China Imposes Sanctions On Us Individuals Including Former Us Secretary Of State Mike Pompeo – चीन ने ट्रंप प्रशासन के माइक पोम्पिओ सहित 30 अधिकारियों पर लगाई पाबंदी


वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, वाशिंगटन
Updated Thu, 21 Jan 2021 12:29 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

अमेरिका के राष्ट्रपति के तौर पर डोनाल्ड ट्रंप का कार्यकाल समाप्त होने के ठीक बाद चीन ने बुधवार को ट्रंप प्रशासन के 30 पूर्व अधिकारियों के खिलाफ पाबंदी लगा दी। राष्ट्रपति जो बाइडन के शपथ लेने के कुछ देर बाद ही चीन ने ट्रंप प्रशासन में विदेश मंत्री रहे माइक पोम्पिओ, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ ब्रायन और संयुक्त राष्ट्र में राजदूत केली क्राफ्ट पर यात्रा और कारोबारी लेन-देन पर पाबंदी लगा दी।

ट्रंप प्रशासन में आर्थिक सलाहकार रहे पीटर नवारू, एशिया के लिए शीर्ष राजनयिक डेविड स्टिलवेल, स्वास्थ्य और मानव सेवा मंत्री एलेक्स अजर के साथ पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन और रणनीतिकार स्टीफन बैनन पर भी पाबंदी लगाई गई है।

ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों पर लगाई गई ये पाबंदी प्रतीकात्मक हैं लेकिन अमेरिका के प्रति यह चीन के कड़े रुख को जाहिर करता है।

अमेरिका भी चीन पर लगा चुका है दक्षिण चीन सागर में प्रतिबंध
इससे पहले डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने दक्षिण चीन सागर में चीन की बढ़ती आक्रामकता को लेकर बृहस्पतिवार को उस पर नए प्रतिबंध लगा दिए थे। ये प्रतिबंध आगामी राष्ट्रपति जो बाइडन की चीन के साथ कूटनीति को और मुश्किल कर सकते हैं। ट्रंप प्रशासन ने अपने शासन के अंतिम दिनों में चीन के कई अधिकारियों और उनके परिवारों पर यात्रा प्रतिबंध लगाए।

उस वक्त माइक पोम्पिओ ने कहा था कि हम तब तक कार्रवाई करना जारी रखेंगे जब तक बीजिंग दक्षिण चीन सागर में आक्रामक व्यवहार करना बंद नहीं करता है।

अमेरिका के राष्ट्रपति के तौर पर डोनाल्ड ट्रंप का कार्यकाल समाप्त होने के ठीक बाद चीन ने बुधवार को ट्रंप प्रशासन के 30 पूर्व अधिकारियों के खिलाफ पाबंदी लगा दी। राष्ट्रपति जो बाइडन के शपथ लेने के कुछ देर बाद ही चीन ने ट्रंप प्रशासन में विदेश मंत्री रहे माइक पोम्पिओ, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ ब्रायन और संयुक्त राष्ट्र में राजदूत केली क्राफ्ट पर यात्रा और कारोबारी लेन-देन पर पाबंदी लगा दी।

ट्रंप प्रशासन में आर्थिक सलाहकार रहे पीटर नवारू, एशिया के लिए शीर्ष राजनयिक डेविड स्टिलवेल, स्वास्थ्य और मानव सेवा मंत्री एलेक्स अजर के साथ पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन और रणनीतिकार स्टीफन बैनन पर भी पाबंदी लगाई गई है।

ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों पर लगाई गई ये पाबंदी प्रतीकात्मक हैं लेकिन अमेरिका के प्रति यह चीन के कड़े रुख को जाहिर करता है।


अमेरिका भी चीन पर लगा चुका है दक्षिण चीन सागर में प्रतिबंध

इससे पहले डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने दक्षिण चीन सागर में चीन की बढ़ती आक्रामकता को लेकर बृहस्पतिवार को उस पर नए प्रतिबंध लगा दिए थे। ये प्रतिबंध आगामी राष्ट्रपति जो बाइडन की चीन के साथ कूटनीति को और मुश्किल कर सकते हैं। ट्रंप प्रशासन ने अपने शासन के अंतिम दिनों में चीन के कई अधिकारियों और उनके परिवारों पर यात्रा प्रतिबंध लगाए।

उस वक्त माइक पोम्पिओ ने कहा था कि हम तब तक कार्रवाई करना जारी रखेंगे जब तक बीजिंग दक्षिण चीन सागर में आक्रामक व्यवहार करना बंद नहीं करता है।



Source link

वाराणसी में 61 ग्राम पंचायत नगर निगम में शामिल, 7 वार्ड भी खत्‍म


यूपी पंचायत चुनाव 2021 (सांकेतिक तस्वीर)

यूपी पंचायत चुनाव 2021 (सांकेतिक तस्वीर)

UP Panchayat Chunav 2021: वाराणसी (Varanasi) में 61 ग्राम पंचायतों को नगर निगम की सीमा में शामिल कर लिया गया है. ऐसे पंचायतों का पुनर्गठन का काम भी किया जा चुका है.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 21, 2021, 7:48 AM IST

वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी में होने वाले पंचायत चुनाव साल 2015 की तुलना इस बार कम पदों पर होंगे. जानकारी के मुताबिक वाराणसी में 61 ग्राम पंचायतों को नगर निगम की सीमा में शामिल कर लिया गया है. ऐसे पंचायतों का पुनर्गठन का काम भी किया जा चुका है. पंचायती राज विभाग की मानें तो जिला पंचायत के 48 में से 7 वार्ड खत्म कर दिए गए हैं. ऐसे में यह चुनाव अब 41 सीटों पर ही होगा. वहीं 1198 क्षेत्र पंचायत यानी कि बीडीसी में से मात्र 1011 ही वार्ड रह गए हैं. ऐसे में यहां से 187 वार्ड समाप्त कर दिए गए हैं.








Source link

Hunar Haat To Be Organized From 22 January To 4 February In Lucknow – लखनऊ में 22 जनवरी से 4 फरवरी तक होगा ‘हुनर हाट’ का आयोजन


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ‘वोकल फॉर लोकल’ की थीम पर केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय की ओर से कारीगरों को नौकरी देने की इस पहल के तहत ‘हुनर हाट’ का आयोजन होगा। इसकी शुरूआत 22 जनवरी से होगी और 4 फरवरी 2021 तक चलेगा। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 23 जनवरी को हुनर हाट का उद्घाटन करेंगे। 

31 देशों व केंद्र शासित प्रदेशों के 500 से अधिक कारीगर और शिल्पकार लेंगे हिस्सा 
मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया कि घरेलू उत्पादों, हमारे कारीगरों और शिल्पकारों को बढ़ावा देने के लिए लखनऊ के अवध शिल्पग्राम में 22 जनवरी से 24वें हुनर हाट का आयोजन होगा। इसमें 31 देशों व केंद्र शासित प्रदेशों के 500 से अधिक कारीगर और शिल्पकार हिस्सा लेंगे।

इसमें बांस, लकड़ी, ब्रास और बेंत के बने उत्पाद, लोहे के खिलौले, हर्बल उत्पाद और अजरख, बटिक, बाघ और बंधेज जैसे घरेलु शिल्प मिलेंगे। इस दौरान अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा व खादी एवं ग्राम उद्योग आयोग के अध्यक्ष वीके सक्सेना उपस्थित रहेंगे। 
ये कलाकार दर्शकों को लुभाएंगे

हुनर हाट का मुख्य आकर्षण जाने माने कलाकार भी होंगे। इनमें कैलाश खेर, विनोद राठौड़, शिबानी कश्यम, भूपेंद्र भुप्पी व अन्य गायक हिस्सा लेेंगे और दर्शकों को लुभाएंग्रे। 

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ‘वोकल फॉर लोकल’ की थीम पर केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय की ओर से कारीगरों को नौकरी देने की इस पहल के तहत ‘हुनर हाट’ का आयोजन होगा। इसकी शुरूआत 22 जनवरी से होगी और 4 फरवरी 2021 तक चलेगा। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 23 जनवरी को हुनर हाट का उद्घाटन करेंगे। 

31 देशों व केंद्र शासित प्रदेशों के 500 से अधिक कारीगर और शिल्पकार लेंगे हिस्सा 

मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया कि घरेलू उत्पादों, हमारे कारीगरों और शिल्पकारों को बढ़ावा देने के लिए लखनऊ के अवध शिल्पग्राम में 22 जनवरी से 24वें हुनर हाट का आयोजन होगा। इसमें 31 देशों व केंद्र शासित प्रदेशों के 500 से अधिक कारीगर और शिल्पकार हिस्सा लेंगे।

