Twitter Fined 450000 Eur In Ireland Over Bug That Made Some Private Tweets Public In 2019 – Twitter पर लगा चार करोड़ रुपये का जुर्माना, इस मामले में पाया गया है दोषी


टेक डेस्क अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Wed, 16 Dec 2020 09:39 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर (Twitter) पर आयरलैंड ने बड़ा जुर्माना लगाया है। आयरलैंड के डाटा नियामक ने Twitter पर 4,50,000 यूरो यानी करीब चार करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। Twitter पर यह जुर्माना उस बग को लेकर लगा है जिसके कारण कई लोगों के प्राइवेट ट्वीट पब्लिक हो गए थे। नए यूरोपियन यूनियन डाटा प्राइवेसी सिस्टम के तहत किसी अमेरिकी कंपनी पर होने वाली यह पहली कार्रवाई है। 

यूरोपियन यूनियन द्वारा साल 2018 में जेनरल डाटा प्रोटेक्शन रेगुलेशन (GDPR) लागू किया गया था और आयरलैंड ने यह कार्रवाई इसी GDPR के तहत की है। यह भी कहा जा रहा है कि GDPR के तहत ट्विटर पर होने वाली यह पहली कार्रवाई है।  पिछले साल ट्विटर के एंड्रॉयड एप में एक बग आया था जिसके बाद कई यूजर्स के प्राइवेट ट्वीट पब्लिक हो गए थे। यह जुर्माना इसलिए लगा है क्योंकि ट्विटर इस बग के बारे में अपने यूजर्स को तत्काल प्रभाव से जानकारी देने में असमर्थ रहा।

वहीं Twitter ने अपने एक बयान में कहा है कि यह बग साल 2018 में क्रिसमस की छुट्टियों के दौरान आया था और अधिकतर कर्मचारी छुट्टी पर थे, इसलिए इसके बारे में यूजर्स को जानकारी देने में देर हुई।ट्विटर ने कहा है, ‘हम इस गलती की पूरी जिम्मेदारी लेते हैं और अपने यूजर्स के डाटा और प्राइवेसी की सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध हैं। हमारी कोशिश रहेगी कि यदि इस तरह की कोई समस्या आती है तो यूजर्स को सबसे पहले जानकारी दी जाए।’ बता दें कि ट्विटर ने इस बग के लिए साल 2019 में माफी भी मांगी थी।

गौरतलब है कि ट्विटर के इस बग की पहचान जनवरी 2019 में की गई थी। इस बग के कारण 3 नवंबर 2014 से 14 जनवरी 2019 तक अपने अकाउंट में प्रोटेक्ट योर ट्वीट की सेटिंग करने वाले यूजर्स प्रभावित हुए थे, हालांकि इस बग का असर सिर्फ एंड्रॉयड यूजर्स पर ही पड़ा।

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर (Twitter) पर आयरलैंड ने बड़ा जुर्माना लगाया है। आयरलैंड के डाटा नियामक ने Twitter पर 4,50,000 यूरो यानी करीब चार करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। Twitter पर यह जुर्माना उस बग को लेकर लगा है जिसके कारण कई लोगों के प्राइवेट ट्वीट पब्लिक हो गए थे। नए यूरोपियन यूनियन डाटा प्राइवेसी सिस्टम के तहत किसी अमेरिकी कंपनी पर होने वाली यह पहली कार्रवाई है। 

यूरोपियन यूनियन द्वारा साल 2018 में जेनरल डाटा प्रोटेक्शन रेगुलेशन (GDPR) लागू किया गया था और आयरलैंड ने यह कार्रवाई इसी GDPR के तहत की है। यह भी कहा जा रहा है कि GDPR के तहत ट्विटर पर होने वाली यह पहली कार्रवाई है।  पिछले साल ट्विटर के एंड्रॉयड एप में एक बग आया था जिसके बाद कई यूजर्स के प्राइवेट ट्वीट पब्लिक हो गए थे। यह जुर्माना इसलिए लगा है क्योंकि ट्विटर इस बग के बारे में अपने यूजर्स को तत्काल प्रभाव से जानकारी देने में असमर्थ रहा।

वहीं Twitter ने अपने एक बयान में कहा है कि यह बग साल 2018 में क्रिसमस की छुट्टियों के दौरान आया था और अधिकतर कर्मचारी छुट्टी पर थे, इसलिए इसके बारे में यूजर्स को जानकारी देने में देर हुई।ट्विटर ने कहा है, ‘हम इस गलती की पूरी जिम्मेदारी लेते हैं और अपने यूजर्स के डाटा और प्राइवेसी की सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध हैं। हमारी कोशिश रहेगी कि यदि इस तरह की कोई समस्या आती है तो यूजर्स को सबसे पहले जानकारी दी जाए।’ बता दें कि ट्विटर ने इस बग के लिए साल 2019 में माफी भी मांगी थी।

गौरतलब है कि ट्विटर के इस बग की पहचान जनवरी 2019 में की गई थी। इस बग के कारण 3 नवंबर 2014 से 14 जनवरी 2019 तक अपने अकाउंट में प्रोटेक्ट योर ट्वीट की सेटिंग करने वाले यूजर्स प्रभावित हुए थे, हालांकि इस बग का असर सिर्फ एंड्रॉयड यूजर्स पर ही पड़ा।



Source link

फेसबुक ने भारत में लॉन्‍च किया Instagram Lite App, एंड्रॉयड फोन पर बहुत कम खर्च होगा डाटा


इंस्‍टाग्राम ने अपना लाइट ऐप भारत में टेस्टिंग के लिए लॉन्‍च कर दिया है.

इंस्‍टाग्राम ने अपना लाइट ऐप भारत में टेस्टिंग के लिए लॉन्‍च कर दिया है.

फेसबुक (Facebook) के स्‍वामित्‍व वाले फोटो शेयरिंग प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम ने भारत में इंस्टाग्राम लाइट ऐप (Instagram Lite App) लॉन्‍च कर दिया है. कंपनी ने इसे टेस्टिंग के लिए भारतीय बाजार में पेश किया है. कंपनी ने शॉर्ट वीडियो फीचर रील्‍स (Reels) को भी सबसे पहले भारत में शुरू किया था.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 16, 2020, 11:06 PM IST

नई दिल्‍ली. सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक (Facebook) के स्‍वामित्‍व वाले फोटो शेयरिंग प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम ने भारत में इंस्टाग्राम लाइट ऐप (Instagram Lite App) लॉन्‍च कर दिया है. इंस्‍टाग्राम ने बताया कि उसके लाइट ऐप की टेस्टिंग की जा रही है. दूसरे शब्‍दों में समझें तो इंस्‍टाग्राम ने टेस्टिंग के लिए लाइट ऐप को भारतीय बाजार में उतारा कर है. ये लाइट ऐप एंड्रॉयड फोन यूजर्स (Android Users) के डाटा की बचत भी करेगा. यही नहीं, इसका साइज 2 एमबी से भी कम होने के कारण यह कम स्पेस भी लेता है. अभी इसे वैश्विक बाजार (Global Market) में नहीं उतारा गया है. बता दें कि इंस्‍टाग्राम ने सबसे पहले भारत में कई फीचर्स शुरू किए हैं. इनमें से एक शॉर्ट वीडियो फीचर रील्स (Reels) भी है.

