं खुद काफी तनाव झेल चुका हूं। मेरी विरोधी टीम से सहानुभूति है और मुझे पता है कि उन्हें कैसा लग रहा होगा। भारतीय टीम अगर दबाव में है तो मैं खुश हूं क्योंकि क्रिसमस के इस सप्ताहांत पर हम दबाव में नहीं हैं।’ उन्होंने स्वीकार किया कि कोहली और मोहम्मद शमी की कमी भारतीय टीम को खलेगी लेकिन उनका फोकस अपनी टीम की रणनीति पर रहेगा।

लैंगर ने कहा, ‘आप कोई भी खेल खेलें लेकिन दो स्टार खिलाड़ी अगर बाहर हैं तो टीम को कमी तो खलती ही है। विराट कोहली महान खिलाड़ियों में से है और शमी काफी प्रतिभाशाली है। उनके नहीं होने से हमें फायदा मिलेगा।’ उन्होंने कहा, ‘हमें पहले ही दिन से दबाव बनाना होगा क्योंकि रहाणे नया कप्तान है। किसी भी टीम के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के नहीं रहने से टीम कमजोर हो जाती है और यही सच्चाई है।’

उधर टीम के स्टार सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर के दूसरे टेस्ट से भी बाहर रहने पर लैंगर ने कहा, ‘मैं उम्मीद करता हूं कि वह खेलेगा। पिछले तीन सप्ताह से वह वापसी के लिए काफी मेहनत कर रहा है।’

टिम पेन की बल्लेबाजी को लेकर भी चर्चा हो रही है क्योंकि ऑस्ट्रेलियाई हर विकेटकीपर बल्लेबाज की एडम गिलक्रिस्ट से तुलना करते हैं लेकिन कोच ने उन पर पूरा भरोसा जताया। उन्होंने कहा, ‘गिलक्रिस्ट महानतम खिलाड़ियों मे से हैं क्योंकि उन्होंने खेल को बदल दिया। लेकिन मुझे टिम पेन पर पूरा भरोसा है। चाहे विकेटकीपिंग हो, कप्तानी या बल्लेबाजी।’

बॉक्सिंग डे टेस्ट से पहले ऑस्ट्रेलिया की तरफ से माइंड गेम जारी है, टीम के खिलाड़ी लगातार भारतीय टीम के पहले टेस्ट के प्रदर्शन का जिक्र कर मेहमान टीम पर मनोवैज्ञानिक दबाव बढ़ाने में जुटे हुए हैं। इसी कड़ी में ऑस्ट्रेलिया के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर ने कहा कि एडीलेड टेस्ट में 36 रन पर सिमटी भारतीय टीम से उन्हें सहानुभूति है लेकिन उन्हें खुशी है कि 26 दिसंबर से शुरू हो रहे बॉक्सिंग डे टेस्ट से पहले मेहमान टीम दबाव में है।

गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 36 रन के उसके न्यूनतम टेस्ट स्कोर पर समेटकर पहला टेस्ट ढाई दिन में ही जीत लिया था। लैंगर ने कहा कि उनकी टीम विराट कोहली की गैरमौजूदगी का फायदा उठाना चाहेगी जिससे नए कप्तान अजिंक्य रहाणे पर दबाव बनेगा।

यह पूछने पर कि अगर वह भारतीय कोच रवि शास्त्री की जगह होते तो क्या करते, उन्होंने कहा, ‘मुझे इससे कोई सरोकार नहीं। मैं खुद काफी तनाव झेल चुका हूं। मेरी विरोधी टीम से सहानुभूति है और मुझे पता है कि उन्हें कैसा लग रहा होगा। भारतीय टीम अगर दबाव में है तो मैं खुश हूं क्योंकि क्रिसमस के इस सप्ताहांत पर हम दबाव में नहीं हैं।’ उन्होंने स्वीकार किया कि कोहली और मोहम्मद शमी की कमी भारतीय टीम को खलेगी लेकिन उनका फोकस अपनी टीम की रणनीति पर रहेगा।

लैंगर ने कहा, ‘आप कोई भी खेल खेलें लेकिन दो स्टार खिलाड़ी अगर बाहर हैं तो टीम को कमी तो खलती ही है। विराट कोहली महान खिलाड़ियों में से है और शमी काफी प्रतिभाशाली है। उनके नहीं होने से हमें फायदा मिलेगा।’ उन्होंने कहा, ‘हमें पहले ही दिन से दबाव बनाना होगा क्योंकि रहाणे नया कप्तान है। किसी भी टीम के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के नहीं रहने से टीम कमजोर हो जाती है और यही सच्चाई है।’

उधर टीम के स्टार सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर के दूसरे टेस्ट से भी बाहर रहने पर लैंगर ने कहा, ‘मैं उम्मीद करता हूं कि वह खेलेगा। पिछले तीन सप्ताह से वह वापसी के लिए काफी मेहनत कर रहा है।’

टिम पेन की बल्लेबाजी को लेकर भी चर्चा हो रही है क्योंकि ऑस्ट्रेलियाई हर विकेटकीपर बल्लेबाज की एडम गिलक्रिस्ट से तुलना करते हैं लेकिन कोच ने उन पर पूरा भरोसा जताया। उन्होंने कहा, ‘गिलक्रिस्ट महानतम खिलाड़ियों मे से हैं क्योंकि उन्होंने खेल को बदल दिया। लेकिन मुझे टिम पेन पर पूरा भरोसा है। चाहे विकेटकीपिंग हो, कप्तानी या बल्लेबाजी।’