इसमें बांस, लकड़ी, ब्रास और बेंत के बने उत्पाद, लोहे के खिलौले, हर्बल उत्पाद और अजरख, बटिक, बाघ और बंधेज जैसे घरेलु शिल्प मिलेंगे। इस दौरान अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा व खादी एवं ग्राम उद्योग आयोग के अध्यक्ष वीके सक्सेना उपस्थित रहेंगे। 

ये कलाकार दर्शकों को लुभाएंगे

हुनर हाट का मुख्य आकर्षण जाने माने कलाकार भी होंगे। इनमें कैलाश खेर, विनोद राठौड़, शिबानी कश्यम, भूपेंद्र भुप्पी व अन्य गायक हिस्सा लेेंगे और दर्शकों को लुभाएंग्रे। 



Source link

Farmers Protest: Kisan Andolan Delhi Burari LIVE Update | Haryana Punjab Farmers Delhi Chalo March Latest News Today 11 January | खट्टर के कार्यक्रम में खलल डालने के मामले में 900 लोगों पर FIR, किसान नेता बोले- हम विरोध करते रहेंगे


  • Hindi News
  • National
  • Farmers Protest: Kisan Andolan Delhi Burari LIVE Update | Haryana Punjab Farmers Delhi Chalo March Latest News Today 11 January

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली9 दिन पहले

कृषि कानूनों के विरोध में किसान दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं। फोटो गाजीपुर बॉर्डर की है।

किसान आंदोलन का आज 47वां दिन है। हरियाणा पुलिस ने करनाल में मनोहरलाल खट्टर के कार्यक्रम में खलल डालने के मामले में भारतीय किसान यूनियन (BKU) के गुरनाम सिंह चढूनी समेत 900 लोगों पर FIR दर्ज की है। करनाल में खट्टर के कार्यक्रम के लिए बना मंच रविवार को भीड़ ने तहस-नहस कर दिया था। साथ ही हेलीपैड भी खोद दिया था।

इधर, गुरनाम सिंह चढूनी का कहना है, ‘हां, हमने खट्टर साहब को रैली करने से रोका। भाजपा ने कहा था कि किसान आंदोलन को तोड़ने के लिए 700 रैलियां की जाएंगी। हम ऐसी रैलियों का विरोध करते रहेंगे।’

किसानों ने खट्टर का हेलीकॉप्टर नहीं उतरने दिया था
खट्टर रविवार को करनाल जिले के कैमला गांव में किसान महापंचायत करने वाले थे। CM वहां पहुंचते उससे पहले कृषि कानूनों का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारी पहुंच गए और काले झंडे लहराते हुए नारेबाजी करने लगे। उन्होंने मंच पर भी तोड़फोड़ की। प्रदर्शनकारियों ने CM के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के लिए बने हेलीपैड को भी खोद दिया, इस वजह से खट्टर का हेलीकॉप्टर लैंड नहीं कर सका था।

खट्टर ने चढूनी पर किसानों को भड़काने का आरोप लगाया था
दिनभर के हंगामे के बाद रविवार शाम को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस पर कड़ी टिप्पणी की था। उन्होंने पूरे घटनाक्रम को कांग्रेस की साजिश बताया था। साथ ही किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी पर किसानों को भड़काने का आरोप लगाया था।

जाह्नवी कपूर की फिल्म की शूटिंग रोकी

पंजाब के बस्सी पठानां में बॉलीवुड कलाकारों को किसानों के विरोध का सामना करना पड़ा। यहां अभिनेत्री जाह्नवी कपूर की फिल्म ‘गुड लक जैरी’ की शूटिंग आंदोलनकारियों ने रोक दी। शूटिंग के लिए जाह्नवी भी पहुंची हुई थीं। इस घटना के बाद फिल्म की यूनिट की तरफ से किसानों के संतुष्ट नहीं होने तक फिल्म का काम नहीं करने का भरोसा दिया गया। साथ ही जाह्नवी कपूर ने किसानों के पक्ष में अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर स्टेटस डाला, तब कहीं जाकर शूटिंग का काम फिर से शुरू हो पाया।

किसान आंदोलन का रोडमैप
संयुक्त किसान मोर्चा ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया-

  • 13 जनवरी को किसान संकल्प दिवस मनाया जाएगा। कृषि कानूनों की कॉपी जलाएंगे। 18 जनवरी को किसान महिला दिवस के रूप में मनाया जाएगा।
  • 23 जनवरी को नेताजी सुभाष चन्द्र की जयंती पर अलग-अलग गांवों से किसान दिल्ली के लिए रवाना होंगे। हर गांव से 5 ट्रैक्टर निकलेंगे, इनमें एक ट्रैक्टर महिलाओं का होगा।
  • 26 जनवरी के लिए तैयारी और तेज की जाएगी। कमेटी बनाकर हर घर से 26 जनवरी को आंदोलन में शामिल होने की अपील करेंगे।
  • जल्द ही एक ऐप लॉन्च किया जाएगा, जिस पर आंदोलन की LIVE कवरेज होगी और इमरजेंसी सर्विसेज दी जाएंगी।



Source link

Amazon Great Republic Day Sale: Get Great Discounts On Refrigerator, Mixer Grinder And More


In this time-pressed world, we all look for technologies that can make our daily chores smooth and easy. Same is the situation when it comes to cooking and other kitchen-related work. We love experimenting and creating new dishes in our kitchen. But the preparations for the same can be time taking and tedious at times. Hence, we always look for options that can help us curtail the time we spend in kitchen- be it in terms of chopping ingredients or storing cooked food. With the advent of technology, we are in a much better place today. A modern kitchen setup is well equipped with smart appliances that make our lives easy on a regular basis.

On the occasion of Amazon Great Republic Day Sale, we bring you some essential kitchen appliances that are a must-have in every household. And the best part is the ongoing sale will help you buy these essentials at a whopping discount. Let’s take a look!

Here Are 5 Kitchen Appliances For You:

1. Microwave Oven:

AmazonBasics 30 L Convection Microwave

One of the basic essentials in every household, microwave oven is versatile to the core. From baking, grilling and roasting different food items to heating them while eating- a microwave oven does it all. Keeping this in mind, we bring this option by AmazonBasics that makes a perfect fit for a family of 5-6 people.

NDTV Food Pick

51% off

Newsbeep

2. Refrigerator:

AmazonBasics 564 L Frost Free Side-by-Side Refrigerator

Gone are those days when we used to buy our fruits, fish and vegetables on a regular basis. Today, people prefer buying it beforehand and store for future use. Hence, a refrigerator is a must in every kitchen to keep the ingredients fresh for long. Here’s a frost-free side-by-side refrigerator option for you that comes with a water dispenser to enjoy chilled water anytime you want.

NDTV Food Pick

45% off

3. Kitchen Scale:

AmazonBasics Stainless Steel Digital Kitchen Scale

Another important tool in a modern kitchen setup is a kitchen scale that helps you keep a check on the amount of calorie and carbs you consume every day. This digital kitchen scale by AmazonBasics comes with a widescreen LCD display where you can weigh the ingredients before adding to recipe.

NDTV Food Pick

20% off

4. Mixer Grinder:

Solidaire 550-Watt Mixer Grinder

The importance of mixer grinder in every kitchen needs no separate introduction. It has multi-purpose usages and helps you save time while cooking. This mixer grinder by Solidaire comes with sturdy stainless-steel blades that help you grind coffee beans, dry chillies etc effortlessly.

NDTV Food Pick

39% off

Promoted

5. Fruit Juicer:

Amazon Brand – Solimo Plastic Handy Fruit Juicer

We also found a handy fruit juicer option that will help you relish fresh glass of cold-pressed juice every morning. It comes with detachable parts and is easy to clean after every use.

