AICTE Extends Last Date To Take Admission In Engineering Colleges – AICTE Update: इंजीनियरिंग कोर्सेस में प्रवेश के लिए अंतिम तिथि बढ़ी, अब 31 दिसंबर तक ले सकेंगे प्रवेश

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


AICTE Latest Update: ऑल इंडिया टेक्निकल एजुकेशन ने इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए अंतिम तिथि को आगे बढ़ा दिया है। सभी राज्यों को इंजीनियरिंग के विभिन्न कोर्सेस में प्रवेश के लिए…

AICTE Latest Update: ऑल इंडिया टेक्निकल एजुकेशन ने इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए अंतिम तिथि को आगे बढ़ा दिया है। सभी राज्यों को इंजीनियरिंग के विभिन्न कोर्सेस में प्रवेश के लिए छूट दी गई है। स्टूडेंट्स की एडमिशन प्रक्रिया को अब कॉलेज 31 दिसंबर 2020 तक पूरा कर सकते हैं। यह सुविधा कोविड-19 के कारण दी जा रही है। दरअसल काउंसिल का मानना है कि बहुत से राज्यों का CET 2020 Result ही कोविड के कारण काफी लेट हो गया है। ऐसे में उनके लिए पिछली तय सीमा तक इंजीनियरिंग कोर्सेज में प्रवेश प्रक्रिया पूरा करना संभव नहीं होगा। इस बात को ध्यान में रखते हुए अंतिम तिथि को आगे बढ़ाकर 31 दिसंबर कर दिया गया है।

बहुत से राज्यों ने प्रवेश को लेकर एआईसीटीई से निवेदन किया था। उन्होंने काउंसिल से अंतिम तिथि को बदलने के बारे में विचार करने के लिए कहा था। इंजीनियरिंग कोर्सेज में एडमिशन से यहां तात्पर्य यूजी, यूजी लैट्रल, डिप्लोमा, डिप्लोमा लैट्रल और पीजी के पाठ्यक्रम से है। यह भी ध्यान रहे कि यह तारीखें केवल उन राज्यों के लिए रिवाइज की गई हैं जहां कोविड-19 के कारण सीईटी रिजल्ट घोषित होने में देरी हुई है।

सर्कुलर की बात करें तो उसमें कहा गया है, इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए अंतिम तिथि 31 दिसंबर, 2020 तक बढ़ा दी गई है, केवल उन मामलों में जहां राज्य के सीईटी में देरी के कारण काउंसलिंग और प्रवेश शुरू नहीं हुआ था या जहां काउंसलिंग अभी तक नहीं बढ़ी है, वहां कक्षाएं शुरू नहीं हुई थीं।

कक्षाएं शुरू होने से काउंसिल का मतलब लैट्रल एंटी एडमिशंस से है। लैट्रल एंट्री केवल वही हो सकती है जहां क्लासेस अभी शुरू नहीं हुई हैं या जहां क्लासेस शुरू हुए 15 दिन से ज्यादा नहीं हुआ है। अगर यह समय-सीमा क्रॉस हो चुकी है तो ऐसे कॉलेजेस में लैट्रल एंट्री नहीं हो सकती। इस घोषणा का सबसे अधिक असर बाकी राज्यों के अलावा महाराष्ट्र पर काफी सकारात्मक रूप से पड़ेगा जहां अभी कुछ दिनों पहले ही सीईटी रिजल्ट घोषित हुआ है।













Source link

Leave a Comment

Translate »