Source link

एसिडिटी को दूर करती है ये आयुर्वेदिक औषधि, आज ही जान लें नाम


अडूसा (Malabar Nut) को आमतौर पर मालाबार नट और वासाका के रूप में जाना जाता है. यह औषधीय पौधा (Medicinal Plant) एशिया में बड़े स्तर पर उगाया जाता है और इसका उपयोग आयुर्वेद, होम्योपैथी, सिद्धा और यूनानी चिकित्सा पद्धतियों द्वारा किया जाता है. सदियों से इस छोटे-से पौधे का इस्तेमाल दवा बनाने के लिए किया जा रहा है. हालांकि, इसकी पत्तियां सबसे शक्तिशाली हैं, लेकिन जड़ सहित पूरे पौधे का उपयोग अनगिनत बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है. myUpchar के अनुसार, अडूसा के पत्ते, फूल, जड़ों और छाल का आयुर्वेद में हजारों साल से इस्तेमाल होता आया है. इसमें जीवाणुरोधी, सूजन को कम करने वाले और खून को शुद्ध करने वाले गुण होते हैं. अडूसा आमतौर पर अस्थमा, सर्दी और खांसी जैसी सांस से संबंधित समस्याओं को दूर के लिए उपयोग किया जाता है, लेकिन इस औषधि का इस्तेमाल कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर करने में भी किया जाता है.

सर्दी-खांसी में राहत

यदि किसी को सर्दी-खांसी है तो ऐसे में अडूसा उसके लिए बेहद फायदेमंद हो सकता है. इसके पौधे के 7-8 पत्तों को पानी में उबालें और फिर इसे छानकर उसमें शहद मिलाकर पी लें.वायरस संक्रमण का इलाज

अडूसा में एंटीवायरल औषधीय गुण होते हैं जो वायरल संक्रमण के खिलाफ प्रभावी हैं. यह शरीर का तापमान कम करता है, बंद वाक को खोलता है जो कि सांस लेने में परेशानी पैदा कर सकता है और रिकवरी की प्रक्रिया को तेज कर सकता है.

एसिडिटी को करे दूर

myUpchar के अनुसार, एसिडिटी या पेट में जलन महसूस होना एक सामान्य समस्या है. पेट के अम्लीय पदार्थों का खाने की नली में आ जाना एसिडिटी का मुख्य कारण है. ऐसे में अडूसा फायदेमंद हो सकता है, यह पेट में एसिड के गठन को कम करता है. इस्तेमाल के लिए अडूसा का पाउडर, मुलेठी पाउडर और आंवला पाउडर को बराबर मात्रा में लेकर मिक्स कर लें और रोजाना इसका सेवन करें.

ब्रोंकाइटिस के लिए उपचार

myUpchar के अनुसार, ब्रोंकाइटिस में ब्रोन्कियल ट्यूब्स यानी श्वास नलियों या मुंह, नाक और फेफड़ों के बीच के वायु नली में सूजन आ जाती है. इस स्थिति में खांसी आती है, जिसके साथ बलगम भी आता है. इस बीमारी से सीने में जकड़न, हल्का बुखार, सांस की तकलीफ और घरघराहट को सकती है. अडूसा का सेवन करने से इन वायु मार्गों को खोलने में मदद मिलती है. साथ ही यह सांस की तकलीफ, खांसी और बेचैनी को भी खत्म करता है.

गले में खराश से राहत

मौसम में बदलाव होने पर ठंड और फ्लू के कारण अक्सर गले में खराश हो जाती है. साथ ही गले में खराश के साथ दर्द, जलन और खुजली-भी महसूस होती है. अडूसा में मौजूद एंटीवायरल, एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल कम्पाउंड गले में खराश से राहत देने में मदद करते हैं.

जोड़ों का दर्द

जोड़ों का दर्द रोजमर्रा की गतिविधियों में रूकावट पैदा कर सकता है. कई बार यह समस्या यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने की वजह से होता है. अडूसा यूरिक एसिड के स्तर को कम करने में मदद करता है और दर्द से राहत देता है. इस जड़ी बूटी के एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण जोड़ों की सूजन को कम करने में मदद करते हैं. अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, अडूसा के फायदे और नुकसान पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.





Source link

Xiaomi Mi 11 के लॉन्च से पहले कीमत हुई लीक, जानें इस धांसू फोन का कितना होगा प्राइज


Xiaomi Mi 11 28 दिसंबर को होगा लॉन्च

Xiaomi Mi 11 28 दिसंबर को होगा लॉन्च

Xiaomi Mi 11 की कीमतें लॉन्च से पहले ऑनलाइन लीक हो गई हैं. लीक से पता चलता है कि आने वाले शाओमी के फ्लैगशिप स्मार्टफोन की कीमत Mi 10 से ज्यादा होगी.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 24, 2020, 1:40 PM IST

Xiaomi Mi 11 की कीमतें लॉन्च से पहले ऑनलाइन लीक हो गई हैं. लीक से पता चलता है कि आने वाले शाओमी के फ्लैगशिप स्मार्टफोन की कीमत Mi 10 से ज्यादा होगी. इससे पहले एक ऑनलाइन लीक हुए वीडियों से इसके लुक व डिजाइन की जानकारी मिली थी. बता दें कि शाओमी मी 11 चीनी मार्केट में अगले हफ्ते लॉन्च किया जाएगा. माना जा रहा है कि इसके साथ Mi 11 Pro को भी लॉन्च किया जाएगा, जिसकी कीमत और ज्यादा महंगी हो सकती है. Xiaomi ने मी 11 लॉन्च के लिए चीन में 28 दिसंबर को लॉन्च इवेंट का आयोजन किया है. Mi 10 को चीन में फरवरी में जबकि भारत में मई में लॉन्च किया गया था.