NDTV Food Pick

48% off



Source link

World Smallest Giraffe Found In Uganda | Here’s All You Need To Know | दुनिया का सबसे छोटा जिराफ, यह दूसरे जिराफ से 50% से भी ज्यादा छोटा; कद ने चलना-फिरना किया मुश्किल


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

14 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • युगांडा में मिला 8.5 फीट का जिराफ, यह स्केलेटल डिस्प्लेसिया से जूझ रहा

अमूमन एक जिराफ की लम्बाई 18 फीट होती है, लेकिन अफ्रीका में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। युगांडा में वैज्ञानिकों ने दो ऐसे जिराफ खोजे हैं जो दुनियाभर में सबसे छोटे हैं। पहले न्यूबियन जिराफ की लम्बाई 9.4 फीट है। दूसरे, एंगोलेन जिराफ की लम्बाई 8.5 फीट है। दोनों को जिराफ कंजर्वेशन फाउंडेशन और स्मिथसोनियन कंजर्वेशन बायोलॉजी इंस्टीट्यूट ने मिलकर खोजा है।

इनकी लम्बाई इतनी कम क्यों है, इसे समझने के लिए वैज्ञानिकों ने इनकी जांच की। जांच में सामने आया कि ये जिराफ बौनेपन से जूझ रहे हैं। वैज्ञानिक भाषा में इसे स्केलेटल डिस्प्लेसिया कहते हैं।

बीमारी जिसने लम्बाई बढ़ने से रोका
वैज्ञानिकों के मुताबिक, स्केलेटल डिस्प्लेसिया ऐसी बीमारी है, जिसमें हडि्डयों का विकास ठीक से नहीं हो पाता। उम्र बढ़ने के बावजूद ये छोटी रह जाती हैं। यह बीमारी इंसान और जानवर दोनों को हो सकती है। हालांकि, जानवरों में इसके मामले काफी कम पाए जाते हैं। जिराफ में स्केलेटल डिस्प्लेसिया होने का यह पहला मामला है।

न्यूबियन जिराफ के पैरों की लम्बाई इतनी कम है कि गर्दन के साथ तालमेल नहीं बैठ पा रहा। नतीजा, चलने-फिरने में दिक्कत हो रही है।

न्यूबियन जिराफ के पैरों की लम्बाई इतनी कम है कि गर्दन के साथ तालमेल नहीं बैठ पा रहा। नतीजा, चलने-फिरने में दिक्कत हो रही है।

बौनेपन का उम्र पर असर लेकिन चलना-फिरना आसान नहीं
जिराफ कंजर्वेशन फाउंडेशन के साथ काम करने वाले वैज्ञानिकों का कहना है, जिराफ मैच्यौर हो चुका है। इसके बौनेपन से इसकी उम्र पर कोई असर नहीं पड़ना चाहिए। न्यूबियन जिराफ छोटे पैरों के कारण बहुत ज्यादा चल-फिर नहीं पाता। यह पहली बार 2015 में युगांडा के मर्चिशन फाल्स नेशनल पार्क में देखा गया था। वहीं, एंगोलेन जिराफ को जुलाई, 2020 में देखा गया था।



Source link

राशिफल 21 जनवरी: सिंह राशि के जातकों को मिलेगा बिजनेस में लाभ, वहीं इनका बीतेगा जीवनसाथी के साथ अच्छा समय



पौष शुक्ल पक्ष की उदया तिथि अष्टमी और दिन गुरुवार का दिन है। अष्टमी तिथि दोपहर 3 बजकर 51 मिनट तक ही रहेगी उसके बाद नवमी तिथि लग जाएगी। जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से कैसा रहेगा राशिनुसार आपका दिन।



Source link

Hindi News – पीरियड्स की समस्‍याओं से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये आयुर्वेदिक टिप्स, फिर देखें कमाल– News18 Hindi


महिलाओं को कई तरह की शारीरिक और हॉर्मोनल (Hormones) बदलावों से गुजरना पड़ता है. हालांकि कुछ परिवर्तन बहुत आसान होते हैं, लेकिन कुछ के साथ बहुत सारी परेशानियां होती हैं. इनमें मेंस्ट्रुअल साइकिल (Menstrual Cycle), अनियमित पीरियड्स, बहुत ज्‍यादा ब्‍लीडिंग होना, दर्द और ऐंठन जैसी समस्याएं शामिल हैं. आइए आपको पीरियड्स (Periods) संबंधी समस्‍याओं और इससे बचने के लिए आयुर्वेदिक टिप्‍स (Ayurvedic Tips) के बारे में बताते हैं. इन आयुर्वेदिक नुस्‍खों को अपनाकर आप पीरियड के दर्द और ब्लड क्लॉट जैसी समस्याओं से छुटकारा पा सकती हैं. यदि आप पहले से किसी रोग से पीड़ित हैं या मेडिकेशन ले रही हैं तो नीचे दिए गए उपायों को लागू करने से पहले डॉक्टरी परामर्श जरूर लें.

पीरियड्स संबंधी समस्‍याओं से बचने के लिए आयुर्वेदिक टिप्‍स

-पीरियड्स के दौरान एक लहसुन की कली को 2 लौंग के साथ दिन में दो बार खाएं. इससे दर्द में आराम मिलेगा.

-वहीं पीरियड क्रैम्प्स से परेशान होने पर एक चम्मच एलोवेरा जेल में एक चुटकी काली मिर्च या दालचीनी पाउडर मिलाकर उसका सेवन करें, आराम मिलेगा.

-अदरक की हर्बल चाय पीने से पीरियड्स के दर्द से छुटकारा पाने में मदद मिल सकती है. इसके लिए एक चम्मच अदरक के पाउडर को गर्म पानी में मिलाकर इसे पी सकते हैं.

-चन्दन और मिंट एसेंस से कूलिंग शॉवर और नहाना भी पीरियड्स के समय मददगार साबित हो सकता है.

-इस समय अपनी डाइट में जीरा, मेथी दाना, काली मिर्च, लौंग, धनिया और पुदीना जैसे मसाले जरूर शामिल करें.

-अपनी डाइट में कद्दू, पपीता, ककड़ी, आलू, फूलगोभी, और मटर को जरूर शामिल करें.

-घर पर बना हुआ स्पेशल काढ़ा पीने से पीरियड्स के समय शरीर को बहुत आराम मिलता है. इसका पीरियड्स शुरू होने से एक दिन पहले से ही सेवन शुरू करें. इसे तब तक पीते रहना है जब तक पीरियड्स खत्म न हो जाएं.

कैसे बनाएं काढ़ा

एक चम्मच जीरे को 2 गिलास पानी के साथ मध्यम आंच पर तब तक उबालें जब तक मिश्रण आधा न हो जाए. अब इस पानी को छलनी से छान लें. फिर इसमें एक चम्मच शहद मिलाएं और इसे गर्म ही पिएं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)



Source link

dragon fruit benefits and side effects renamed as kamalam | भारत में ‘Dragon Fruit’ बना ‘कमलम’, जानिए विश्व के सबसे ताकतवर फल के फायदे और नुकसान


नई दिल्ली: फलों के लाभ के बारे में हर कोई जानता है. सभी फलों के अपने कुछ खास गुण होते हैं, जो हमारे शरीर को पोषक तत्व देते हैं. कुछ फलों के बारे में ज्यादा लोग नहीं जानते हैं. आज यहां हम जिस फल की बात कर रहे हैं, उसके बारे में भी कम ही लोग जानते हैं. इस फल का नाम है ड्रैगन फ्रूट (Dragon Fruit). भारत में अब ड्रैगन फ्रूट का नाम ‘कमलम’ (Kamalam) कर दिया गया है.

आपको बात दें कि ड्रैगन फ्रूट का उपयोग शरीर से जुड़े कई विकारों से आराम पाने के लिए किया जा सकता है. यह हमें स्वस्थ रखने के साथ-साथ शारीरिक समस्याओं से उबरने में भी मदद कर सकता है. जानिए ड्रैगन फ्रूट या ‘कमलम’ के बारे में.

ड्रैगन फ्रूट या कमलम क्या है?

ड्रैगन फ्रूट (Dragon Fruit) का साइंटिफिक नाम हिलोसेरस अंडस (Hiloceras Undus) है. गुजरात सरकार ने इसका नाम बदल दिया है. उनका तर्क है कि किसी फ्रूट में ड्रैगन शब्द का इस्तेमाल ठीक नहीं लग रहा है. ड्रैगन फ्रूट कमल (Lotus) जैसा दिखता है. इसलिए इस फ्रूट का नाम संस्कृत शब्द ‘कमलम’ (Kamalam) रख दिया गया है. यह फल मुख्य रूप से दक्षिण अमेरिका (South America) में पाया जाता है. इसके तने गूदेदार और रसीले होते हैं.

ड्रैगन फ्रूट दो तरह का होता है – एक सफेद गूदे वाला और दूसरा लाल गूदे वाला. आपको बता दें कि इसके फूल बहुत ही सुगंधित होते हैं, जो रात में ही खिलते हैं और सुबह तक झड़ जाते हैं. इसके फायदों को देखते हुए अब इसे पटाया (Pattaya), क्वींसलैंड (Queensland), पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया (West Australia) और न्यू साउथ वेल्स (New South Wales) में भी उगाया जाने लगा है. इससे सलाद, मुरब्बा, जेली और शेक बनाए जाते हैं.