गूगल प्‍लेस्‍टोर पर उपलब्‍ध है इंस्‍टाग्राम लाइट ऐप
इंस्टाग्राम में वाइस प्रेसिडेंट (प्रोडक्ट) विशाल शाह ने फेसबुक फ्यूल फॉर इंडिया 2020 (Facebook Fuel for India 2020) इवेंट के दौरान बताया कि भारत उनके लिए बहुत ही अहम बाजार है. भारतीय बाजार इनोवेशन के लिए टेस्टिंग ग्राउंड रहा है. भारत उन बहुत कम देशों में एक है जहां उन्होंने रील्स को टेस्ट किया. यही नहीं कंपनी ने रील्स टैब को सबसे पहले भारत में ही लॉन्च किया. उन्‍होंने कहा कि वह भारत में इंस्टाग्राम के विस्तार के लिए इंस्टाग्राम लाइट की टेस्टिंग का ऐलान कर रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि इंस्टाग्राम लाइट साइज में 2 एमबी से कम है. इसे भारत में यूजर्स को बेहतर क्वालिटी का अनुभव और एक्सेस देने के लिए बनाया गया है. ये ऐप फिलहाल गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है. इसका iOS वर्जन नहीं लाया गया है.

ये भी पढ़ें- नए कृषि कानून के तहत होने लगी कार्रवाई, किसानों को समय पर नहीं किया भुगतान तो प्राइवेट फर्म पर ठोका जुर्माना

इंस्‍टाग्राम लाइट ऐप में नहीं मिलेंगे ये फीचर्स
इंस्‍टाग्राम लाइट ऐप पर कोर इंस्टाग्राम जैसा ही अनुभव होगा. हालांकि, इसमें रील्स, शॉपिंग और आईजीटीवी जैसे फीचर्स नहीं मिलेंगे. लाइट ऐप बंगाली, गुजराती, हिंदी, कन्‍नड़, मलयालम, मराठी, पंजाबी, तमिल और तेलुगु भाषा में उपलब्ध होगा. फेसबुक और दूसरी इंटरनेट कंपनियां जैसे लिंक्‍डइन (LinkedIn) और ट्विटर (Twitter) ऐसे ही लाइट ऐप्स यूजर्स को ऑफर करती हैं, जिनकी मदद से वे कम डाटा का इस्तेमाल करके प्लेटफॉर्म के मुख्य फीचर्स को एक्सेस कर सकें. शाह ने बताया कि भारत ग्लोबल ट्रेंड बना रहा है. दरअसल, रील्स पर दुनिया भर में सबसे ज्यादा शेयर किए गए पांच गानों में से दो भारतीय कलाकारों के होते हैं.





Source link

Kia Motors India is working towards expanding its presence in the MPV category | 2022 की शुरुआत में आएगी ऑल न्यू एमपीवी, कई स्मार्ट फीचर्स से लैस होगी; पेट्रोल और डीजल दोनों ऑप्शन मिलेंगे


  • Hindi News
  • Tech auto
  • Kia Motors India Is Working Towards Expanding Its Presence In The MPV Category

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • किआ की अपकमिंग एमपीवी सेल्टोस (4,315mm लंबी) से थोड़ी बड़ी होगी
  • इसे 1.5-लीटर पेट्रोल और 1.5-लीटर डीजल इंजन में पेश किया जा सकता है

किआ मोटर्स इंडिया भारतीय बाजार के मल्टी पर्पज व्हीकल (MPV) कैटेगरी में अपनी उपस्थिति बढ़ाने के लिए काम कर रही है। कंपनी ने इस साल के शुरुआत में प्रीमियम एमपीवी कार्निवल को लॉन्च किया था। अब कोरियाई कंपनी लोअर सेगमेंट में मिड-साइज MPV को 2022 तक लाने का प्लान कर रही है। कंपनी अपने अपकमिंग मॉडल को पेट्रोल और डीजल दोनों वैरिएंट में लाएगी।

ऑल-न्यू किआ MPV की डायमेंशन

  • किआ एमपीवी, सेल्टॉस प्लेटफॉर्म पर बेस्ड होगी। इसका डायमेंशन मारुति सुजुकी अर्टिगा (4,395mm लंबाई) और टोयोटा इनोवा क्रिस्टा (4,735mm लंबाई) या फिर महिंद्रा मराजो (4,585mm लंबाई) के बराबर हो सकता है।
  • किआ की अपकमिंग एमपीवी सेल्टोस (4,315mm लंबी) से थोड़ी बड़ी होगी। हालांकि, इसकी लंबाई कार्निवल (5,115mm लंबी) से छोटी होगी। इस 7 सीट के हिसाब से पर्याप्त स्पेस मिलेगा। यानी ये पैसेंजर्स के लिए पूरी तरह कम्फर्टेबल होगी।
  • बात इसकी स्टाइल की करें, तो ये किया एमपीवी कंपनी के लेटेस्ट डिजाइन वाली और ब्रांड सिग्नेचर टाइगर नोज ग्रिल और शार्प हेडलैम्प के साथ आएगी।

ऑल-न्यू किआ MPV फीचर्स

  • किआ की मिड-साइड SUV रियर व्यू कैमरा, स्मार्टफोन कनेक्टिविटी, अलॉय व्हील्स, DRLs, पुश बटन स्टार्ट, क्रूज कंट्रोल, पावर विंडोज और एंबिएंट लाइट जैसे कई फीचर्स से लैस होगी।
  • इसके हायर वैरिएंट में कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी, सनरूफ, वेंटीलेटेड फ्रंट सीट्स, एयर प्यूरीफायर, 360-डिग्री कैमरा, ब्लाइंड स्पॉट मॉनीटर और हेड-अप डिस्प्ले मिल सकता है।
  • इन दिनों डीजल इंजन वाली गाड़ियों की डिमांड है, लेकिन किआ MPV को BS6 नॉर्म्स वाले डीजल और पेट्रोल दोनों इंजन में लॉन्च किया जाएगा। इसे 1.5-लीटर पेट्रोल और 1.5-लीटर डीजल इंजन में पेश किया जा सकता है।



Source link

Vivo To Launch Foldable Smartphone In 2021 – Foldable स्मार्टफोन लॉन्च करने की तैयारी में Vivo, मिलेंगे ऐसे फीचर्स, सैमसंग के इस स्मार्टफोन से होगा मुकाबला


इन दिनों स्मार्टफोन कंपनियां नई—नई टेक्नोलॉजी पर काम कर रही हैं। वे यूजर्स को एडवांस फीचर्स के साथ नई टेक्नोलॉजी के स्मार्टफोन देेने की योजना बना रही हैं। इस वर्ष भी कई कंपनियों ने नई टेक्नोलॉजी और अलग लुक वाले स्मार्टफोन बाजार में उतारे। वहीं 2021 में भी कई स्मार्टफोन कंपनियां ऐसे ही स्मार्टफोन लॉन्च करने की योजना बना रही हैं। इसके लिए कई कंपनियों ने तो अपने आगामी स्मार्टफोन के डिजाइन भी पेेटेंट करा लिए हैं।

सैमसंग के बाद कई कंपनियां फोल्डेबल स्मार्टफोन्स पर भी काम कर रही हैं। स्मार्टफोन निर्माता कंपनी वीवो भी अगले वर्ष फोल्डेबल स्मार्टफोन लॉन्च कर सकती है। वीवो का यह फोन Stylus Pen के साथ बाजार में उतारा जाएगा, जिसके जरिए फोन को आसानी से यूज किया जा सकेगा।