इतनी हो सकती है कीमत
Xiaomi Mi 11 की कीमत माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट वीबो पर लीक हुई है और इसे द फोन टॉक्स ने स्पॉट किया है. जानकारी के मुताबिक इस फोन के 8GB + 128GB वेरिएंट की कीमत CNY 4,500 (लगभग 50,700 रुपये), 8GB + 256GB वेरिएंट की कीमत CNY 4,800 (लगभग 54,000 रुपये) और टॉप 12GB + 256GB वेरिएंट की कीमत CNY 5,200 (लगभग 58,600 रुपये) होगी.

इस महीने की शुरुआत में एक अन्य वीबो पोस्ट में संकेत मिला था कि मी 11 की कीमत CNY 3,999 और 4,999 के बीच होगी. वहीं, दूसरी ओर मी 11 प्रो की कीमत CNY 5,299 और 5,499 के बीच होगी.ये भी पढ़ें : Breathe Easy ने लॉन्च किया देश का पहला सेल्फ-सैनिटाइजिंग फेस मास्क Karbon, 95% तक वायरस को मारने में है सक्षम

Xiaomi Mi 10
Mi 10 की बात करें तो चीन में इसके बेस मॉडल 8GB + 128GB वेरिएंट को CNY 3,999 (लगभग 45,000 रुपये) में लॉन्च किया गया था. हालांकि, शाओमी ने आधिकारिक तौर पर इसकी कीमत का खुलासा नहीं किया है. Mi 10 की भारत में कीमत की बात करें तो फोन के 128GB स्टोरेज वेरियंट की कीमत 49,999 रुपये और 256GB स्टोरेज वेरियंट की कीमत 54,999 रुपये है.

शाओमी एमआई 10 5जी स्मार्टफोन में 6.67 इंच का फुल एचडी प्लस डिस्प्ले है, जिसका रिजॉल्यूशन 1,080 x 2,340 पिक्सल है. साथ ही इस स्मार्टफोन में क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 865 प्रोसेसर का सपोर्ट दिया गया है. वहीं, यह स्मार्टफोन एंड्रॉयड 10 पर आधारित एमआईयूआई 11 ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करता है.





Source link

लकी फोन नंबर पाने के लिए शख्स ने खर्च कर दी 2 करोड़ से ज्यादा की रकम, जानिए क्या है खास



खबरों के मुताबिक, इस लकी नंबर के अंत में पांच बार 8 है। चीन की भाषा Mandarin में आठ संख्या ‘समृद्धि’ से मिलती जुलती सुनाई देती है।



Source link

लॉकडाउन में लोगों की मदद करने वाले टॉप-10 सांसदों में तीसरे नंबर पर राहुल गांधी, देखें LIST


किसान आंदोलन को लेकर राजनीति भी अपने चरम पर है. गुरुवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 2 करोड़ लोगों के हस्ताक्षर समेत ज्ञापन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सौंपा.. (File pic)

किसान आंदोलन को लेकर राजनीति भी अपने चरम पर है. गुरुवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 2 करोड़ लोगों के हस्ताक्षर समेत ज्ञापन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सौंपा.. (File pic)

यह सर्वे नई दिल्‍ली के सिटिजन इंगेजमेंट प्‍लेटफॉर्म गवर्नआई सिस्‍टम ने कराया है. इस सूची में दसवें स्‍थान पर बीजेपी सांसद नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) भी शामिल हैं.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 24, 2020, 2:19 PM IST

नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) रोकने के लिए देश भर में मार्च के अंत में लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था. ऐसे में कई सांसद और अन्‍य लोग जनता की मदद के लिए आगे आए थे. अब एक सर्वे में दावा किया गया है कि लॉकडाउन के दौरान अपने संसदीय क्षेत्रों में लोगों की मदद करने वाले टॉप 10 सांसदों में कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) भी शामिल हैं. उन्‍हें इस सूची में तीसरा स्‍थान मिला है.

यह सर्वे नई दिल्‍ली के सिटिजन इंगेजमेंट प्‍लेटफॉर्म गवर्नआई सिस्‍टम ने कराया है. इसके अनुसार जनता की मदद करने वाले टॉप 10 सांसदों में पहले स्‍थान पर उज्‍जैन से बीजेपी के सांसद अनिल फिरोजिया हैं. दूसरे स्‍थान पर नेल्‍लोर से वाईएसआरसीपी के सांसद अदाला प्रभाकर रेड्डी हैं. तीसरे स्‍थान पर वायनाड से कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी हैं.

सूची में चौथे स्‍थान पर टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा हैं. पांचवें स्‍थान पर बीजेपी के सांसद एलएस तेजस्‍वी सूर्या हैं. वहीं छठे स्‍थान पर शिवसेना के सांसद हेमंत तुकाराम गोडसे हैं. सूची में सातवें स्‍थान पर शिरोमणि अकाली दल के सांसद सुखबीर सिंह बादल हैं. आठवें स्‍थान पर बीजेपी के शंकर लालवानी हैं. नौवें स्‍थान पर द्रमुक के सांसद डॉ. टी सुमाथी हैं. दसवें स्‍थान पर बीजेपी सांसद नितिन गडकरी हैं.सर्वे करने वाली गवर्नआई ने जानकारी दी है कि सर्वे के दौरान 512 लोकसभा सांसदों के लिए 33.82 लाख से अधिक नॉमिनेशन मिले थे. इनमें से पहले 25 को चुना गया. इसके बाद टीम की ओर से ग्राउंड सर्वे करवाया गया. सर्वे के सीनियर प्रोजेक्‍ट लीडर मंजुनाथ केरी ने जानकारी दी है कि ग्राउंड सर्वे के दौरान कई संसदीय क्षेत्रों में नेताओं की ओर से निस्‍वार्थ सेवा करने की भी बातें सुनने को मिली हैं. लेकिन इन्‍हें सर्वे में शामिल नहीं किया गया है.

मंजूनाथ का कहना है, ‘हमें बहुत से नेताओं के बारे में नकारात्‍मक बातें सुनने को मिलती हैं. लेकिन जब इस तरह का सेवाभाव किया जा रहा हो तो उसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.’