ड्रैगन फ्रूट के फायदे – Benefits of Dragon Fruit in Hindi

ड्रैगन फ्रूट के कई फायदे (Dragon Fruit Benefits) हैं, जो शारीरिक विकारों से निपटने में हमारी मदद कर सकते हैं. ये किसी भी बीमारी को जड़ से खत्म तो नहीं करते लेकिन उसके लक्षणों को कम करके आराम जरूर दिला सकते हैं.

1. डायबिटीज में खाएं ड्रैगन फ्रूट

डायबिटीज (Diabetes) दुनिया के सबसे खतरनाक रोगों में से एक है. ड्रैगन फ्रूट में प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट के साथ-साथ फ्लेवोनोइड, फेनोलिक एसिड, एस्कॉर्बिक एसिड और फाइबर (Flavonoids, Phenolic Acid, Ascorbic Acid And Fiber) पाए जाते हैं. ये हमारे शरीर में ब्लड शुगर (Blood Sugar) की मात्रा को नियंत्रित करने में मदद करते हैं. जिन लोगों को डायबिटीज नहीं है, उनके लिए ड्रैगन फ्रूट का सेवन डायबिटीज से बचने का विकल्प है.

2. हृदय के लिए फायदेमंद है ड्रैगन फ्रूट

डायबिटीज के कारण हृदय रोग (Heart Disease) की समस्या होना आम है. इसकी वजह है शरीर में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस (Oxidative Stress) का बढ़ता प्रभाव. ऐसे में डॉक्टर्स द्वारा एंटीऑक्सीडेंट गुणों (Antioxidant Properties) से भरपूर फल और सब्जियां खाने की सलाह दी जाती है. इसके लिए आपके पास फलों में कमलम (Kamalam) एक बेहतर विकल्प है.

3. कैंसर का रिस्क कम करेगा ड्रैगन फ्रूट

रिसर्च के अनुसार, ड्रैगन फ्रूट से कैंसर (Dragon Fruit In Cancer Treatment) में भी आराम मिलता है. इसमें एंटीट्यूमर, एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं. कई रिसर्च में साबित हुआ है कि ड्रैगन फ्रूट में पाए जाने वाले ये खास गुण महिलाओं को ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) से बचाते हैं.

4. नियंत्रण में रहेगा कोलेस्ट्रॉल

आज-कल कोलेस्ट्रॉल को (Cholesterol) नियंत्रित रखना भी एक चुनौती बन गया है. आपका बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल शरीर में कई गंभीर बीमारियों की वजह बन सकता है. इससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक भी हो सकता है. इसके लिए ड्रैगन फ्रूट का सेवन (Benefits Of Dragon Fruit) फायदेमंद साबित हो सकता है.

यह भी पढ़ें- बाथरूम में आते हैं सबसे ज्‍यादा Heart Attack, अधिकतर लोग करते हैं ये गलती

5. पेट संबंधी समस्याओं में फायदेमंद 

पेट संबंधित समस्याओं (Benefits Of Dragon Fruit) से आराम पाने के लिए भी ड्रैगन फ्रूट का सेवन किया जा सकता है. इसमें मौजूद ओलिगोसैकराइड (एक तरह का केमिकल कंपाउंड) के प्रीबायोटिक गुण आंत में हेल्दी बैक्टीरिया को बढ़ाते हैं. इससे पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद मिल सकती है.

6. गठिया में असरदार

गठिया या आर्थराइटिस (Arthritis) ऐसी शारीरिक समस्या है, जो आपके जोड़ों को प्रभावित करती है. इसमें जोड़ों में दर्द होता है, सूजन आती है और उठने-बैठने में समस्या होती है. शरीर में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस का बढ़ जाना इसके पीछे का एक मुख्य कारण है. इसे कंट्रोल करने के लिए ड्रैगन फ्रूट्स का सेवन लाभदायक हो सकता है. 

7. इम्युनिटी बूस्टर है कमलम

मजबूत इम्युनिटी हमें कई रोगों से बचाने (Benefits Of Dragon Fruit) में मदद कर सकती है. इम्यून सिस्टम शरीर के कुछ खास अंगों, सेल्स और केमिकल से मिल कर बना होता है और कई संक्रमणों को खत्म करने में मदद करता है. कोरोना काल (Coronavirus) में इम्यून सिस्टम मजबूत रखना बेहद जरूरी है. इसके लिए ड्रैगन फ्रूट का सेवन बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है.

8. डेंगू में लाभकारी

ड्रैगन फ्रूट का उपयोग डेंगू के उपचार (Benefits Of Dragon Fruit) में भी मददगार है. इसके लिए ड्रैगन फ्रूट के बीज का इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके बीजों में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीवायरल गुण पाए जाते हैं, जो डेंगू के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं.

9. हड्डियों और दांत के लिए लाभदायक

ड्रैगन फ्रूट खाने से हड्डियों और दांतों को मजबूती (Benefits Of Dragon Fruit) मिलती है. इसकी मुख्य वजह है इसमें पाई जाने वाली कैल्शियम और फॉस्फोरस की मात्रा.

यह भी पढ़ें- Piles Treatment: बवासीर के लिए रामबाण है हल्दी, ऐसे करें पक्का इलाज, दोबारा नहीं होंगे परेशान

10. सेवन से अस्थमा होगा कंट्रोल 

अस्थमा एक क्रोनिक बीमारी (Chronic Disease) है, जिसमें सांस लेने में तकलीफ होती है. इससे आराम पाने में भी ड्रैगन फ्रूट का उपयोग किया जा सकता है. ड्रैगन फ्रूट किसी भी तरह की एलर्जी में लाभदायक है.

11. गर्भावस्था में लाभदायक

लोगों के मन में यह सवाल आता होगा कि ड्रैगन फ्रूट प्रेगनेंसी (Benefits Of Dragon Fruit In Pregnancy) में खाना चाहिए या नहीं. गर्भवती महिला के लिए भी ड्रैगन फ्रूट खाने के फायदे देखे गए हैं. गर्भावस्था के दौरान महिला के शरीर में एनीमिया (Anaemia) के कारण खून की कमी हो जाती है, जिससे कई गंभीर समस्याओं, जैसे गर्भपात, जन्म के समय शिशु की मृत्यु, समय से पहले प्रसव आदि का खतरा रहता है.

ड्रैगन फ्रूट में आयरन की मात्रा पाई जाती है, जो गर्भवती महिलाओं में एनीमिया की समस्या को कम करने में मदद कर सकता है.

12. भूख बढ़ाने में ड्रैगन फ्रूट्स के फायदे

ड्रैगन फ्रूट भूख बढ़ाने में भी लाभदायक (Benefits Of Dragon Fruit) है. ड्रैगन फ्रूट में पाए जाने वाले फाइबर और विटामिन पेट संबंधी विकारों जैसे- पाचन क्रिया जैसी समस्याओं को दूर करने में कारगर सिद्ध होते हैं, जिससे भूख बढती है.

13. मस्तिष्क के लिए ड्रैगन फ्रूट के फायदे

ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस (Oxidative Stress) शरीर ही नहीं, बल्कि मानसिक नुकसान भी पहुंचा सकता है. इसके कारण ब्रेन डिसफंक्शन, जैसे अल्जाइमर रोग, पार्किन्सन रोग व मिर्गी का दौरा पड़ सकता है.

14. कमलम से स्वस्थ होगी त्वचा

अगर आप घर में कोई ऑर्गेनिक फेस पैक बना रहे हैं तो उसमें ड्रैगन फ्रूट भी डाल सकते हैं. इसमें पाया जाने वाला विटामिन-बी3 ड्राई स्किन को नमी प्रदान कर उसे चमकदार बनाने में मददगार साबित हो सकता है

15. ड्रैगन फ्रूट से बाल होंगे स्वस्थ

एक शोध में इस बात का जिक्र किया गया है कि ड्रैगन फ्रूट कई पोषक तत्वों से समृद्ध है, जिनमें फैटी एसिड भी शामिल है. यह हमारे बालों से जुड़ी रूसी जैसी समस्या को कम करने में सहायक हो सकता है.

यह भी पढ़ें- Motion Sickness: सफर में क्यों आती है उल्टी? जानिए वजह और रामबाण इलाज, दोबारा न होंगे परेशान

VIDEO

ड्रैगन फ्रूट के नुकसान – Side Effects of Dragon Fruit in Hindi

गौरतलब है कि अभी तक ड्रैगन फ्रूट से संबंधित कोई खास नुकसान (Dragon Fruit Side Effects) सामने नहीं आए हैं, फिर भी ड्रैगन फ्रूट के नुकसान पर ध्यान देना जरूरी है. 

