Airtel Payments Bank Simplifies Payments Experience For Merchant Partners – एयरटेल पेमेंट्स बैंक ने मर्चेंट्स को दिया बड़ा तोहफा, स्मार्टफोन को बना सकेंगे Pos डिवाइस

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

एयरटेल पेमेंट्स बैंक ने अपने एप को अपग्रेड किया है। इस अपग्रेडेशन से उसके मर्चेंट पार्टनर्स कई प्रकार के डिजिटल फायदों के साथ और ज्यादा सशक्त होंगे और उनकी भुगतान की प्रक्रिया भी अधिक आसान होगी। मर्चेंट्स के लिए एयरटेल पेमेंट्स बैंक एप में अब दो नये फीचर्स स्मार्ट ईपीओएस और ऑन-डिमांड सेटलमेन्ट शामिल किए गए हैं।

स्मार्ट ई-पीओएस (प्वाइंट-ऑफ-सेल) से मर्चेंट्स डिजिटल भुगतान लेने के लिए अपने स्मार्टफोन का उपयोग एक पीओएस मशीन की तरह कर सकते हैं और उन्हें कैश रखने की चिंता नहीं रहेगी। मर्चेंट्स को एप में स्मार्ट ईपीओएस ऑप्शन सिलेक्ट करना है और किए जाने वाले भुगतान के लिए मोबाइल स्क्रीन पर एक क्यूआर कोड दिखेगा। राशि मर्चेंट के एप से जुड़े बैंक खाते में तुरंत क्रेडिट हो जाएगी। इससे फिजिकल क्यूआर कोड रखने या होम डिलीवरी में भुगतान लेने के लिये अतिरिक्त उपकरण रखने की जरूरत नहीं होगी। मर्चेंट्स ‘जीरो कमिशन चार्जेस’ के साथ भी भुगतान प्राप्त कर सकते हैं।

नए ‘ऑन-डिमांड सेटलमेन्ट’ फीचर से मर्चेंट अपनी सुविधा के अनुसार कभी भी अपने भुगतानों को अपने बैंक खाते में ट्रांसफर कर सकते हैं। पैसा मर्चेंट के रजिस्टर्ड बैंक खाते में तुरंत क्रेडिट हो जाता है। इसके अलावा भी कई अन्य फीचर्स हैं।

मर्चेंट्स आसानी से अपनी दैनिक आय पर नजर रख सकते हैं, ट्रांजैक्शन स्टेटमेन्ट, पेमेन्ट सेटलमेन्ट की हिस्ट्री चेक कर सकते हैं, और अपने लिए शॉप इंश्योरेंस भी खरीद सकते हैं। किसी भी तरह की समस्या होने पर मर्चेंट्स हेल्प एंड सपोर्ट सेक्शन में जा सकते हैं।

एयरटेल पेमेंट्स बैंक के पास विभिन्न कैटेगरीज और फॉर्मेट्स में लगभग 1.5 मिलियन मर्चेंट्स हैं। बैंक ने अपने मर्चेंट्स की संख्या को बढ़ाने का लक्ष्य तय किया है और इसकी योजना आने वाले महीनों में अपने नेटवर्क में एक मिलियन से ज्यादा नये मर्चेंट्स को जोड़ने की है।

एयरटेल पेमेंट्स बैंक ने अपने एप को अपग्रेड किया है। इस अपग्रेडेशन से उसके मर्चेंट पार्टनर्स कई प्रकार के डिजिटल फायदों के साथ और ज्यादा सशक्त होंगे और उनकी भुगतान की प्रक्रिया भी अधिक आसान होगी। मर्चेंट्स के लिए एयरटेल पेमेंट्स बैंक एप में अब दो नये फीचर्स स्मार्ट ईपीओएस और ऑन-डिमांड सेटलमेन्ट शामिल किए गए हैं।

स्मार्ट ई-पीओएस (प्वाइंट-ऑफ-सेल) से मर्चेंट्स डिजिटल भुगतान लेने के लिए अपने स्मार्टफोन का उपयोग एक पीओएस मशीन की तरह कर सकते हैं और उन्हें कैश रखने की चिंता नहीं रहेगी। मर्चेंट्स को एप में स्मार्ट ईपीओएस ऑप्शन सिलेक्ट करना है और किए जाने वाले भुगतान के लिए मोबाइल स्क्रीन पर एक क्यूआर कोड दिखेगा। राशि मर्चेंट के एप से जुड़े बैंक खाते में तुरंत क्रेडिट हो जाएगी। इससे फिजिकल क्यूआर कोड रखने या होम डिलीवरी में भुगतान लेने के लिये अतिरिक्त उपकरण रखने की जरूरत नहीं होगी। मर्चेंट्स ‘जीरो कमिशन चार्जेस’ के साथ भी भुगतान प्राप्त कर सकते हैं।

नए ‘ऑन-डिमांड सेटलमेन्ट’ फीचर से मर्चेंट अपनी सुविधा के अनुसार कभी भी अपने भुगतानों को अपने बैंक खाते में ट्रांसफर कर सकते हैं। पैसा मर्चेंट के रजिस्टर्ड बैंक खाते में तुरंत क्रेडिट हो जाता है। इसके अलावा भी कई अन्य फीचर्स हैं।

मर्चेंट्स आसानी से अपनी दैनिक आय पर नजर रख सकते हैं, ट्रांजैक्शन स्टेटमेन्ट, पेमेन्ट सेटलमेन्ट की हिस्ट्री चेक कर सकते हैं, और अपने लिए शॉप इंश्योरेंस भी खरीद सकते हैं। किसी भी तरह की समस्या होने पर मर्चेंट्स हेल्प एंड सपोर्ट सेक्शन में जा सकते हैं।

एयरटेल पेमेंट्स बैंक के पास विभिन्न कैटेगरीज और फॉर्मेट्स में लगभग 1.5 मिलियन मर्चेंट्स हैं। बैंक ने अपने मर्चेंट्स की संख्या को बढ़ाने का लक्ष्य तय किया है और इसकी योजना आने वाले महीनों में अपने नेटवर्क में एक मिलियन से ज्यादा नये मर्चेंट्स को जोड़ने की है।

एयरटेल पेमेंट्स बैंक के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर श्री गणेश अनंतनारायणन ने कहा, ‘मर्चेंट्स पार्टनर्स जमीनी स्तर पर डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और उन्हें इस्तेमाल में आसान भुगतान समाधानों से सशक्त बनाना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता है। नये समाधानों से मर्चेंट्स एक बाधारहित और सुरक्षित डिजिटल प्रक्रिया द्वारा पेमेन्ट प्राप्त और सेटल कर सकते हैं। यह कैशलेस इकोनॉमी बनाने के हमारे लक्ष्य की दिशा में एक और कदम है।’’



Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page