डिजाइन कराया पेटेंट
बता दें कि वीवो ने इस साल फरवरी में स्टाइलस पेन वाले फोल्डेबल फोन का डिजाइन पेटेंट करवाया था। एक रिपोर्ट के अनुसार, वीवो ने Display panel and mobile terminal टाइटल के साथ World Intellectual Property Office में अपने फोल्डेबल फोन का डिजाइन पेटेंट करवाया था। उम्मीद की जा रही है कि वीवो का यह स्मार्टफोन अगले वर्ष बाजार में लॉन्च किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें—यह है दुनिया का पहला इनविजिबल सेल्फी कैमरे वाला स्मार्टफोन, जानिए अन्य फीचर्स के बारे में

vivo2.png

ऐसा होगा इसका डिजाइन
लीक रिपोर्ट्स के अनुसार, वीवो के इस फोल्डेबल फोन को अंदर की तरफ फोल्ड किया जा सकेगा। जब इस स्मार्टफोन को अनफोल्ड करेंगे तो यह दिखने में टैबलेट की तरह दिखाई देगा। वहीं इसके डिजाइन की बात की जाए तो वीवो का यह स्मार्टफोन Samsung Galaxy Fold और Galaxy Z Fold2 जैसा नजर आएगा। हालांकि इसमें एक बदलाव मिलेगा। इसे फोल्ड करने पर हिंज की वजह से गैप दिखई देगा। इस गैप में Stylus Pen को रखने का स्पेस मिलेगा।

यह भी पढ़ें—अपने एंड्रॉयड फोन को बदल सकते हैं Wireless Mouse में, बिना कोई पैसा खर्च किए, जानिए कैसे
Samsung Galaxy Z Flip से होगा मुकाबला
Vivo के इस Foldable स्मार्टफोन का मुकाबला भारतीय बाजार में Samsung Galaxy Z Flip से हो सकता है। बता दें कि Galaxy Z Flip सैमसंग का एक प्रीमियम फोल्डेबल स्मार्टफोन है। इसके फीचस की बात करें तो इसमें 6.7 इंच का पोर्टेबल डिस्प्ले दिया है। यह फोन 5G वर्जन के साथ आता है। इसके अलावा इसमें क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 865+ ऑक्टा-कोर SoC प्रोसेसर दिया गया है। सैमसंग का यह फोल्डेबल फोन 8GB रैम और 256 GB मैमोरी वेरिएंट में उपलब्ध है। इस फोन में पॉवर के लिए 3300 mAh की बैटरी दी गई है, जो 15 वॉट फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करती है।

कैमरा सेटअप की बात करें तो इसमें 12 मेगापिक्सल का अल्ट्रा-वाइड सेंसर, 12 मेगापिक्सल का वाइड एंगल कैमरा दिया गया है। वहीं सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए इसमें 10 मेगापिक्सल का ‘पंच होल’ कैमरा मौजूद है। इस फोन की कीमत एक लाख रुपए से ज्यादा है।















Source link

Twitter To Shut Down Periscope Streaming App By March 2021 – Twitter अपने इस लाइव स्ट्रीमिंग एप को करने जा रहा बंद


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

Twitter ने अपने लाइव स्ट्रीमिंग एप Periscope को बंद करने का फैसला लिया है। ट्विटर ने कहा है कि Periscope का इस्तेमाल अब बहुत ही कम हो रहा है। ऐसे में इस एप पर मेहनत करना बेकार है। बता दें कि ट्विटर ने साल 2015 में Periscope को खरीदा था।

ट्विटर ने अपने एक ब्लॉग में कहा है कि Periscope को मेंनटेन रखना अब मुश्किल हो रहा है, जबकि इसका इस्तेमाल ना के बराबर रह गया है। ट्विटर ने कहा है कि पिछले कुछ सालों में Periscope का इस्तेमाल बहुत कम हुआ है। ऐसे में इस प्लेटफॉर्म को आज इसी हालत में छोड़ना एक सही फैसला है। कंपनी ने यह भी कहा है कि इसकी घोषणा जल्द की जाएगी।

Periscope एप को मार्च 2021 तक एपल के एप स्टोर से हटा दिया जाएगा, हालांकि Periscope के जरिए जो लाइव स्ट्रीमिंग हुई है, वे प्लेटफॉर्म पर मौजूद रहेगी। उन्हें डाउनलोड भी किया जा सकेगा।

बता दें कि इस सप्ताह की शुरुआत में ही ट्विटर ने साल 2020 के बेस्ट ट्वीट और हैशटैग के बारे में जानकारी दी है जिसके मुताबिक इस साल कोरोना महामारी के दौर में #covid19 साल 2020 का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला हैशटैग बना है। इसके बाद बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की सुसाइड के बाद उनके नाम का हैशटैग सबसे ज्यादा इस्तेमाल हुआ है। 

दूसरे नंबर पर सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला हैशटैग #SushantSinghRajput है। तीसरे नंबर पर हाथरस कांड रहा है। वहीं विराट कोहली ने 27 अगस्त को अनुष्का शर्मा की प्रेग्रेंसी की पुष्टि करते हुए एक ट्वीट किया था। विराट का यह ट्वीट साल 2020 में सबसे ज्यादा लाइक पाने वाला ट्वीट बन गया है।

Twitter ने अपने लाइव स्ट्रीमिंग एप Periscope को बंद करने का फैसला लिया है। ट्विटर ने कहा है कि Periscope का इस्तेमाल अब बहुत ही कम हो रहा है। ऐसे में इस एप पर मेहनत करना बेकार है। बता दें कि ट्विटर ने साल 2015 में Periscope को खरीदा था।

ट्विटर ने अपने एक ब्लॉग में कहा है कि Periscope को मेंनटेन रखना अब मुश्किल हो रहा है, जबकि इसका इस्तेमाल ना के बराबर रह गया है। ट्विटर ने कहा है कि पिछले कुछ सालों में Periscope का इस्तेमाल बहुत कम हुआ है। ऐसे में इस प्लेटफॉर्म को आज इसी हालत में छोड़ना एक सही फैसला है। कंपनी ने यह भी कहा है कि इसकी घोषणा जल्द की जाएगी।

Periscope एप को मार्च 2021 तक एपल के एप स्टोर से हटा दिया जाएगा, हालांकि Periscope के जरिए जो लाइव स्ट्रीमिंग हुई है, वे प्लेटफॉर्म पर मौजूद रहेगी। उन्हें डाउनलोड भी किया जा सकेगा।

बता दें कि इस सप्ताह की शुरुआत में ही ट्विटर ने साल 2020 के बेस्ट ट्वीट और हैशटैग के बारे में जानकारी दी है जिसके मुताबिक इस साल कोरोना महामारी के दौर में #covid19 साल 2020 का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला हैशटैग बना है। इसके बाद बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की सुसाइड के बाद उनके नाम का हैशटैग सबसे ज्यादा इस्तेमाल हुआ है। 

दूसरे नंबर पर सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला हैशटैग #SushantSinghRajput है। तीसरे नंबर पर हाथरस कांड रहा है। वहीं विराट कोहली ने 27 अगस्त को अनुष्का शर्मा की प्रेग्रेंसी की पुष्टि करते हुए एक ट्वीट किया था। विराट का यह ट्वीट साल 2020 में सबसे ज्यादा लाइक पाने वाला ट्वीट बन गया है।