1. ड्रैगन फ्रूट को वजन घटाने में मददगार माना जाता है, लेकिन इसमें अधिक मात्रा में शुगर पाई जाती है. इसलिए इसका ज्यादा सेवन आपके लिए खतरनाक भी साबित हो सकता है. 
2. इस फल की बाहरी परत न खाएं क्योंकि इसमें कीटनाशक पाए जाते हैं.

ड्रैगन फ्रूट खाने का तरीका – How to Eat Dragon Fruit in Hindi

यह भी जानना जरूरी है कि ड्रैगन फ्रूट कब और कैसे खाएं (How to Eat Dragon Fruit in Hindi).

1. इसे सीधे काटकर खाया जा सकता है.
2. इसे फ्रीज करके भी खाया जा सकता है.
3. इसे फ्रूट चाट या सलाद के रूप में भी खाया जा सकता है.
4. मुरब्बा, कैंडी या जेली बनाने के लिए भी इसका उपयोग किया जा सकता है.
5. आप इसका शेक भी पी सकते हैं.

मात्रा 

एक बार में एक ड्रैगन फ्रूट खाया जा सकता है, लेकिन ध्यान रहे, हर व्यक्ति की शारीरिक क्षमता अलग-अलग होती है. इसलिए यह खाने से पहले किसी आहार विशेषज्ञ से पूछ लेना बेहतर रहेगा. सुबह नाश्ते में इसका शेक या शाम को स्नैक्स टाइम में फ्रूट चाट के रूप में इसका सेवन किया जा सकता है.

सेहत से जुड़े अन्य महत्वपूर्ण लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV





Source link

From Biryani To Butter Naan: The Masala Story Is A One-Stop Destination For All Your Indian Cuisine Cravings


The Masala Story is a perfect place to order from if you fancy traditional Indian food.

Highlights

  • The variety and quality of starters served to us was laudable
  • We recommend Chicken Tikka and Lamb Galouti Kebab.
  • The main course had many options for breads, curries, dal and biryani.

Catering to all our food cravings, even during the COVID crisis, were a number of cloud kitchens across the country. For the uninitiated, a could kitchen is a low-cost model where kitchens are rented out and are used for food deliveries via food aggregators. Based on the same concept, The Masala Story (by Punjabi By Nature) is delivering the best of Indian dishes right at your doorstep. It is a perfect place to order from if you fancy traditional (read: ‘masaledar’) Indian food.  

The Masala Story has an elaborate food menu that boasts of serving ‘home-like’ food. We started our evening with a variety of starters as per the chef’s recommendation. The variety and quality of starters served to us was laudable. This delectable array included Murgh Malai Kebab, Chicken Tikka, Lamb Galouti Kebab, Fish Tikka, and Mutton Seekh Kebab from the non-veg section, whereas veg seekh, Paneer Tikka, Dahi Kebab and veg Galouti Kebab from the veg section. We recommend Chicken Tikka and Lamb Galouti Kebab. Both tikka and kebab were not just succulent but had the right flavour of charcoal and garlic. If you are a vegetarian, we recommend you to simply go for veg galouti kebab and dahi kebab. The lavishing and mouth-watering starters proved to be a great start for our meal.

Newsbeep

Also Read: The BBQ Company: This Restaurant In Delhi Is Truly A Meat-Lover’s Paradise

56p8nkqo

The Masala Story has an elaborate food menu that boasts of serving ‘home-like’ food.

Promoted

This was followed by the main course which had many options for breads, curries, dal and biryani. Among the other offerings, Tawa Chicken, Lahorii Masala Paneer, Chef’s Special Mutton Curry and Pindi Chana are completely a treat to your taste buds. In breads too, they have quite an interesting list that includes Activated Charcoal Butter Naan, Besan ki Missi Roti, Pudina Parantha and so on. We also tried their Kolkata Biryani, which was an absolute delight. It is exceptionally light, low on essence and colour, and aptly spiced – using just the right amount of spices to enhance the taste. In a huge handi, rice is steamed with cooked chicken, spices and the much-loved potatoes.

Moving on to the desserts for the day, we had lip-smacking Kesar Kheer. The Masala Story offers very limited dessert options (with just gulab jamun, phirni and kesar kheer) but one thing that was constant was the taste! 
  
Where: The Masala Story (Multiple outlets in Delhi NCR)
Price: INR 700 for two (approximately)



Source link

Preparations for the nasal vaccine in the country, India will conduct the first and second phase trials in Biotech Nagpur | देश में नाक से दी जाने वाली वैक्सीन की तैयारी, भारत बायोटेक नागपुर में करेगा पहले और दूसरे चरण का ट्रायल


  • Hindi News
  • Happylife
  • Preparations For The Nasal Vaccine In The Country, India Will Conduct The First And Second Phase Trials In Biotech Nagpur

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

13 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • वैक्सीन के ट्रायल में करीब 45 वॉलंटियर्स का चुनाव किया जाएगा
  • ट्रायल में 18 से 65 साल के वॉलंटियर्स को शामिल किया जाएगा

कोरोना से निपटने के लिए देश में जल्द ही नाक से दी जाने वाली नेजल वैक्सीन का ट्रायल शुरू होगा। इसे ‘कोवैक्सीन’ तैयार करने वाली हैदराबाद की कम्पनी भारत बायोटेक ने तैयार किया है। नेजल वैक्सीन के पहले और दूसरे चरण का ट्रायल नागपुर में होगा।

एक बार ही देना होगा डोज
भारत बायोटेक के फाउंडर डॉ. कृष्णा एल्ला के मुताबिक, नेजल वैक्सीन को एक बार देना होगा। अब तक हुई रिसर्च में यह बेहतर विकल्प साबित हुई है। इसके लिए हमनें वाशिंगटन यूनिवर्सिटी के साथ करार किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वैक्सीन के ट्रायल में करीब 45 वॉलंटियर्स का चुनाव किया जाएगा।

क्यों खास है नेजल वैक्सीन?
देश में अब तक भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सीन’ और सीरम इंस्टीट्यूट की ‘कोविशील्ड’ को इमरजेंसी में इस्तेमाल करने की अनुमति मिली है। कोरोना की वैक्सीन का डोज हाथ पर इंजेक्शन लगातार दिया जा रहा है, लेकिन नेजल वैक्सीन नाक में स्प्रे के जरिए दी जाएगी।

वैज्ञानिकों का मानना है कि नाक के जरिए कोरोना शरीर में एंट्री करता और हालत बिगाड़ता है, इसलिए नेजल स्प्रे असरदार साबित हो सकती है।

इम्यून रिस्पॉन्स बेहतर होता है

वाशिंगटन स्कूल ऑफ मेडिसिन ने अपनी एक रिसर्च में नेजल वैक्सीन को बेहतर वैक्सीन बताया है। यूनिवर्सिटी की रिसर्च रिपोर्ट के मुताबिक, अगर कोरोना की वैक्सीन नाक के जरिए दी जाती है तो इम्यून रिस्पॉन्स बेहतर होता है।



Source link

Aaj Ka Panchang 21 January 2021: पौष मास की गुप्त नवरात्र शुरू, जानिए गुरुवार का पंचांग, शुभ मुहूर्त और राहुकाल



पौष शुक्ल पक्ष की उदया तिथि अष्टमी और दिन गुरुवार का दिन है। अष्टमी तिथि दोपहर 3 बजकर 51 मिनट तक ही रहेगी उसके बाद नवमी तिथि लग जाएगी।जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से गुरुवार का पंचांग।



Source link

Hindi News – कई बीमारियों को दूर रखता है काफिर नींबू, स्ट्रेस से जुड़ा है कनेक्शन– News18 Hindi


काफिर नींबू (Kaffir Lime) हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद होता है. इसके पत्तों (Leaves) और तेल (Oil) को औषधी के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है. यह एल्कलॉएड, सिट्रोनेलोल, लिमोनेन, और नेरोल जैसे पौषक तत्व से भरपूर है. अनोखे स्वाद वाले काफिर नींबू का इस्तेमाल पकवानों में स्वाद बढ़ाने के लिए भी किया जाता है. वहीं इसके पत्तों का भी इस्तेमाल कुकिंग में किया जाता है. हालांकि इसका स्वाद बाकी नींबुओं की तरह ही होता है लेकिन इसके पत्ते, तेल, और छिलकों को अलग-अलग बीमारियों को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

ओरल हेल्थ

काफिर का हर हिस्सा सेहत के लिए फायदेमंद है. मसूड़ों से जुड़ी समस्याओं से निजात पाने के लिए इसके पत्तों को रगड़ने से बहुत फायदा मिलता है. इससे मसूड़ें हेल्दी रहते हैं और यह मुंह के अंदर जमे बैक्टीरिया को खत्म करता है जो खाने की वजह से अंदर पनपते हैं. वहीं काफिर के ऑयल का इस्तेमाल टूथपेस्ट और माउथवॉश के रूप में भी किया जाता है, जो ओरल हेल्थ की देखभाल करने में मदद करता है.

इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में जरूर खाएं ड्रैगन फ्रूट, इम्यूनिटी होती है मजबूत

सूजन करे कम
काफिर के पत्ते और ऑयल दर्द और सूजन जैसी समस्याओं से निजात दिलाने में मदद करते हैं. इसमें मौजूद एंटी इन्फ्लमेट्री प्रभाव अर्थराइटिस, माइग्रेन, सिरदर्द जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में मदद करता है. इसके अलावा काफिर का इस्तेमाल कीट निवारक के रूप में भी किया जाता है. इसमें मौजूद सिट्रोनेलोल, और लिमोनेन तत्व कीड़ों के कारण होने वाली जलन को कम करते हैं और तुरंत राहत देते हैं.

इम्यूनिटी करता है बूस्ट

काफिर में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण इम्यूनिटी को बूस्ट करने के लिए प्रभावी माने जाते हैं. यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल संबंधी बीमारियों को रोकने के लिए भी जाना जाता है. वहीं अगर आप कब्ज या फिर पेट से जुड़ी अन्य परेशानियों से जूझ रहे हैं तो काफिर नींबू का सेवन कर सकते हैं. यह पाचन तंत्र को भी मजबूत करता है.

त्वचा और बालों के लिए है फायदेमंद

काफिर नींबू का रस कोशिकाओं से जुड़ी समस्याओं को धीमा करता है जिससे दाग-धब्बे, पिंपल्स और त्वचा से जुड़ी अन्य परेशानियों को दूर करने में मदद मिलती है. इसके अलावा यह बालों से जुड़ी समस्याओं को दूर करता है. काफिर नींबू के रस को स्कैल्प में लगाने से हेयर फॉल जैसी समस्या से निजात मिलती है.

ब्लड को करता है डिटॉक्स

यह ब्लड को डिटॉक्सीफाई करता है. अगर आप ब्लड से जुड़ी किसी परेशानी का सामना कर रहे हैं तो काफिर नींबू का सेवन कर सकते हैं. इसमें मौजूद पोषक तत्व ब्लड से जुड़ी बीमारियों को खत्म करते हैं और तत्काल राहत प्रदान करते हैं.

इसे भी पढ़ेंः क्‍या है इंटरमिटेंट फास्टिंग, जानें इस उपवास में क्या खाएं और क्या नहीं

स्ट्रेस करता है कम

एरोमाथेरेपी में काफिर ऑयल का इस्तेमाल किया जाता है. स्ट्रेस या फिर एंग्जाइटी दूर करने के लिए काफिर के ऑयल का उपयोग किया जाता है. ऐसा माना जाता है कि तेल के वाष्प को सांस लेने से शरीर और मन रिलैक्स रहता है.(Disclaimer:इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)



Source link

vegetarianism benefits low cancer risk to better sex life quit non veg | Quit Non Veg: Vegetarian खाना सेहत के लिए होता है बेहद फायदेमंद, इन बीमारियों से होता है बचाव


नई दिल्ली. अच्छी हेल्थ, फिटनेस और एनर्जी के लिए काफी लोग मांसाहार (Non Vegetarian Food) का सेवन करते हैं. अगर आपको भी लगता है कि मांसाहार खाकर ही आप स्वस्थ और तंदुरुस्त रह सकते हैं तो अब सोचने का नजरिया बदलने का समय आ गया है. दरअसल, मीट (Meat) खाने की वजह से आपकी सेहत (Health) को नुकसान पहुंच रहा है. मांस में कई तरह के संक्रमण होते हैं, जो आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक होते हैं.

अगर आप नॉन वेजिटेरियन खान-पान छोड़कर (Quit Non Veg) शाकाहारी बनना चाहते हैं तो जान लीजिए शाकाहार (Vegetarianism) के ये सबसे बड़े फायदे.

शाकाहारी होने के खास फायदे

शाकाहारी खाना (Vegetarian Diet) आपकी सेहत के लिए बहुत लाभकारी होता है. इससे आपकी जिंदगी पहले से भी ज्यादा बेहतर बन सकती है. जानिए शाकाहारी खाना खाने के फायदे (Vegetarian Diet Benefits) .

यह भी पढ़ें- Toilet में बैठकर भूल से भी न चलाएं Phone, वरना हो जाएगी जानलेवा बीमारी

शाकाहारी खाने से घटता है वजन

2016 में हुई एक रिसर्च (Research) में सामने आया है कि शाकाहारी खाना (Vegetarian Food) खाने से वजन जल्दी घटता (Weight Loss) है. दरअसल शाकाहारी भोजन में कम वसा पाई जाती है. साथ ही शाकाहारी खाना मेटाबॉलिज्म (Metabolism) को बढ़ाकर वजन घटाने में मददगार साबित होता है. इसके अलावा शाकाहारी लोग मांसाहारियों की तुलना में ज्यादा कैलोरी (Calories) भी बर्न करते हैं.

डायबिटीज से होता है बचाव

शाकाहारी खाने (Vegetarian Diet) में अनाज, हरी पत्तेदार सब्जियां, फल और नट्स शामिल होते हैं. इन खाद्य पदार्थों में ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Glycaemic Index) काफी कम होता है. इसकी वजह से शुगर लेवल (Sugar Level) कंट्रोल में रहता है. इसके अलावा मांसाहारियों की तुलना में शाकाहारियों में डायबिटीज (Diabetes) होने का खतरा पचास फीसदी तक कम होता है.

कंट्रोल में रहता है ब्लड प्रेशर

कैंब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, शाकाहारी लोगों में मांसाहारी लोगों की तुलना में ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) कम होता है. दरअसल, पौधों पर आधारित खाद्य पदार्थों में वसा, सोडियम और कोलेस्ट्रॉल कम मात्रा में होता है. इसकी वजह से ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रहता है.

हार्ट रहता है स्वस्थ

अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रिशन के अनुसार, शाकाहारियों में मांसाहारियों की तुलना में हार्ट (Heart) की प्रॉब्लम एक तिहाई कम होती है. स्टडी के अनुसार, मांसाहारी लोगों में कोलेस्ट्रॉल का स्तर काफी ज्यादा पाया जाता है, जो हार्ट की धमनियों को अवरुद्ध कर देता है. इसकी वजह से हार्ट प्रॉब्लम (Heart Problem) का खतरा बढ़ जाता है.

यह भी पढ़ें- Nose Hair: सेहत के लिए वरदान हैं नाक के बाल, उखाड़ने पर जा सकती है जान

कैंसर का खतरा होता है कम

कैंसर एपिडेमियोलॉजी, बायोमार्कर एंड प्रिवेंशन नामक मैग्जीन में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, सब्जियों और फलों को खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity) बढ़ती है. इससे मांसाहारियों की तुलना में शाकाहारियों को कैंसर (Cancer) का खतरा कम होता है.

घटता है अस्थमा का खतरा

स्वीडिश अध्ययन के मुताबिक, शाकाहारी लोगों में अस्थमा (Asthma) का खतरा भी कम होता है. वहीं मांसाहारियों को अस्थमा होने का खतरा बना रहता है.

सेक्स लाइफ बनती है बेहतर

यूनाइटेड किंगडम में हुए एक शोध (Research) के अनुसार, मांसाहारी लोगों की सेक्स लाइफ (Sex Life) शाकाहारियों की तुलना में बेकार होती है. मांसाहारी लोग अपनी सेक्स लाइफ से खुश नहीं होते हैं. शोध के मुताबिक, 57 फीसदी शाकाहारी सप्ताह में 3-4 बार सेक्स (Sex) करते हैं, वहीं 49 फीसदी मांसाहारी लोग सप्ताह में मात्र एक या दो बार ही सेक्स करते हैं. शोध में 95 फीसदी शाकाहारियों ने माना कि वे अपनी सेक्स लाइफ से खुश हैं. 