Source link

West Bengal 2021 Board Exam Dates Class 10, 12 Board 2021 Exams To Be Held In June WB Education Minister



West Bengal class 10 and 12 board exam: Even as some regions are still wary of the Covid-19 situation in the country and discussing about the dates of board examinations,  the West Bengal government has gone ahead and declared the dates of class 10 and 12 board exam. The West Bengal Board exams will be held in the month of June. However, exams are usually held between February and March every year. Like all other exams, the board exams have been a delayed due to the Covid-19 outbreak. Also Read: CMAT 2021 Online Application Form Released – Check Direct Link, Steps To Apply

“The class 10 (Madhyamik) exams will be held first and the class 12 (Ucchya Madhyamik) examinations after that,” West Bengal Education Minister Partha Chatterjee said, as per news agency PTI.

“We have accepted the recommendations of the West Bengal Board of Secondary Education and the West Bengal Council of Higher Education Education on holding the exams on later dates in view of the pandemic situation,” Chatterjee said. “If the situation changes, the board and council will take decisions accordingly,” he added.

CBSE Board exams

On the other hand,in an important announcement made this week, Union Education Minister Dr. Ramesh Pokhriyal said that no CBSE board exams will take place before February 2021. A decision over the same will be taken later.

The Central Board of Secondary Education (CBSE) has not released the dates of the practical or theory exams yet but has confirmed that the theory exams will be conducted in the written mode this year, despite the pandemic.

Dr. Pokhriyal held a live interaction with teachers on Tuesday to discuss their queries about the upcoming board exams. He also interacted with students regarding entrance exams and online classes earlier.

Due to the Covid-19 pandemic, schools across the country were closed since March and some states reopened schools from October 15.  The board exams were also postponed mid-way in March and students were marked on the basis of an alternative assessment scheme to pass the examination.

However, once again because of resurgence of coronavirus cases several states decided to shut schools.

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI



Source link

Ind vs Aus : सचिन तेंदुलकर ने बताया, किस कमी के कारण लगातार बोल्ड हो रहे हैं पृथ्वी शॉ



सचिन का मानना है कि इस तरह के प्रदर्शन से बाहर निकलना आसान नहीं है क्योंकि इस तरह के प्रदर्शन खिलाड़ी के साथ हमेशा से रहते हैं।



Source link

Anil Kapoor Cuts 64th Birthday Cake With Wife And Actors Kiara Advani And Varun Dhawan (See Pics)


Anil Kapoor turns 64 today.

Highlights

  • Anil Kapoor celebrates his 64th birthday today
  • He is currently in Chandigarh for a shoot and was joined by wife Sunita
  • He had a midnight celebration with a decadent chocolate cake

Anil Kapoor turned 64 today and here goes another year when the actor has proved that age is just a number! The fitness enthusiast, who is currently shooting for his next movie Jug Jug Jeeyo with actor Kiara Advani and Varun Dhawan in Chandigarh, was joined by his wife Sunita Kapoor for the special day. The cast and crew then celebrated the actor’s birthday by cutting a decadent chocolate cake at midnight! Pictures and videos of the celebration have been doing the rounds on social media with Kiara also sharing the video on her Instagram stories.

pp9u3n8g

Look at the adorable video posted by Manav Manglani on Instagram:

Influencer-turned-actor Prajakta Koli also took to Instagram to share a lovely picture from the celebration with the cake and the birthday boy along with Varun Dhawan and Kiara Advani. “Happy Birthday Anil Kapoor sir!!” she wrote in the caption.

The decadent chocolate cake looks all things yummy with bots of white cream on top and colourful biscuit-like chips all around.

His film director Raj Mehta also took to Instagram to wish the ‘ageless wonder’ a very happy birthday. He posted the actor’s picture with the cake and wrote “The artist extraordinaire. The ageless wonder. Was, and will always be a fan! Happy 25th Birthday sir!!”

Anil Kapoor’s daughters Sonam and Rhea are currently in London and Goa, respectively, and couldn’t be with their father for the day, yet made it a special one by posting heartfelt wishes on Instagram.

Anil Kapoor’s latest film AK vs AK is releasing today on an OTT platform. Directed by Vikramaditya Motwane, the film also stars Anurag Kashyap.

Here’s wishing the star a very happy birthday!

About Aanchal MathurAanchal doesn’t share food. A cake in her vicinity is sure to disappear in a record time of 10 seconds. Besides loading up on sugar, she loves bingeing on FRIENDS with a plate of momos. Most likely to find her soulmate on a food app.





Source link

Airtel again pips Jio in mobile customer addition in Oct, country’s telecom base rises to 1.17 bn | नए ग्राहक जोड़ने में भारती एयरटेल ने रिलायंस जियो को लगातार दूसरे महीने पछाड़ा, 36.7 लाख नए ग्राहक जुड़े


  • Hindi News
  • Business
  • Airtel Again Pips Jio In Mobile Customer Addition In Oct, Country’s Telecom Base Rises To 1.17 Bn

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

वायरलाइन सेगमेंट में अक्टूबर में रिलायंस जियो से सबसे ज्यादा 2,45,912 ग्राहक जुड़े हैं।

  • अक्टूबर 2020 में भारती एयरटेल के ग्राहकों की संख्या 33 करोड़ के पार पहुंची
  • 22.2 लाख नए ग्राहकों के साथ रिलायंस जियो के पास 40.63 करोड़ सब्सक्राइबर

भारती एयरटेल ने नए ग्राहक जोड़ने के मामले में रिलायंस जियो को अक्टूबर में लगातार दूसरे महीने में पछाड़ा है। टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) के ताजा डाटा के मुताबिक, अक्टूबर में 36.7 लाख नए ग्राहक भारती एयरटेल से जुड़े हैं। इसके साथ भारती एयरटेल के वायरलेस ग्राहकों की संख्या बढ़कर 33.02 करोड़ पर पहुंच गई है।

