27 People Have Been Found Corona Positive, Including Donald Trump’s Colleague Stephen Miller – अमेरिका: व्हाइट हाउस में बढ़े कोरोना के मामले, राष्ट्रपति ट्रंप के शीर्ष सहयोगी समेत 27 संक्रमित

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, वाशिंगटन

Updated Thu, 08 Oct 2020 12:12 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद व्हाइट हाउस के अबतक 27 कर्मचारी इस जानलेवा वायरस की चपेट में आ चुके हैं। ट्रंप से जुड़े ज्यादातर कर्मचारी कोरोना से संक्रमित हैं।

साथ ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शीर्ष सहयोगी स्टीफन मिलर भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं।  मिलर ने मंगलवार को कहा, पिछले पांच दिन से मैं क्वारंटीन में हूं और सबसे दूर रहकर काम कर रहा हूं। कल तक किसी भी जांच में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई थी, लेकिन आज रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से मैं क्वारंटीन में हूं। 

राष्ट्रपति ट्रंप और फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप के बृहस्पतिवार को कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। इससे पहले उनकी करीबी सहयोगी होप हिक्स संक्रमित पाई गईं थीं। ट्रंप को सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से सोमवार को उन्हें छुट्टी दे दी गई।

इस बीच, व्हाइट हाउस के डॉक्टर डॉ. सीन कॉनली ने बताया कि अस्पताल से आने के बाद ट्रंप की पहली रात आराम से बीती। उनमें संक्रमण का कोई लक्षण नहीं है। वहीं, ट्रंप ने ट्वीट किया, अब बेहतर महसूस कर रहा हूं।

मास्क नहीं पहन ट्रंप ने पेश किया गलत उदाहरण: कोलिन्स  

व्हाइट हाउस पहुंचने पर मास्क नहीं पहनने को लेकर रिपब्लिकन पार्टी की सीनेटर सुजेन कोलिन्स ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना की है। उन्होंने कहा, संक्रमित पाए जाने के बाद देश के राष्ट्रपति को इतनी जल्दी अस्पताल से छुट्टी मिलने पर हैरान हूं। जब मैंने ट्रंप को व्हाइट हाउस में बिना मास्क के देखा, तो मुझे लगा कि उन्होंने गलत संदेश दिया। उन्होंने अच्छा उदाहरण पेश नहीं किया।

अस्पताल से अचानक बाहर आ गए थे ट्रंप

कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद ट्रंप को सेना के अस्पताल में भर्ती किया था लेकिन वह अचानक गाड़ी में अस्पताल के बाहर आ गए और अस्पताल के बाहर खड़े लोगों से हाथ हिलाकर अभिवादन स्वीकार किया। लेकिन कुछ मिनटों के बाद दोबारा अस्पताल में चले गए थे। 

इस पर ट्रंप विपक्ष के निशाने पर आ गए थे, कुछ ने तो ये तक कहा था कि ट्रंप को कोरोना नहीं है। साथ ही जब वह व्हाइट हाउस दोबारा लौटे तो बिना मास्क के नजर आए थे। जिसको लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने ट्रंप पर गुस्सा निकाला था।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद व्हाइट हाउस के अबतक 27 कर्मचारी इस जानलेवा वायरस की चपेट में आ चुके हैं। ट्रंप से जुड़े ज्यादातर कर्मचारी कोरोना से संक्रमित हैं।

साथ ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शीर्ष सहयोगी स्टीफन मिलर भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं।  मिलर ने मंगलवार को कहा, पिछले पांच दिन से मैं क्वारंटीन में हूं और सबसे दूर रहकर काम कर रहा हूं। कल तक किसी भी जांच में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई थी, लेकिन आज रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से मैं क्वारंटीन में हूं। 

राष्ट्रपति ट्रंप और फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप के बृहस्पतिवार को कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। इससे पहले उनकी करीबी सहयोगी होप हिक्स संक्रमित पाई गईं थीं। ट्रंप को सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से सोमवार को उन्हें छुट्टी दे दी गई।

इस बीच, व्हाइट हाउस के डॉक्टर डॉ. सीन कॉनली ने बताया कि अस्पताल से आने के बाद ट्रंप की पहली रात आराम से बीती। उनमें संक्रमण का कोई लक्षण नहीं है। वहीं, ट्रंप ने ट्वीट किया, अब बेहतर महसूस कर रहा हूं।

मास्क नहीं पहन ट्रंप ने पेश किया गलत उदाहरण: कोलिन्स  

व्हाइट हाउस पहुंचने पर मास्क नहीं पहनने को लेकर रिपब्लिकन पार्टी की सीनेटर सुजेन कोलिन्स ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना की है। उन्होंने कहा, संक्रमित पाए जाने के बाद देश के राष्ट्रपति को इतनी जल्दी अस्पताल से छुट्टी मिलने पर हैरान हूं। जब मैंने ट्रंप को व्हाइट हाउस में बिना मास्क के देखा, तो मुझे लगा कि उन्होंने गलत संदेश दिया। उन्होंने अच्छा उदाहरण पेश नहीं किया।

अस्पताल से अचानक बाहर आ गए थे ट्रंप

कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद ट्रंप को सेना के अस्पताल में भर्ती किया था लेकिन वह अचानक गाड़ी में अस्पताल के बाहर आ गए और अस्पताल के बाहर खड़े लोगों से हाथ हिलाकर अभिवादन स्वीकार किया। लेकिन कुछ मिनटों के बाद दोबारा अस्पताल में चले गए थे। 

इस पर ट्रंप विपक्ष के निशाने पर आ गए थे, कुछ ने तो ये तक कहा था कि ट्रंप को कोरोना नहीं है। साथ ही जब वह व्हाइट हाउस दोबारा लौटे तो बिना मास्क के नजर आए थे। जिसको लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने ट्रंप पर गुस्सा निकाला था।



Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page