Source link

WhatsApp ने शुरू की पेमेंट सर्विस, 4 बैंकों से की साझेदारी, जल्‍द खरीद सकेंगे इंश्‍योरेंस पॉलिसी भी


नई दिल्‍ली. फेसबुक (Facebook) के स्‍वामित्‍व वाले इंस्‍टैंट मेसेजिंग, कॉल, वीडियो कॉल ऐप व्‍हाट्सऐप (WhatsApp) भारत में डिजिटल पेमेंट सर्विस (Digital Payment Service) भी शुरू कर दी है. व्‍हाट्सऐप ने इसके लिए देश के सबसे बड़े सरकारी कर्जदाता स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI), सबसे बड़े निजी कर्जदाता एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank), आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) और एक्सिस बैंक (Axis Bank) के साथ साझेदारी की है. अब इन चारों बैंकों के करोड़ों ग्राहक व्‍हाट्सऐप की मदद से ऑनलाइन मनी ट्रांसफर कर सकेंगे. वहीं, कंपनी ने फेसबुक फ्यूल फॉर इंडिया 2020 (Facebook Fuel for India 2020) के दौरान बताया कि जल्‍द ही यूजर्स व्‍हाट्सऐप के जरिये हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पॉलिसी (Health Insurance Policy) भी खरीद सकेंगे.

इंश्‍योरेंस के लिए एसबीआई के साथ काम कर सकता है व्‍हाट्सऐप
व्‍हाट्सऐप ने बताया कि सैशे साइज्ड इंश्योरेंस पॉलिसी की खरीदारी शुरू करने के लिए एसबीआई और एचडीएफसी बैंक के काम किया जा सकता है. बता दें कि सैशे साइज्ड इंश्योरेंस पॉलिसी खास जरूरत के लिए ली जाती हैं. इनका प्रीमियम बहुत कम होता है. व्‍हाट्सऐप के जरिये एचडीएफसी पेंशंस और पिनबॉक्स सॉल्यूशंस से जुड़ी पॉलिसी भी खरीद सकेंगे. इससे उन लोगों को रिटायरमेंट के लिए बचत करने में मदद मिलेगी, जिन्हें ऑर्गेनाइज्ड एंप्लायमेंट बेनेफिट्स नहीं मिलता है या जिनके पास कोई रिटायरमेंट प्‍लान नहीं है.

ये भी पढ़ें- फेसबुक ने भारत में लॉन्‍च किया Instagram Lite App, एंड्रॉयड फोन पर बहुत कम खर्च होगा डाटाव्‍हाट्सऐप पेमेंट सर्विस का 2 करोड़ यूजर्स को ही मिलेगा फायदा

व्‍हाट्सऐप की पेमेंट सर्विस 16 दिसंबर 2020 से भारतीय यूजर्स के लिए शुरू हो गई है. देश भर के 2 करोड़ व्‍हाट्सऐप यूजर्स इसका फायदा उठा सकते हैं. व्‍हाट्सऐप इंडिया के प्रमुख अभिजीत बोस ने कहा कि इस साल के अंत तक एसबीआई के किफायती स्वास्थ्य बीमा को मेसेजिंग ऐप के जरिये खरीदा जा सकेगा. बोस ने कहा कि व्‍हाट्सऐप पेमेंट सर्विस के लिए कंपनी को नवंबर 2020 में ही नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) की मंजूरी मिल गई है. कंपनी ने अपना पेमेंट फीचर यूपीआई सिस्टम के आधार पर डिजाइन किया है.

ये भी पढ़ें- नए कृषि कानून के तहत होने लगी कार्रवाई, किसानों को समय पर नहीं किया भुगतान तो प्राइवेट फर्म पर ठोका जुर्माना

ऐसे करें व्‍हाट्सऐप पेमेंट सर्विस एक्टिवेट
>> व्‍हाट्सऐप के होमपेज पर दाहिनी तरफ ऊपर दिख रहे तीन डॉट्स पर क्लिक करें. इसमें Payment ऑप्शन दिखेगा.

>> पेमेंट ऑप्‍शन पर क्लिक करते ही पेमेंट विंडो खुलेगा. इसमें एड न्‍यू पेमेंट्स मेथड (Add new payments method) पर क्लिक करें.

>> फिर Accept करते ही चारों पार्टनर बैंकों के नाम आ जाएंगे. अपने बैंक के ऑप्शन पर क्लिक करें.

>> इसके बाद आपको बैंक में दर्ज अपने फोन नंबर के जरिये वेरिफाई करें. अब व्‍हाट्सऐप पर मोबाइल नंबर डालें.

>> मोबाइल नंबर डालते ही व्‍हाट्सऐप बैंक से आपका अकाउंट वेरिफाई करेगा. फिर पेमेंट सर्विस शुरू हो जाएगी. अब आप मनी ट्रांसफर कर सकते हैं.





Source link

Instagram Lite Makes Comeback in India, New Content Programme Launched With Focus on Reels | वापसी की तैयारी में इंस्टाग्राम लाइट ऐप, क्रिएटर्स को बढ़ावा देने के लिए प्लेटफॉर्म लाया बॉर्न ऑन इंस्टाग्राम प्रोग्राम


  • Hindi News
  • Tech auto
  • Instagram Lite Makes Comeback In India, New Content Programme Launched With Focus On Reels

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • फेसबुक फ्यूल वर्चुअल इवेंट में कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट ने दी जानकारी
  • इंस्टाग्राम लाइट ऐप, खासतौर से एंड्रॉयड डिवाइसों के लिए बनाया है

इंस्टाग्राम लाइट ऐप की भारत में फेसबुक द्वारा टेस्टिंग की जा रही है। बुधवार को फेसबुक फ्यूल वर्चुअल इवेंट में इंस्टाग्राम के वाइस प्रेसिडेंट विशाल शाह ने इसकी जानकारी दी। नया ऐप 2 एमबी से कम साइज में आएगा। फेसबुक ने शुरुआत में जून 2018 में देश में इंस्टाग्राम लाइट ऐप की टेस्टिंग की थी। हालांकि, यह ऐप इस साल मई में ऑफलाइन हो गया और सितंबर में इसे फिर से शुरू किया गया। नए इंस्टाग्राम लाइट ऐप की टेस्टिंग के अलावा, फोटो और वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म अपने ‘बॉर्न ऑन इंस्टाग्राम’ प्रोग्राम के दूसरे वर्जन को लाया है, जिसका उद्देश्य क्रिएटर्स को उनकी सोशल उपस्थिति बढ़ाने में मदद करना है।