रिलायंस जियो से 22.2 लाख ग्राहक जुड़े

TRAI के डाटा के मुताबिक, अक्टूबर में रिलायंस जियो से 22.2 लाख नए मोबाइल ग्राहक जुड़े हैं। इसके साथ रिलायंस जियो के कुल सब्सक्राइबर की संख्या बढ़कर 40.63 करोड़ हो गई है। अक्टूबर में 26.5 लाख ग्राहकों ने वोडाफोन आइडिया लिमिटेड का साथ छोड़ा है। इसके साथ कंपनी के कुल सब्सक्राइबर की संख्या घटकर 29.28 करोड़ रह गई हैं। वहीं, सरकारी कंपनी BSNL को 10,208, MTNL को 7307 और रिलायंस कम्युनिकेशन को 1488 ग्राहकों का नुकसान हुआ है।

ओवरऑल टेलीकॉम सब्सक्राइबर में हुआ इजाफा

अक्टूबर 2020 में देश में ओवरऑल टेलीकॉम सब्सक्राइबर बेस में इजाफा हुआ है और इनकी संख्या बढ़कर 117.18 करोड़ हो गई है। सितंबर में कुल टेलीकॉम सब्सक्राइबर 116.86 करोड़ थे। कुल वायरलेस सब्सक्राइबर की संख्या 114.85 करोड़ से बढ़कर 115.18 करोड़ हो गई है। हालांकि, अक्टूबर महीने में वायरलाइन वाले सब्सक्राइबर की संख्या घटकर 1.99 करोड़ रह गई है। सितंबर में इनकी संख्या 2 करोड़ से ज्यादा थी।

वायरलाइन सेगमेंट में जियो से 2.45 लाख ग्राहक जुड़े

वायरलाइन सेगमेंट में अक्टूबर में रिलायंस जियो से सबसे ज्यादा 2,45,912 ग्राहक जुड़े हैं। इसके बाद भारती एयरटेल से 48,397 ग्राहक जुड़े हैं। वोडाफोन इंडिया लिमिटेड से 9400 और क्वाडरांट से 5198 ग्राहक जुड़े हैं। BSNL के 1,76,408 वायरलाइन ग्राहकों ने कंपनी का साथ छोड़ा है। वहीं, दिवालिया प्रक्रिया का सामना कर रही रिलायंस कम्युनिकेशन से 1,60,470 ग्राहक अलग हुए हैं। 34,311 ग्राहकों ने टाटा टेलीसर्विसेज और 24,807 ग्राहकों ने MTNL का साथ छोड़ा है।

ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर बेस में भी बढ़ोतरी

अक्टूबर महीने में देश में ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर बेस में 1.7% की बढ़ोतरी हुई है। अब देश में 73.48 करोड़ ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर हैं। इसमें वायरलेस सब्सक्राइबर की संख्या 97% है। मोबाइल आधारित ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर की संख्या 1.15% की ग्रोथ के साथ 71.26 करोड़ हो गई है। अक्टूबर में ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर में टॉप-5 सर्विस प्रोवाइडर्स की 98.85% बाजार हिस्सेदारी रही है। इसमें रिलायंस जियो, भारती एयरटेल, वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड, BSNL और अटरिया कन्वर्जेंस शामिल हैं।



Source link

Northern Ireland Confirms Positive Case Of COVID-19 Variant


Northern Ireland Confirms Positive Case Of COVID-19 Variant

Northern Ireland announced that nearly everyone would be subjected to highest level of restrictions.

Northern Ireland on Wednesday confirmed a positive test for the highly infectious variant of the coronavirus that has emerged in Britain.

Northern Ireland’s Department of Health said in a statement that the variant is likely to have been present in the British-run region for a period of time.

There was no evidence to suggest the variant causes more serious illness or a higher mortality rate or that it affects vaccines and treatments, it added.

The new variant of the pandemic SARS-CoV-2 coronavirus is spreading rapidly in Britain and prompting high levels of concern among its European neighbours, some of which have cut transport links.

Newsbeep

“While virus mutation is not uncommon, the potential of this new strain to spread rapidly is cause for serious concern,” Northern Ireland’s Chief Medical Officer said in the statement.

Last week, Northern Ireland, part of the United Kingdom, announced that nearly everyone would be subjected to the highest level of restrictions after Christmas as it enters a six-week lockdown in a bid to contain a surge in COVID-19 cases.

(This story has not been edited by NDTV staff and is auto-generated from a syndicated feed.)



Source link

Kisan Andolan News: Priyanka Gandhi Arrested And Rahul Gandhilive Updates Congress Leader Rahul Gandhi Demonstration From Vijay Chowk To Rashtrapati Bhawan With Party Mps – Kisan Andolan: कांग्रेस का मार्च रोका, प्रियंका व अन्य नेताओं को हिरासत में लेकर छोड़ा, राहुल बोले-संयुक्त सत्र बुलाकर वापस लें कृषि कानून


कृषि कानूनों के विरोध और किसानों के समर्थन में आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी दिल्ली के विजय चौक से लेकर राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकालने वाले थे, लेकिन इसके पहले ही पुलिस ने प्रियंका गांधी वाड्रा समेत कई कांग्रेस नेताओं को हिरासत में ले लिया। दिल्ली पुलिस ने उन्हें मार्च निकालने की अनुमति नहीं दी थी। हालांकि कुछ देर बाद उन्हें रिहा कर दिया गया। उधर, कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में तीन नेताओं ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को ज्ञापन सौंपा और संसद का संयुक्त सत्र बुलाकर कृषि कानूनों का वापस लेने की मांग की। राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद मीडिया से चर्चा में राहुल गांधी ने केंद्र सरकार व पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। 

‘चीन ने भारत की जमीन पर कब्जा किया’

राहुल ने कहा, चीन अभी भी भारत की सीमा पर है। चीन ने हजारों किलोमीटर की जमीन पर कब्जा कर लिया है। इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी क्यों नहीं बोलते हैं, वो चुप क्यों हैं?

