Billionaire Brothers, Oxford Academic, Among Many Of Indian-Origin On Queen Elizabeth-II birthday Honours List – ब्रिटिश क्वीन के बर्थडे पर भारतीय मूल के अरबपति भाइयों और ऑक्सफोर्ड प्रोफेसर को CBE सम्मान

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


कई भारतीय मूल के लोगों को भी महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के जन्मदिन पर सम्मानित किया गया है.

लंदन:

ब्रिटिश महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के 94वें जन्मदिन पर सम्मानित होने वालों में भारतीय मूल के दो अरबपति भाइयों के अलावा ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के एक प्रोफेसर और 70 साल के एक फंड रेजर, जिन्हें स्कीपिंग सिख के नाम से जाना जाता है, का भी नाम शामिल है. सम्मान पाने वालों की विविधता वाली सम्मान सूची आज जारी की गई. भारतीय मूल के अरबपति भाई जुबेर और मोहसिन इस्सा, जो हाल ही में ब्रिटेन की सुपरमार्केट चेन असडा का अधिग्रहण कर सुर्खियों में आए थे,  को व्यवसाय, दान और सेवा के लिए कमांडर ऑफ द ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एंपायर (सीबीई) से सम्मानित किया गया है. इनके अलावा कई भारतीय मूल के लोगों को भी महारानी के जन्मदिन पर सम्मानित किया गया है.

ब्लैकबर्न में रहने वाले दोनों भाई, जिनके माता-पिता 1970 के दशक में गुजरात से ब्रिटेन चले गए थे, अपने ईजी ग्रुप के कारोबार के हिस्से के रूप में पेट्रोल स्टेशनों के यूरो गैरेज श्रृंखला के मालिक हैं. इन भाइयों के अलावा ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में पारिस्थितिकी तंत्र विज्ञान के प्रोफेसर यदविंदर सिंह माली को भी ये सम्मान दिया गया है. माली को पारिस्थितिकी तंत्र विज्ञान में उत्कृष्ट सेवा के लिए सीबीई सम्मान दिया गया है. उन्हें इस वर्ष की शुरुआत में लंदन में प्राकृतिक इतिहास संग्रहालय का ट्रस्टी नियुक्त किया गया था.

भारतीय मूल के प्रेम सिक्का ब्रिटिश संसद के लिए नामित किए गए

इनके अलावा इम्पीरियल कॉलेज लंदन में केमिकल इंजीनियरिंग के प्रोफेसर निलय शाह को ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था के कार्बोनाइजेशन की सेवाओं के लिए और डॉ संजीव निखानी, संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, हीलिंग लिटिल हार्ट्स को मेडिसिन और चैरिटी के लिए OBE (ऑफिसर ऑफ द मोस्ट एक्सीलेन्ट ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर) सम्मान से सम्मानित किया गया है.

ब्रिटेन में महारानी विक्टोरिया की शादी के केक का टुकड़ा 1,500 पौंड में बिका

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का जन्मदिन जून के पहले हफ्ते में आता है लेकिन कोरोना वायरस संकट की वजह से इसे आगे के लिए टाल दिया गया था.



Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page