कई भारतीय भाषाओं को सपोर्ट करेगा ऐप

  • नई इंस्टाग्राम लाइट, विशेष रूप से एंड्रॉयड डिवाइस के लिए बनाई गई है, जिसे कोर इंस्टाग्राम एक्सपीरियंस प्रदान करने के लिए डिजाइन किया गया है, जिसमें रील्स, शॉपिंग और आईजीटीवी सहित कुछ फीचर्स हैं। यह कई भारतीय भाषाओं- बंगला, गुजराती, हिंदी, कन्नड़, मलयालम, मराठी, पंजाबी, तमिल और तेलुगु में उपलब्ध होगी।
  • “आज, हम भारत में आईजी लाइट की टेस्टिंग की घोषणा कर रहे हैं, ” शाह ने भारत के इवेंट के लिए फेसबुक फ्यूल में अपने मुख्य भाषण के दौरान कहा- “यह भारत में हमारे यूजर्स के लिए उच्च-गुणवत्ता वाले इंस्टाग्राम अनुभव तक पहुंच प्रदान करने के लिए बनाया गया था, भले ही वह किसी भी डिवाइस, प्लेटफॉर्म और नेटवर्क पर हो।”
  • इंस्टाग्राम ने देश में एक रिसर्च किया, जिसके परिणामस्वरूप ” कॉम्प्रोमाइज्ड इंटरनेट एक्सपीरियंस, कम मेमोरी वाले फोन और हैवी-साइज ऐप्स के परिणामस्वरूप” था। कंपनी ने कहा कि रिसर्च ने देश में नए लाइट ऐप की टेस्टिंग के लिए संदर्भ निर्धारित किया है।
  • हालांकि, इंस्टाग्राम ने 2018 में मूल इंस्टाग्राम लाइट ऐप के माध्यम से एक समान अनुभव का परीक्षण किया, नए वर्जन में बेहतर गति, प्रदर्शन और जवाबदेही देने का दावा किया गया है। इसे सितंबर में गूगल प्ले पर डाउनलोड के लिए लिस्टेड किया गया था, जैसा कि एंड्रॉयड पुलिस द्वारा रिपोर्ट में बताया है।
  • इंस्टाग्राम लाइट ऐप के साथ, फेसबुक के पास अब अपने रेगुलर ऐप के साथ-साथ मैसेंजर और इंस्टाग्राम के “लाइट” वर्जन भी हैं।

‘बॉर्न ऑन इंस्टाग्राम प्रोग्राम में क्या है खास

  • नए ऐप के साथ, इंस्टाग्राम ने देश में इंस्टाग्राम ‘बॉर्न ऑन इंस्टाग्राम 2.0’ क्रिएटर प्रोग्राम लाया है।
  • इसे पहल के अगले वर्जन के रूप में तैयार किया गया है जो नवंबर 2019 में क्रिएटर्स को बढ़ने और उनकी फोटो और वीडियो को जनता को दिखाने में मदद करने के लिए शुरू किया गया था।
  • ‘बॉर्न ऑन इंस्टाग्राम’ प्रोग्राम के नए वर्जन का उद्देश्य रील्स सहित सुविधाओं को शामिल करना है।
  • यह छह महीने की अवधि के लिए चलेगा और आंतरिक और बाहरी विशेषज्ञों से मास्टर-क्लास पेश करना जारी रखेगा।
  • प्रोग्राम क्रिएटर्स को सहयोग और सलाह के अवसरों का लाभ उठाने की भी अनुमति देगा।
  • इच्छुक क्रिएटर्स आधिकारिक पोर्टल से ‘बॉर्न ऑन इंस्टाग्राम 2.0’ प्रोग्राम के लिए साइन अप कर सकते हैं।



Source link

TikTok To Hide Graphic Videos Behind Warning Screens – TIKToK के ग्राफिक वीडियो में अब यूजर्स को मिलेगी वॉर्निंग स्क्रीन, जानिए क्या होगा इसका फायदा


चाइनीज शॉर्ट वीडियो एप टिकटॉक (TIKToK) कई देशों में पॉपुलर है। हालांकि भारत में इसे बैन कर दिया गया है। इन दिनों TIKToK अपने फीचर्स को अपग्रेड कर रही है। टिकटॉक में इन दिनों कई नए फीचर्स भी जोड़े गए हैं। अब इसमें एक और नया फीचर जोड़ा गया है। अब टिकटॉक यूजर्स को परेशान करने वाली सामग्री को देखने से रोकने के लिए ग्राफिक वीडियो पर वार्निग स्क्रीन लगाएगा। इसके लिए नई गाईडलाइन जारी की गई है। इस नई गाईडलाइन के तहत, चेतावनी स्क्रीन में दो विकल्प होंगे, या तो क्लिप देखें या इसको पूरी तरह से स्किप कर दें।

इन दृश्यों को दी जा सकती है अनुमति
अत्यधिक एक्सट्रीम सामग्री को पहले ही इस प्लेटफॉर्म से पूरी तरह से हटाया जा रहा है, लेकिन नए वार्निग लेबल में ऐसी सामग्री शामिल है, जिसे डाक्यूमेंट्री कारणों डरावनी फिल्मों के दृश्यों या जानवरों के शिकार के हिंसक दृश्यों के लिए अनुमति दी जा सकती है।

कोरोना वैक्सीन की जानकारी भी
टिकटॉक ने एक नए टेक्स्ट-टू-वॉयस एक्सेसिबिलिटीटूल की भी घोषणा की, जो वीडियो में दिखाई देने वाले टेक्स्ट को पढ़ेगा। कंपनी ने जानकारी दी कि वह अपने कोरोना वायरस रिसोर्स हब में वैक्सीन की जानकारी जोड़ रही है। टिकटॉक वर्तमान में क्रिएटर्स को एक मिनट तक की वीडियो अपलोड करने की अनुमति देता है।

यह भी पढ़ें—भारत में बैन होने के बावजूद TIKTok का जलवा, फेसबुक, व्हाट्सएप जैसी एप्स को पछाड़ बनी नंबर 1

सबसे ज्यादा डाउनलोड की जाने वाली एप बनी
TIKToK एप 2020 में सबसे ज्यादा डाउनलोड किए जाने वाली एप बन गई है। इसने डाउनलोड्स के मामले में फेसबुक (Facebook) , जूम (Zoom) और व्हाट्सएप (WhatsApp) जैसी पॉपुलर एप्स को भी पीछे छोड़ा दिया है। हाल ही एनालिटिक्स फर्म App Annie ने सबसे ज्यादा बार डाउनलोड किए जाने एप्स की लिस्ट जारी की, इसमें टिकटॉक नंबर 1 पर है। टिकटॉक को इस साल ग्लोबली सबसे ज्यादा बार Android और ios पर डाउनलोड किया गया है। इस मामले मेें टिकटॉक ने पिछले कई सालों से नंबर 1 पर रही फेसबुक को भी पीछे छोड़ दिया है।

यह भी पढ़ें—TikTok बैन के बाद बढ़ी इंडियन ‘Chingari’ की पॉपुलैरिटी, हुए इतने करोड़ यूजर्स

अपलोड कर सकेंगे 3 मिनट का वीडियो
बता दें कि टिकटॉक एक नए फीचर की टेस्टिंग भी कर रही है। नए फीचर की मदद से यूजर्स तीन मिनट तक के वीडियो अपलोड कर सकेंगे। पिछले दिनों सोशल मीडिया एक्सपर्ट मैट नवारा ने अपने ट्वीट में टिक टॉक के इस नए फीचर का स्क्रीनशॉट शेयर किया। स्क्रीनशॉट में लिखा है कि उन्हें TikTok पर तीन मिनट तक के वीडियो अपलोड करने का अर्ली एक्सेस दिया जा रहा है।





Source link

Dell Xps 13 Laptop Launched In India With 11th Gen Intel Core Processors – Dell Xps 13 लैपटॉप हुआ लॉन्च, मिलेगा इंटेल का 11th Gen प्रोसेसर