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें





Source link

CLAT 2021| Common law admission test will be now held on 13 June instead of 9 May, candidates can apply online till 31 March | 9 मई की बजाय अब 13 जून को होगा कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट, 31 मार्च तक ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं कैंडिडेट्स


  • Hindi News
  • Career
  • CLAT 2021| Common Law Admission Test Will Be Now Held On 13 June Instead Of 9 May, Candidates Can Apply Online Till 31 March

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

14 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

कॉन्सोर्शियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज (CNLU) ने कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (CLAT) की तारीख में बदलाव किया है। इस बारे जारी ऑफिशियल नोटिफिकेशन के मुताबिक अब परीक्षा 13 जून को आयोजित होगी। नोटिफिकेशन क्लैट परीक्षा पोर्टल, consortiumofnlus.ac.in पर जारी किया जाएगा। इससे पहले जारी शेड्यूल के मुताबिक CLAT- 2021 की तारीख 9 मई निर्धारित की गई थी।

CBSE बोर्ड परीक्षा के चलते तारीख में बदलाव

जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक CBSE बोर्ड परीक्षा की तारीखों के मद्देनजर CLAT- 2021 की तारीख में संशोधन किया गया है। दरअसल, CBSE बोर्ड परीक्षाओं के कई स्टूडेंट्स CLAT यूजी परीक्षा में भी शामिल होते हैं। ऐसे क्लैट और बोर्ड परीक्षा की तारीख में हो रहे क्लैश के चलते CNLU ने यह फैसला किया। क्लैट का आयोजन देश की विभिन्न नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज में पांच साल बैचलर्स डिग्री (LLB) प्रोग्राम और मास्टर्स डिग्री (LLM) में एडमिशन के लिए किया जाता है।

31 मार्च तक जारी रहेगी एप्लीकेशन प्रोसेस

CLAT 2021 परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस 1 जनवरी से शुरू हो चुकी है। परीक्षा में शामिल होने के इच्छुक कैंडिडेट 31 मार्च 2021 तक आवेदन कर सकते हैं। आवेदन परीक्षा पोर्टल, consortiumofnlus.ac.in के जरिए ऑनलाइन स्वीकार किए जाएंगे।

रजिस्ट्रेशन फीस

लॉ कॉलेज में एडमिशन के लिए होने वाले एंट्रेंस एग्जाम क्लैट- 2020 के रजिस्ट्रेशन के लिए कैंडिडेट्स 4000 रुपये की रजिस्ट्रेशन फीस जमा करनी होगी। कैंडिडेट्स ऑनलाइन मोड के जरिए रजिस्ट्रेशन फीस भर सकते हैं। हालांकि, एससी, एसटी, एससटी और ओबीसी कैटेगरी के कैंडिडेट्स के लिए एप्लीकेशन फीस 3500 रुपए तय की गई है।

एग्जाम पैटर्न

परीक्षा में इंग्लिश, करंट अफेयर्स, लीगल रीजनिंग, क्वांटिटेटिव टेक्नीक और लॉजिकल रीजनिंग और के 150 ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल पूछें जाएंगे। साथ ही यूजी और पीजी दोनों के लिए हर गलत आंसर के लिए 0.25 मार्क्स की निगेटिव मार्किंग की जाएगी।

यह भी पढ़ें-

CLAT 2021:कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट के लिए आज से शुरू होगी एप्लीकेशन प्रोसेस, 31 मार्च तक आवेदन कर सकते हैं कैंडिडेट्स

JEE एडवांस्ड 2021:केंद्रीय शिक्षा मंत्री आज करेंगे JEE एडवांस्ड की तारीख का ऐलान, IIT में एडमिशन के लिए जरूरी एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया के बारे में भी देंगे जानकारी



Source link

Sarkari Bharti 1128 Vacancies For 10th And 12th Pass Apply Rajasthan Forest Guard Recruitment – इस सरकारी विभाग में हैं 10वीं-12वीं पास के लिए 1100 से ज्यादा नौकरियां, यहां करें आवेदन


सरकारी नौकरी 2021
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

प्राकृतिक वातावरण के बीच में रहकर सरकारी नौकरी करने के इच्छुक युवाओं के लिए सुनहरा मौका है। राजस्थान के वन विभाग में 1100 से ज्यादा पद खाली पड़े हैं। इन पदों को भरने के लिए राजस्थान कर्मचारी चयन आयोग (आरएसएमएसएसबी) ने भर्ती अभियान शुरू किया है। आरएसएमएसएसबी की ओर से फॉरेस्टर ( वनपाल ) और फॉरेस्ट गार्ड ( वनरक्षक ) के 1128 पदों भर्ती की जा रही है। 

आरएसएमएसएसबी की ओर से गुरुवार को ही इन पदों के लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख बढ़ाई गई है। अब ऑनलाइन आवेदन की आखिरी तारीख शुक्रवार, 22 जनवरी, 2021 होगी। आवेदन फीस भी 22 जनवरी, 2021 तक जमा करवाई जा सकती है। योग्य और इच्छुक आवेदक sso.rajasthan.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

वनरक्षक के 1041 पद हैं जबकि वनपाल के 87 पद हैं। वहीं अगर आपके आवेदन फॉर्म में कोई त्रुटि रह जाती है और आपके अनुसार उसमें सुधार करना या उसे बदलना जरूरी है तो आप अब अंतिम तिथि के अगले सात दिनों के अंदर निर्धारित शुल्क जमा करवाकर आवेदन फॉर्म में संशोधन कर सकते हैं। 

ये शैक्षणिक योग्यता जरूरी

  • फॉरेस्ट गार्ड ( वनरक्षक ) के लिए 10वीं पास
  • फॉरेस्टर ( वनपाल ) के लिए 12वीं पास 

ये होगी आयु सीमा  

  • फॉरेस्ट गार्ड ( वनरक्षक ) के लिए 18 वर्ष से 24 वर्ष 
  • फॉरेस्टर ( वनपाल ) के लिए 18 वर्ष से 40 वर्ष
उपरोक्त पदों के लिए अधिकतम आयु की गणना 01 जनवरी , 2021 से की जाएगी। 

चयन का तरीका

  • लिखित परीक्षा और शारीरिक दक्षता परीक्षा (पीईटी)
  • शारीरिक दक्षता परीक्षा केवल क्वालीफाइंग होगी
  • फाइनल मेरिट लिखित परीक्षा के मार्क्स से बनेगी

ये होगा वेतनमान

  • फॉरेस्ट गार्ड- पे मैट्रिक्स लेवल – 4 
  • फॉरेस्टर – पे मैट्रिक्स लेवल – 8

आवेदन शुल्क 

  • सामान्य/ईडब्ल्यूएस – 450 रुपए
  • नॉन क्रीमी लेयर ओबीसी/एमबीसी – 350 रुपए
  • एससी, एसटी – 250 रुपए 
प्राकृतिक वातावरण के बीच में रहकर सरकारी नौकरी करने के इच्छुक युवाओं के लिए सुनहरा मौका है। राजस्थान के वन विभाग में 1100 से ज्यादा पद खाली पड़े हैं। इन पदों को भरने के लिए राजस्थान कर्मचारी चयन आयोग (आरएसएमएसएसबी) ने भर्ती अभियान शुरू किया है। आरएसएमएसएसबी की ओर से फॉरेस्टर ( वनपाल ) और फॉरेस्ट गार्ड ( वनरक्षक ) के 1128 पदों भर्ती की जा रही है। 

आरएसएमएसएसबी की ओर से गुरुवार को ही इन पदों के लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख बढ़ाई गई है। अब ऑनलाइन आवेदन की आखिरी तारीख शुक्रवार, 22 जनवरी, 2021 होगी। आवेदन फीस भी 22 जनवरी, 2021 तक जमा करवाई जा सकती है। योग्य और इच्छुक आवेदक sso.rajasthan.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

वनरक्षक के 1041 पद हैं जबकि वनपाल के 87 पद हैं। वहीं अगर आपके आवेदन फॉर्म में कोई त्रुटि रह जाती है और आपके अनुसार उसमें सुधार करना या उसे बदलना जरूरी है तो आप अब अंतिम तिथि के अगले सात दिनों के अंदर निर्धारित शुल्क जमा करवाकर आवेदन फॉर्म में संशोधन कर सकते हैं। 

ये शैक्षणिक योग्यता जरूरी

  • फॉरेस्ट गार्ड ( वनरक्षक ) के लिए 10वीं पास
  • फॉरेस्टर ( वनपाल ) के लिए 12वीं पास 



Source link

After several months in Punjab, schools open again today, classes will be started for students from 5th to 12th. | पंजाब में कई महीनों बाद आज फिर खुले स्कूल, 5वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए लगेंगी क्लासेस


  • Hindi News
  • Career
  • After Several Months In Punjab, Schools Open Again Today, Classes Will Be Started For Students From 5th To 12th.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