‘भारत में लोकतंत्र नहीं ‘
राहुल गांधी ने कहा कि देश में कोई लोकतंत्र नहीं है, ये सिर्फ कल्पना में हो सकता है लेकिन वास्तव में नहीं है। नेताओं को हिरासत में लेना इस सरकार के कार्यकाल में सामान्य बात है। 

पूंजीपतियों के लिए पैसा बना रहे पीएम मोदी – राहुल
राहुल गांधी ने कहा कि आपके पास एक अक्षम शख्स है, जो कुछ भी नहीं समझता और सिस्टम को उन तीन-चार लोगों के पक्ष में चला रहा है, जो सब समझते हैं। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया कि पीएम मोदी पूंजीपतियों के लिए पैसा बना रहे हैं। जो भी उनके खिलाफ खड़ा होगा, उसे आतंकवादी बताया जाएगा, चाहे वो किसान हो, मजदूर हो या मोहन भागवत हों।

संयुक्त सत्र बुलाया जाए – राहुल
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा,  मैं प्रधानमंत्री को बताना चाहता हूं कि ये किसान तब तक नहीं उठेंगे, जब तक ये तीनों कानून वापस नहीं लिए जाएंगे। संसद का संयुक्त सत्र बुलाया जाए और इन तीनों कानूनों को वापस लिया जाए। विपक्षी पार्टियां किसान और मजदूरों के साथ खड़ी हैं।

राष्ट्रपति को सौंपा ज्ञापन , करोड़ों किसानों के हस्ताक्षर
ये कानून जबरदस्ती थोपे गए हैं। हमने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का ज्ञापन सौंप दिया है, इसमें करोड़ों किसानों के हस्ताक्षर सौंपे गए हैं। हमने राष्ट्रपति को बताया कि ये कानून किसान विरोधी कानून हैं। देश ने देखा है कि किसान इन कानूनों के खिलाफ उठ खड़े हुए हैं।
 

सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वाला देशद्रोही ः प्रियंका
उधर, प्रियंका गांधी ने कहा कि किसानों के लिए ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करना पाप है, अगर सरकार उन्हें देशद्रोही कह रही है तो सरकार पापी है। प्रियंका गांधी ने आगे कहा कि हम लोकतंत्र में रहते हैं और वो चुने गए सांसद हैं और उन्हें राष्ट्रपति से मिलने का अधिकार है। सरकार उन लाखों किसानों की आवाज सुनने को तैयार नहीं है।

कभी-कभी वो लोग कहते हैं कि हम इतने कमजोर हैं कि हम विपक्ष की भूमिका भी ढंग से नहीं निभाते और कभी वो कहते हैं कि विपक्ष ने एकजुट होकर एक महीने से किसानों को एकजुट करके रखा है। पहले उन्हें निश्चय करना चाहिए कि हम क्या हैं?
 

इससे पहले प्रियंका गांधी ने दिल्ली पुलिस द्वारा रोके जाने पर आपत्ति दर्ज कराई थी और कहा था कि इस सरकार के खिलाफ किसी भी विरोध का आतंक के तत्वों में वर्गीकृत किया जाता है। उन्होंने आगे कहा कि हम किसान के समर्थन में आवाज बुलंद करने के लिए यह मार्च कर रहे हैं।
 

राहुल गांधी का ट्वीट- अन्नदाता का साथ देना होगा
‘भारत के किसान त्रासदी से बचने के लिए कृषि-विरोधी कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं। इस सत्याग्रह में हम सबको देश के अन्नदाता का साथ देना होगा।’’

जिनके पास अनुमति, वही नेता जाएंगे – एसीपी
चाणक्यपुरी एसीपी प्रज्ञा ने कहा कि जिन नेताओं को अनुमति दी गई है, सिर्फ वही नेता राष्ट्रपति भवन जाएंगे।

कांग्रेस को नहीं मिली अनुमति- डीसीपी
इससे पहले नई दिल्ली के डीसीपी दीपक यादव ने कहा था कि कांग्रेस पार्टी को राष्ट्रपति भवन तक मार्च करने की अनुमति नहीं दी गई। जिन तीन नेताओं के पास अनुमति पत्र हैं, वो राष्ट्रपति भवन जाएंगे।
 





Source link

North Orissa University Renamed After Mayurbhanj Maharaja Sriram Chandra Bhanja Deo – Nou का बदला नाम, अब मयूरभंज के महाराजा के नाम से जानी जाएगी


एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला
Updated Thu, 24 Dec 2020 12:37 PM IST

उत्तर उड़ीसा विश्वविद्यालय, नॉर्थ ओडिशा यूनिवर्सिटी

उत्तर उड़ीसा विश्वविद्यालय, नॉर्थ ओडिशा यूनिवर्सिटी
– फोटो : नॉर्थ ओडिशा यूनिवर्सिटी

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ओडिशा सरकार ने उत्तर उड़ीसा विश्वविद्यालय का नाम बदल दिया है। राज्य सरकार ने नॉर्थ ओडिशा यूनिवर्सिटी का नाम बदलकर मयूरभंज के महाराजा श्रीराम चंद्र भंज देव के नाम पर रखा है। इस संबंध में राज्य सरकार ने बुधवार को एक अधिसूचना जारी की थी। बता दें कि इससे पहले राज्य सरकार ने कटक के एससीबी मेडिकल कॉलेज अस्पताल का भी नाम बदलकर श्रीराम चंद्र भंज देव रखा गया। 