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

प्रमुख लैपटॉप निर्माता कंपनी डेल (Dell) ने भारतीय बाजार में अपने नए लैपटॉप Dell XPS 13 को लॉन्च कर दिया है जो कि Dell XPS फैमिली का नया मेंबर है। Dell XPS 13 में इंटेल का 11वीं जेनरेशन का प्रोसेसर है। इसके अलावा इसका एक अन्य वेरियंट Intel core i5 के साथ अमेजन पर लिस्ट कर दिया गया है। वहीं Dell XPS 13 का इंटेल कोर i7 वाला वेरियंट जनवरी 2021 में उपलब्ध होगा। Dell XPS 13 की बॉडी मशीन एल्यूमीनियम, कार्बर फाइबर और ओवन ग्लास फाइबर से बनी है।

Dell XPS 13 की स्पेसिफिकेशन
Dell XPS 13 में 13 इंच की फुल एचडी बेजललेस इनफिनिटीएज डिस्प्ले है जिसका रेशियो 16:10 है। डिस्प्ले के साथ 4केप्लस या अल्ट्रा एचडी का भी सपोर्ट है। लैपटॉप में 100 फीसदी sRGB कलर रिप्रोडक्शन का सपोर्ट है और इसकी ब्राइटनेस 500 निट्स है। डेल के इस नए लैपटॉप में कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 6 का प्रोटेक्शन और डॉल्बी विजन भी दिया गया है।

Dell XPS 13 की बैटरी को लेकर 14 घंटे के बैकअप का दावा किया गया है। इस लैपटॉप का इंटेल कोर i5 वेरियंट 2.7GHz की क्लॉक स्पीड, 8 जीबी रैम और 512 जीबी एसएसडी स्टोरेज के साथ आता है। इसमें 16 जीबी तक रैम और 1 टीबी तक की स्टोरेज है। Dell XPS 13 में इंटेल आइरिस Xe ग्राफिक्स, Wi-Fi 6 और ब्लूटूथ 5.0 का सपोर्ट है।

Dell ने अपने इस लैपटॉप में वेबकैम का भी दिया है। इस लैपटॉप में दो थंडरबोल्ट 4 पोर्ट, एक 3.5एमएम का हेडफोन जैक, माइक्रो एसडी कार्ड रीडर है। लैपटॉप का वजन1.2 किलोग्राम है। Dell XPS 13 की कीमत 1,50,990 रुपये है।
 

प्रमुख लैपटॉप निर्माता कंपनी डेल (Dell) ने भारतीय बाजार में अपने नए लैपटॉप Dell XPS 13 को लॉन्च कर दिया है जो कि Dell XPS फैमिली का नया मेंबर है। Dell XPS 13 में इंटेल का 11वीं जेनरेशन का प्रोसेसर है। इसके अलावा इसका एक अन्य वेरियंट Intel core i5 के साथ अमेजन पर लिस्ट कर दिया गया है। वहीं Dell XPS 13 का इंटेल कोर i7 वाला वेरियंट जनवरी 2021 में उपलब्ध होगा। Dell XPS 13 की बॉडी मशीन एल्यूमीनियम, कार्बर फाइबर और ओवन ग्लास फाइबर से बनी है।

Dell XPS 13 की स्पेसिफिकेशन

Dell XPS 13 में 13 इंच की फुल एचडी बेजललेस इनफिनिटीएज डिस्प्ले है जिसका रेशियो 16:10 है। डिस्प्ले के साथ 4केप्लस या अल्ट्रा एचडी का भी सपोर्ट है। लैपटॉप में 100 फीसदी sRGB कलर रिप्रोडक्शन का सपोर्ट है और इसकी ब्राइटनेस 500 निट्स है। डेल के इस नए लैपटॉप में कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 6 का प्रोटेक्शन और डॉल्बी विजन भी दिया गया है।

Dell XPS 13 की बैटरी को लेकर 14 घंटे के बैकअप का दावा किया गया है। इस लैपटॉप का इंटेल कोर i5 वेरियंट 2.7GHz की क्लॉक स्पीड, 8 जीबी रैम और 512 जीबी एसएसडी स्टोरेज के साथ आता है। इसमें 16 जीबी तक रैम और 1 टीबी तक की स्टोरेज है। Dell XPS 13 में इंटेल आइरिस Xe ग्राफिक्स, Wi-Fi 6 और ब्लूटूथ 5.0 का सपोर्ट है।

Dell ने अपने इस लैपटॉप में वेबकैम का भी दिया है। इस लैपटॉप में दो थंडरबोल्ट 4 पोर्ट, एक 3.5एमएम का हेडफोन जैक, माइक्रो एसडी कार्ड रीडर है। लैपटॉप का वजन1.2 किलोग्राम है। Dell XPS 13 की कीमत 1,50,990 रुपये है।
 



Source link

भारत में इतनी कीमत में लॉन्च हुई Xiaomi की Mi QLED TV 4K, पहली बार मिलेंगे ये खास फीचर्स


File Photo: Mi LED 4 Pro

File Photo: Mi LED 4 Pro

भारत में Xiaomi की ये टीवी 21 दिसंबर दोपहर 12 बजे से सेल के लिए उपलब्ध कराई जाएगी….


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 16, 2020, 4:39 PM IST

Xiaomi Mi QLED TV 4K का 55 इंच की QLED Ultra HD स्क्रीन वाला टीवी आज यानी 16 दिसंबर को भारत में लॉन्च हो गई है. कंपनी ने इस टीवी की कीमत 54,999 रुपये रखी है. खास बात ये है कि एंड्रॉयड TV और पैचवॉल-पावर्ड Mi QLED TV 4K भारत में Mi की पहली QLED TV है. भारत में Xiaomi की ये टीवी 21 दिसंबर दोपहर 12 बजे से सेल के लिए उपलब्ध कराई जाएगी. इसकी बिक्री फ्लिपकार्ट, mi.com, Mi होम स्टोर्स और विजय सेल्स जैसे दूसरे रिटेल स्टोर में होगा.

54,999 रुपये की कीमत के साथ भारत में Xiaomi की ये सबसे महंगी टीवी है. TCL और OnePlus जैसे ब्रांड के Qled टीवी की कीमत 60,000 रुपये के करीब है. आइए जानते हैं TV के फीचर्स.. इस टेलीविजन में 3840×2160 पिक्सल का रेजोलूशन है. अभी ये सिर्फ 55 इंच में उपलब्ध है. ये डॉलबी विजन फॉरमैट को भी सपोर्ट करता है.

(ये भी पढ़ें- काफी शानदार हैं WhatsApp के ये दो धांसू फीचर्स, कई काम हो जाएंगे आसान, यहां देखें लिस्ट)

क्या होंगे फीचरMi QLED TV 4K में 55 इंच का अल्ट्रा HD(3840×2160) QLED स्क्रीन के साथ HLG, HDR10, HDR10+ और Dolby Vision सहित कई HDR फॉरमैट होंगे. यह टीवी एंड्रॉयड 10 पर चलेगा. एंड्रॉयड वर्जन पर चलने वाला यह पहला लेटेस्ट लॉन्च है. हालांकि यह गूगल टीवी लॉन्चर पर काम नहीं करेगा.