14 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना के कारण कई महीनों से बंद से पड़े स्कूल एक बार फिर खुलना शुरू हो गए हैं। इसी क्रम में पंजाब में भी राज्य सरकार के आदेश के बाद 5वीं से 12वीं तक के लिए गुरुवार, 7 जनवरी से स्कूलों को खोल दिया गया है। इसके तहत सरकारी और गैर- सरकारी दोनों स्कूलों को खोल दिया गया है। कोरोना काल में खुले स्कूल के पहले दिन सभी कोरोना गाइडलाइंस फॉलो होती नजर आई।

हाथ सैनिटाइजेशन के बाद मिली एंट्री

स्कूल के पहले दिन अमृतसर में श्री राम आश्रम पब्लिक स्कूल की तस्वीरें सामने आई है। यहां एंट्री गेट पर स्टूडेंट्स को कैंपस में एंट्री देने से स्टूडेंट्स का तापमान जांचा गया और हाथ सैनिटाइजेशन के बाद स्टूडेंट्स को स्कूल के अंदर जाने की अनुमति दी गई।

10 से दोपहर 3 बजे तक लगेगा स्कूल

राज्य सरकार की तरफ से स्कूलों को लेकर जारी गाइडलाइंस के मुताबिक सरकार ने स्कूलों की टाइमिंग फिक्स की है। इसके मुताबिक स्कूलों की टाइमिंग 10 से दोपहर 3 बजे तक होगी। साथ ही सिर्फ 5वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स को ही स्कूलों में आने की अनुमति दी गई है। वहीं, अन्य राज्यों की बात करें तो ओडिशा में भी स्कूल खोलने की तैयारी जारी है। राज्य में 10वीं और 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए स्कूल 8 जनवरी के बाद फिर से खोले जाएंगे।

गुजरात में 11 जनवरी से खुलेंगे स्कूल

गुजरात में भी 11 जनवरी से स्कूल दोबारा खोले जाएंगे। यहां राज्य सरकार ने फैसला किया कि 10वीं और 12वीं के लिए स्कूल के साथ ही फाइनल ईयर के यूजी और पीजी छात्रों के लिए कॉलेजों को 11 जनवरी से फिर से खोल दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें-

स्कूल री-ओपनिंग:कई महीनों बाद बिहार, महाराष्ट्र समेत अन्य राज्यों में फिर खुले स्कूल, बारी-बारी से बुलाए जा रहे 50% स्टूडेंट्स

नए साल के साथ खुले स्कूल:कर्नाटक, केरल और असम में कई महीनों बाद फिर खुले स्कूल, सेनिटाइजेशन और थर्मल स्क्रीनिंग के बाद स्टूडेंट्स को मिली एंट्री



Source link

Sarkari Naukri 2021 Live Updates Today: Apply Online For India Post, Uppcl, Nalco, Ecil Etc. Govt Jobs – Sarkari Naukri 2021: 8वीं पास से लेकर डिग्री धारकों के लिए नौकरी के मौके, तुरंत कर लें आवेदन


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

खास बातें

Sarkari Naukri 2021 LIVE Updates: हर साल बहुत से युवा सरकारी नौकरी की तैयारी शुरू करते हैं। कुछ युवा सरकारी नौकरी की तैयारी बारहवीं के बाद शुरू कर देते है कुछ स्नातक के बाद। इस लिए युवाओं को अपनी योग्यता के अनुसार नौकरी निकलने का इंतजार होता है। परन्तु कभी कभी आवेदन निकाल भी जाते हैं और उम्मीदवारों को पता भी नहीं चल पाता। इस लिए amarujala.com यहां रोज आपको  नई सरकारी नौकरी के लिए निकले आवेदनों के बारे में जानकारी दे रहे हैं। साथ ही आप अब घर बैठे करें सरकारी नौकरी की पक्की तैयारी सिर्फ Safalta.com पर। आगे पढ़ें…

लाइव अपडेट

04:23 PM, 20-Jan-2021

NHM Recruitment 2021: केवल मेरिट से ही होगा सिलेक्शन, करें आवेदन

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM), हरियाणा में कई पदों पर भर्तियां होने जा रही हैं। जिसके लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 31 जनवरी, 2021 तक सक्रिय रहेगी। 18 वर्ष या इससे ऊपर वाले युवा आवेदन करने के योग्य होंगे। साथ ही किसी प्रकार का आवेदन शुल्क भी नहीं देना होगा। नौकरी से संबंधित पूरी जानकारी।

ऑनलाइन आवेदन लिंक(Apply Online)



Source link

RRB NTPC Exam| Exam City, schedule and shift details for second phase examination of NTPC released, exam will start from January 16 | दूसरे चरण की परीक्षा के लिए एग्जाम सिटी, शेड्यूल और शिफ्ट की डिटेल्स जारी, 16 जनवरी से शुरू होगी परीक्षा


  • Hindi News
  • Career
  • RRB NTPC Exam| Exam City, Schedule And Shift Details For Second Phase Examination Of NTPC Released, Exam Will Start From January 16

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

14 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड (RRB) ने नॉन- टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी (NTPC) के लिए दूसरे चरण की परीक्षा के लिए एग्जाम सिटी, परीक्षा शेड्यूल और शिफ्ट का लिंक जारी कर दिया गया है। सेकंड फेज की परीक्षा में शामिल होने वाले कैंडिडेट्स इसे ऑफिशियल वेबसाइट से चेक कर सकते हैं।

रजिस्ट्रेशन नंबर और पासवर्ड के जरिए मिलेगी जानकारी

दूसरे चरण में परीक्षा देने वाले सभी कैंडिडेट्स अपने रजिस्ट्रेशन नंबर और पासवर्ड के जरिए यह जान सकेंगे कि उनकी परीक्षा किस तारीख को किस शहर में होगी। हालांकि, इन सभी चीजों की जानकारी कैंडिडेट्स को उनके रजिस्टर्ड मेल आईडी और मोबाइल नंबर पर भी भेजी जा रही है।

28 दिसंबर से शुरू हुई RRB NTPC की परीक्षा

RRB NTPC के पहले फेज की परीक्षा 28 दिसंबर से शुरू हो चुकी है, जो 13 जनवरी तक आयोजित होगी। वहीं, अब दूसरे फेज की परीक्षा 16 जनवरी से शुरू होगी, जो 30 जनवरी 2021 तक जारी रहेगी। दूसरे फेज की परीक्षा में 27 लाख कैंडिडेट्स शामिल होंगे। दूसरे फेज की परीक्षा का एडमिट कार्ड 12 जनवरी यानी परीक्षा से चार दिन पहले जारी किया जाएगा।

जरूरी तारीखें

  • परीक्षा शुरू होने की तारीख – 16 जनवरी
  • परीक्षा की आखिरी तारीख – 30 जनवरी
  • एडमिट कार्ड जारी होने की तारीख-12 जनवरी

यह भी पढ़ें-

CLAT 2021:9 मई की बजाय अब 13 जून को होगा कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट, 31 मार्च तक ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं कैंडिडेट्स

फिजिकल क्लासेस शुरु:क्लास में कितने छात्र बैठाएं, ट्रांसपोर्टेशन को लेकर भी निर्देश नहीं, पेरेंट्स बोले-वैक्सीनेशन तो होने देते



Source link

Five Tips That Will Help To Get New Job Or Changing Career Industry – इन पांच टिप्स को अपनाएं, नौकरी और करियर बदलने में नहीं होगी दिक्कत


एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला, Updated Wed, 20 Jan 2021 06:55 PM IST

इन पांच टिप्स को अपनाएं, नौकरी और करियर बदलने में नहीं होगी दिक्कत
– फोटो : अमर उजाला

बीते साल वैश्विक संक्रामक महामारी कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर में लॉकडाउन लगाया गया था। इस कदम से करोड़ों लोग बेरोजगार हो गए थे। इनमें से लाखों अभी भी बेहतर रोजगार और नौकरियों की तलाश में भटक रहे हैं। जहां लॉकडाउन खत्म हो गया है वहां उद्योग, कंपनियां और संस्थान खुलने लगे हैं। इनमें पुन: कामकाज शुरू होने लगा है, लेकिन रोजगार के मानदंड कुछ बदल गए हैं। औद्योगिक संस्थानों और कंपनियों की अपने कर्मियों से भी न्यू नॉर्मल के तहत अपेक्षाएं बढ़ गई हैं। ऐसे में विशेषज्ञों के बताए हुए ये पांच टिप्स ऐसे हैं जो आपको अपना करियर बदलने और नई नौकरी दिलाने में भी मददगार साबित होंगे…  



Source link

Translate »
You cannot copy content of this page