यह भी पढ़ें : NMC ने मेडिकल छात्रों को दी बड़ी राहत, पीजी थीसिस सबमिशन की समयसीमा बढ़ाई

इस अवसर पर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि सरकार विश्वविद्यालय और उसके पुस्तकालय के विकास कार्यों में तेजी लाएगी। गौरतलब है कि ओडिशा इस साल मयूरभंज के महाराजा की 150वीं जयंती मना रहा है, जिन्होंने राज्य के विकास में बहुत योगदान दिया है। 1998 में स्थापित, विश्वविद्यालय का मुख्य परिसर बारीपाड़ा में स्थित है। इसके दो अन्य परिसर भी हैं। 

इसे भी पढ़ें : HTET 2020: एडमिट कार्ड जारी, दो और तीन जनवरी को है परीक्षा

विश्वविद्यालय के सूचना और जनसंपर्क विभाग, ओडिशा सरकार द्वारा नाम बदलने के फैसले की घोषणा करते हुए ट्विटर पर पोस्ट किया कि राज्य सरकार ने उत्तर ओडिशा विश्वविद्यालय का नाम बदलकर महाराजा श्रीराम चंद्र भंज देव के नाम पर रख दिया है। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक द्वारा विश्वविद्यालय के पुस्तकालय को बेहतर बनाने के लिए योजनाओं की घोषणा की गई है। 





Source link

Year Ender 2020: Know All The Major Things And Events Of Sports Took Place In A Year – Year Ender: जानिए साल 2020 की सभी बड़ी खेल गतिविधियों और टूर्नामेंट के बारे में

कोरोना वायरस के बाद खेल जगत


स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Thu, 24 Dec 2020 12:38 PM IST

कोरोना वायरस के बाद खेल जगत
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

डर, निराशा, गम और अनिश्चितता से भरा साल 2020 अब कुछ ही दिनों में अलविदा कहने वाला है वहीं नई उम्मीदों, आशाओं और मजबूत इरादों के साथ साल 2021 बाहें फैलाए इंतजार कर रहा है। हालांकि कोरोना महामारी और लॉकडाउन की वजह से दुनियाभर की कई बड़ी खेल प्रतियोगिताएं और गतिविधियां प्रभावित रहीं, इनमें कई टूर्नामेंट रद्द हुए तो कइयों को आगे के लिए स्थगित करना पड़ा। ऐसे में आइए जानते हैं 2020 के दौरान हर महीने की बड़ी खेल गतिविधियों और आयोजनों के बारे में।
 

  • अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप: दक्षिण अफ्रीका में खेले गए 13वें सीजन में बांग्लादेश ने पहली बार खिताब अपने नाम किया जबकि भारतीय टीम उप-विजेता बनी।
  • ऑस्ट्रेलियन टेनिस ओपन: नोवाक जोकोविच ने पुरुषों का एकल तो सोफिया केनिन ने महिलाओं में खिताबी मुकाबला जीता। जोकोविच ने अपना 17वां तो केनिन ने पहला ग्रैंडस्लैम खिताब अपने नाम किया।
  • होबार्ट टेनिस टूर्नामेंट: भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने मां बनने के बाद पहली बार टेनिस कोर्ट पर वापसी की और डबल्स का खिताब अपने नाम किया।   
  • ऑस्ट्रेलिया का भारत दौरा: पहला वनडे हारने के बाद मेजबान टीम इंडिया ने जबरदस्त वापसी की और आखिरी के दोनों मुकाबले जीतकर वनडे श्रृंखला अपने नाम की।
  • भारत और न्यूजीलैंड टी-20 सीरीज: भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज में किया क्लीन स्वीप।
  • आईसीसी महिला टी-20 वर्ल्ड कप: ऑस्ट्रेलिया ने महिला टी-20 वर्ल्ड कप के सातवें सीजन की मेजबानी की। इसमें ऑस्ट्रेलिया ने रिकॉर्ड पांचवीं बार खिताब पर कब्जा जमाया। जबकि पहली बार फाइनल में पहुंचने वाली भारतीय टीम उप-विजेता बनी। 
  • भारत का न्यूजीलैंड दौरा: टी-20 सीरीज में क्लीन स्वीप करने वाली भारतीय टीम का वनडे और टेस्ट सीरीज में सूपड़ा साफ हो गया। मेजबान न्यूजीलैंड ने 2-0 से टेस्ट सीरीज और 3-0 से एकदिवसीय सीरीज अपने नाम की।
  • अर्मांड डूपलेंटिस का विश्व रिकॉर्ड: स्वीडिश खिलाड़ी और यूरोपियन चैंपियन आर्मंड डुप्लांटिस ने पोल वॉल्ट में अपना ही रिकॉर्ड तोड़कर नया विश्व रिकॉर्ड बनाया। उन्होंने ग्लासगो में खेले गए विश्व एथलेटिक्स इंडोर ग्रैंड प्री में 20 वर्षीय डुप्लांटिस ने 6.18 मीटर की छलांग लगाकर नया कीर्तिमान स्थापित किया।
  • फुटबॉलर रोनाल्डिन्हो गिरफ्तार: 2002 में फुटबॉल वर्ल्ड कप विजेता टीम का हिस्सा रहे ब्राजील के स्टार फुटबॉलर रोनाल्डिन्हो को नकली पासपोर्ट रखने के मामले में पैरागुए में गिरफ्तार किया गया।
  • दक्षिण अफ्रीका का भारत दौरा: पहला मैच बारिश की वजह से रद्द होने के बाद बाकी के दोनों वनडे मुकाबले कोरोना महामारी की वजह से रद्द करने पड़े।
  • आईपीएल 2020: 29 मार्च से शुरू होने वाले आईपीएल के 13वें सीजन को कोविड-19 की वजह से 15 अप्रैल तक और फिर अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया।
  • एनबीए का सीजन निलंबित: यूटा जैज के खिलाड़ी रूडी गोबर्ट के कोरोना संक्रमित होने के बाद एनबीए ने 2019-20 के सीजन को निलंबित कर दिया।
  • फुटबॉल लीग स्थगित: यूईएफए चैंपियंस लीग, यूरोपा लीग गेम्स, यूरो 2020 कोपा अमेरिका जैसे शीर्ष फुटबॉल टूर्नामेंट और लीग कोरोना महामारी की वजह से स्थगित हुए।
  • टोक्यो ओलंपिक औप पैरालंपिक खेल स्थगित: अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने 2020 टोक्यो ओलंपिक खेलों को एक साल के लिए स्थगित कर दिया और 23 जुलाई से 8 अगस्त 2021 में करवाने का फैसला किया। जबकि पैरालंपिक खेलों का आयोजन 24 अगस्त से पांच सितंबर 2021 करने की जानकारी दी।
  • विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट रद्द: टेनिस कैलेंडर के सबसे लोकप्रिय टूर्नामेंटों में से एक, इंग्लैंड के शीर्ष ग्रैंडस्लैम को दूसरे विश्व युद्द के बाद पहली बार कोरोना महामारी की वजह से रद्द करने का फैसला किया गया। टूर्नामेंट का आयोजन 29 जुलाई से 12 जुलाई के बीच होना था।
  • फुटबॉल टूर्नामेंट स्थगित:  यूईएफए ने जून के सभी अंतरराष्ट्रीय मैचों को कोरोना महामारी की वजह से स्थगित कर दिया।
  • कैनेडियन ग्रां प्री: फॉर्मूला वन ने कोरोना महामारी की वजह से स्थगित किया।
  • टूर डी फ्रांस स्थगित: साइकिलिंग की मशहूर अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता टूर डी फ्रांस कोरोना महामारी की वजह से एक साल के लिए स्थगित
  • फ्रेंच ग्रां प्री: फॉर्मूला वन ने कोरोना महामारी की वजह से फ्रांस में होने वाली ग्रां प्री को एक साल के लिए स्थगित किया।
  • डेबाला कोरोना से उबरे: इटली के स्टार फुटबॉलर और जुवेंटस के फॉरवर्डर पाउलो डेबाला 45 दिन के इलाज के बाद कोरोना महामारी से ठीक हुए।
  • पांच स्थानापन्न खिलाड़ी की छूट: इंटरनेशनल फुटबॉल एसोसिएशन बोर्ड ने कोरोना महामारी की वजह से साल 2020 के आखिरी तक फुटबॉल टीमों को पांच स्थानापन्न खिलाड़ी रखने की छूट दी।
  • क्रिकेट प्रतियोगिताएं अनिश्चितकाल के लिए स्थगित: कोरोना महामारी और लॉकडाउन की वजह से सभी क्रिकेट गतिविधियां स्थगित रहीं।
  • फुटबॉल टूर्नामेंट की शुरुआत: बुंदेसलिगा, सिरी ए, प्रीमियर लीग समेत कई शीर्ष फुटबॉल लीगों और टूर्नामेंटों को जून से दोबारा शुरू करने का फैसला।
  • लिवरपूल बना चैंपियन: कोरोना महामारी के बीच दर्शकों के बगैर खाली स्टेडियम में इंग्लिश प्रीमियर लीग का आयोजन। लिवरपूल फुटबॉल क्लब ने 30 साल बाद  जीता इंग्लिश प्रीमियर लीग का खिताब।
  • कोप्पा इटालिया (इटालियन कप): नापोली ने छह साल बाद छठी बार जीता कोप्पा इटालिया 2020 का खिताब। फाइनल मुकाबले में उसने सबसे सफल टीम जुवेंटस को पेनल्टी में 4-2 से हराया।
  • क्रिकेट गतिविधियां ठप्प: कोरोना महामारी की वजह से क्रिकेट की सभी गतिविधियां जून में भी प्रभावित हुई और टूर्नामेंट या श्रृंखलाएं आगे के लिए स्थगित और रद्द हुईं। 

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी: कोविड-19 की वजह से चार महीने तक बंद रहे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टूर्नामेंट की पहली बार शुरुआत हुई। महामारी के खतरे के बीच इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने पहली बार बायो बबल के अंदर द्विपक्षीय श्रृंखला का आयोजन किया। इसमें वेस्टइंडीज की टीम ने हिस्सा लिया और दोनों के बीच सख्त सुरक्षा नियमों और दर्शकों के बगैर खाली स्टेडियम में तीन टेस्ट मैचों की सीरीज सफलतापूर्वक खत्म हुई। इस दौरान पहला टेस्ट हारने के बाद इंग्लैंड ने बाकी के दोनों मैच जीतकर सीरीज 2-1 से अपने नाम की।

डर, निराशा, गम और अनिश्चितता से भरा साल 2020 अब कुछ ही दिनों में अलविदा कहने वाला है वहीं नई उम्मीदों, आशाओं और मजबूत इरादों के साथ साल 2021 बाहें फैलाए इंतजार कर रहा है। हालांकि कोरोना महामारी और लॉकडाउन की वजह से दुनियाभर की कई बड़ी खेल प्रतियोगिताएं और गतिविधियां प्रभावित रहीं, इनमें कई टूर्नामेंट रद्द हुए तो कइयों को आगे के लिए स्थगित करना पड़ा। ऐसे में आइए जानते हैं 2020 के दौरान हर महीने की बड़ी खेल गतिविधियों और आयोजनों के बारे में।

 


आगे पढ़ें

जनवरी



Source link

Translate »
You cannot copy content of this page