Source link

Automotive Skills Development Council (ASDC) and Federation of Automobile Dealers Associations (FADA) join hands with Google to lead industry’s Digital Transformation | फाडा, एएसडीसी ने गूगल इंडिया से की पार्टनरशिप, 1 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को मिलेगी ट्रेनिंग


  • Hindi News
  • Tech auto
  • Automotive Skills Development Council (ASDC) And Federation Of Automobile Dealers Associations (FADA) Join Hands With Google To Lead Industry’s Digital Transformation

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

इस पार्टनरशिप का लक्ष्य देश भर में 20,000 ऑटो डीलरशिप को डिजिटली प्रशिक्षित करना है

  • गूगल इंडिया अपने ‘गूगल के साथ बढ़ो’ प्रोग्राम के तहत वेबिनार ट्रेनिंग दे रही है
  • भारत में डीलरशिप की औसत संख्या पिछले वर्ष तीन साल में 50% कम हो गई है

ऑटोमोटिव स्किल्स डेवलपमेंट काउंसिल (ASDC) और फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (FADA) ने इंडस्ट्री के डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन का नेतृत्व करने के लिए गूगल के साथ हाथ मिलाया है। इस पार्टनरशिप का लक्ष्य देश भर में 20,000 ऑटो डीलरशिप पर 1 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को डिजिटली प्रशिक्षित करना है।

गूगल इंडिया अपने ‘गूगल के साथ बढ़ो’ ट्रेनिंग प्रोग्राम के तहत डिजिटल मार्केटिंग, हायपर लोकल मीटिंग के लिए यूट्यूब चैनल और दूसरे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की वेबिनार ट्रेनिंग दे रही है।

सभी के लिए मुश्किल समय: एएसडीसी
ऑटोमोटिव स्किल्स डेवलपमेंट काउंसिल (ASDC) के अध्यक्ष, निकुंज सांघी ने कहा, “हम सामूहिक रूप से एक अभूतपूर्व समय का अनुभव कर रहे हैं। कोविड-19 की वजह से हमारे रिश्ते डिजिटल हो गए हैं। मौजूदा स्किल के लिए बहुत अधिक पुनर्वितरण की आवश्यकता होगी और जब हम नई दुनिया में फिर से प्रवेश करेंगे तो स्किलिंग एक प्रमुख भूमिका निभाएगा। हमें डिजिटल उपकरणों का उपयोग करने और उनकी दक्षता की निगरानी करने के लिए पूरे ईकोसिस्टम को प्रशिक्षित करने की आवश्यकता है। इसलिए बाजार की निरंतरता बनाए रखने के लिए, ASDC और FADA दोनों गूगल की मदद से ये काम कर रहे हैं।

पुरानी परंपरा से बाहर आना होगा: फाडा
फाडा प्रेसिडेंट, विंकेश गुलाटी ने वेबिनार के बारे कहा, “टेक्नोलॉजी और कम्युनिकेशन के नए चैनलों के साथ स्थानीय स्तर पर प्रोडक्ट की मार्केटिंग और सर्विसेस में बदलाव आया है। गेन एक्सपोजर हासिल करने के लिए इन्सर्ट, बैनर और छोटे प्रिंट विज्ञापनों पर निर्भर रहने परंपरा सदियों पुरानी है। आज जियो-लोकेशन टारगेटिंग, हाइपर-लोकल मार्केटिंग और अन्य डिजिटल मार्केटिंग टेक्नोलॉजी ने एड इंडस्ट्री में क्रांति ला दी है। डिजिटल प्लेटफॉर्म की मदद से ऑटो इंडस्ट्री को गतिशीलता देने के लिए फाडा कमिटेड है। गूगल-ASDC-FADA वेबिनार के जरिए डीलर्स को आने वाले गेम के लिए तैयार करना चाहता है।

कोविड ने ग्राहकों की दूर किया
गूगल इंडिया के ऑटोमोटिव हेड, निखिल बंसल ने कहा, “पिछले कुछ सालों में ऑफलाइन प्रयासों के माध्यम से खरीदारी की विंडो छोटी हो गई है। भारत में डीलरशिप की औसत संख्या पिछले वर्ष तीन साल 2016 से 2019 तक की तुलना में 50% कम हो गई है। अब, कोविड-19 ने ग्राहकों की कार डीलरशिप पर जाने की इच्छा को कमजोर कर दिया है। ऐसे में बिजनेस रिकवरी के लिए ऑनलाइन ऑटो विंडो खुलना उन्हें प्रोत्साहित करेगा। हम अपने डीलरशिप नेटवर्क को डिजिटल बनाने में मदद कर रहे हैं। हम अब ASDC और FADA के साथ मिलकर ऑटो डीलर्स के लिए डिजिटल ईकोसिस्टम को तैयार कर रहे हैं।”



Source link

Anand Mahindra shares this image now gone viral, know why | Anand Mahindra ने शेयर की फोटो, यूं धोखा खा गए लोग


नई दिल्ली: बिजनेस टाइकून और ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री के दिग्गज आनंद महिंद्रा सोशल मीडिया पर खासे एक्टिव रहते हैं. किसी सवाल का जवाब देना हो या अपनी बात दुनिया के सामने रखनी हो वो जरा भी देर नहीं लगाते. Twitter पर वो दिल खोलकर अच्छी चीजों की तारीफ करते हैं. 

आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) का सेंस ऑफ ह्यूमर भी गजब का है. हाल ही में उन्होंने दृष्टिभ्रम यानी ऑप्टिकल इल्यूजन (Optical illusion) की फोटो शेयर की जो अब वायरल हो रही है. ऐसा क्यों है, वो आगे बताएंगे लेकिन पहले देखिए उनका ये ट्वीट.

पहली नजर में इसे देखकर लगेगा कि तस्वीर में नजर आ रही सभी लकीरें टेढ़ी हैं. लेकिन जब आप एक-एक करके हर लाइन को ध्यान देखेंगे तो पता चलेगा कि सभी सीधी हैं. अब यही बात लोगों को हैरान कर रही है. लोग सोच में पढ़ गए हैं कि आखिर कैसे,  ऐसे में भला आपको भी यकीन न आ रहा हो तो ट्राइ कर लीजिए.

ये भी पढ़ें – शादी करने जा रही हैं Ekta Kapoor? हैंडसम हंक के साथ शेयर की फोटो

नजरिया बदलने की सीख
इस फोटो शेयर करते हुए महिंद्रा ने लिखा, ‘मैं इस ऑप्टिकल ऑप्टिकल इल्यूजन के पीछे की साइंस नहीं समझ पा रहा. लेकिन हकीकत में ये काम करता है. यकीनन ये  नैतिक रूप से भी प्रासंगिग है, यानी आप उस लेंस को बदलें जिसके जरिए आप दूसरों को जज करते हैं.’

महिंद्रा के इस ट्वीट पर लोगों ने तरह तरह के कैप्शन दिए हैं. वहीं हजारों लोग इसे पसंद यानी LIKE कर चुके हैं. 

LIVE TV
 





Source link

Nuvoe Water Purification Device Neutralizes Germs And More Make Dirty Water Clean For Drink In Just A Minute – चलता-फिरता वॉटर प्यूरीफायर, गंदे पानी को मिनटों में बनाएं पीने लायक


टेक डेस्क अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Wed, 16 Dec 2020 12:00 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

आप जो पानी पी रहे हैं, वह साफ है या नहीं, अक्सर यह सवाल आपके दिमाग में चलता रहता है। अब इसका जवाब आसानी से मिल सकेगा। शोधकर्ताओं ने एक ऐसा वॉटर प्यूरीफायर तैयार किया है, जिसकी मदद से आपको कहीं भी पीने के लिए साफ पानी आसानी से मिल जाएगा। अगर आप स्कूल, कॉलेज या दफ्तर आदि जगह पर हैं और वहां मिलने वाले पानी की गुणवत्ता से संतुष्ट नहीं हैं तो अपने साथ छोटे आकार के वॉटर प्यूरीफायर को रख सकते हैं, जिससे केवल साफ पानी ही पी सकेंगे। 

इस वॉटर प्यूरीफायर का नाम है नूवो। इस डिवाइस की खासियत यह है कि आप इसे अपने पानी की बोतल में डालकर गंदे पानी को भी साफ और पीने लायक पानी में बदल सकते हैं। अगर आप काम के सिलसिले में बाहर हैं और बोतल का पानी खत्म हो गया है तो भी परेशान न हों। अपने बैग से नूवो वॉटर प्यूरीफायर निकालें।

बोतल के साथ अटैच है एक चुंबक
पानी को साफ करने के लिए डिवाइस को बोतल में डाल दिया जाता है। डिवाइस के साथ एक चुंबक आती है, जिसे बोतल के बाहरी हिस्से पर लगाया जाता है। चुंबक की मदद से डिवाइस बोतल के अंदर जगह बना लेता है। डिवाइस को एक्टिव करने के लिए पानी भरकर बोतल लाइट्स एक्टिव हो जाती हैं और पानी को साफ कर देती हैं। थोड़ी देर बाद डिवाइस से बीप की आवाज आती है, जो यह सुनिश्चित करती है कि पानी पीने लायक हो गया है। इस उपकरण को बनाने में यह ध्यान रखा गया है कि पूरी तरह से पानी में डूबने के बाद भी यह सुरक्षित रहे। आप मैग्नेटिक यूएसबी केबल की मदद से इस डिवाइस को चार्ज कर सकते हैं। एक बार चार्ज होने के बाद आप इसका उपयोग एक महीने तक कर सकते हैं।

कैसे काम करता है नूवो वॉटर प्यूरीफायर?
दरअसल इस डिवाइस में लगीं यूवी-सी लाइट (कीटाणुशोधन तकनीक) की मदद से एक मिनट के अंदर बोतल का पानी न सिर्फ साफ किया जा सकता है, बल्कि विषैले कीटाणुओं के चलते बोतल से जो बदबू आती है, उसे भी दूर किया जा सकता है। अगर आप सफर में हैं और किसी नदी, झरने या तालाब का पानी भी पीने के लिए बोतल में भरना चाहते हैं तो वह भी इस डिवाइस के उपयोग से संभव है। यह डिवाइस अत्याधुनिक तकनीक की मदद से पानी में मौजूद विषैले कीटाणुओं को मार देता है। 

नूवो वॉटर प्यूरीफायर आपके सामान को सैनिटाइज करने में भी सक्षम है। आप किसी मेटल के बॉक्स या किसी अन्य बॉक्स में भी इस प्यूरीफायर को प्लगइन कर सकते हैं और अपने फोन, चाबी और यहां तक कि अपने मास्क को भी मिनटों में साफ कर सकते हैं। नूवो को पारंपरिक पानी की बोतल, पानी का जग, पिचर और फ्रिज में लगे वॉटर डिस्पेंसर में भी उपयोग किया जा सकता

आप जो पानी पी रहे हैं, वह साफ है या नहीं, अक्सर यह सवाल आपके दिमाग में चलता रहता है। अब इसका जवाब आसानी से मिल सकेगा। शोधकर्ताओं ने एक ऐसा वॉटर प्यूरीफायर तैयार किया है, जिसकी मदद से आपको कहीं भी पीने के लिए साफ पानी आसानी से मिल जाएगा। अगर आप स्कूल, कॉलेज या दफ्तर आदि जगह पर हैं और वहां मिलने वाले पानी की गुणवत्ता से संतुष्ट नहीं हैं तो अपने साथ छोटे आकार के वॉटर प्यूरीफायर को रख सकते हैं, जिससे केवल साफ पानी ही पी सकेंगे। 

इस वॉटर प्यूरीफायर का नाम है नूवो। इस डिवाइस की खासियत यह है कि आप इसे अपने पानी की बोतल में डालकर गंदे पानी को भी साफ और पीने लायक पानी में बदल सकते हैं। अगर आप काम के सिलसिले में बाहर हैं और बोतल का पानी खत्म हो गया है तो भी परेशान न हों। अपने बैग से नूवो वॉटर प्यूरीफायर निकालें।

बोतल के साथ अटैच है एक चुंबक

पानी को साफ करने के लिए डिवाइस को बोतल में डाल दिया जाता है। डिवाइस के साथ एक चुंबक आती है, जिसे बोतल के बाहरी हिस्से पर लगाया जाता है। चुंबक की मदद से डिवाइस बोतल के अंदर जगह बना लेता है। डिवाइस को एक्टिव करने के लिए पानी भरकर बोतल लाइट्स एक्टिव हो जाती हैं और पानी को साफ कर देती हैं। थोड़ी देर बाद डिवाइस से बीप की आवाज आती है, जो यह सुनिश्चित करती है कि पानी पीने लायक हो गया है। इस उपकरण को बनाने में यह ध्यान रखा गया है कि पूरी तरह से पानी में डूबने के बाद भी यह सुरक्षित रहे। आप मैग्नेटिक यूएसबी केबल की मदद से इस डिवाइस को चार्ज कर सकते हैं। एक बार चार्ज होने के बाद आप इसका उपयोग एक महीने तक कर सकते हैं।

कैसे काम करता है नूवो वॉटर प्यूरीफायर?
दरअसल इस डिवाइस में लगीं यूवी-सी लाइट (कीटाणुशोधन तकनीक) की मदद से एक मिनट के अंदर बोतल का पानी न सिर्फ साफ किया जा सकता है, बल्कि विषैले कीटाणुओं के चलते बोतल से जो बदबू आती है, उसे भी दूर किया जा सकता है। अगर आप सफर में हैं और किसी नदी, झरने या तालाब का पानी भी पीने के लिए बोतल में भरना चाहते हैं तो वह भी इस डिवाइस के उपयोग से संभव है। यह डिवाइस अत्याधुनिक तकनीक की मदद से पानी में मौजूद विषैले कीटाणुओं को मार देता है। 

नूवो वॉटर प्यूरीफायर आपके सामान को सैनिटाइज करने में भी सक्षम है। आप किसी मेटल के बॉक्स या किसी अन्य बॉक्स में भी इस प्यूरीफायर को प्लगइन कर सकते हैं और अपने फोन, चाबी और यहां तक कि अपने मास्क को भी मिनटों में साफ कर सकते हैं। नूवो को पारंपरिक पानी की बोतल, पानी का जग, पिचर और फ्रिज में लगे वॉटर डिस्पेंसर में भी उपयोग किया जा सकता



Source link

6 हज़ार से भी कम कीमत में भारत में आज लॉन्च होगा नया स्मार्टफोन Infinix HD Smart 2021, जानें खासियत


Infinix Smart HD 2021 में 5000mAh की बैटरी दी गई है.

Infinix Smart HD 2021 में 5000mAh की बैटरी दी गई है.

फ्लिपकार्ट लिस्टिंग और कंपनी के ट्विटर पर दी गई जानकारी के मुताबिक इंफीनिक्स स्मार्ट HD 2021 की कीमत 5,999 रुपये रखी जाएगी. आइए जानते हैं किन फीचर्स के साथ आएगा ये फोन…


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 16, 2020, 10:13 AM IST

इनफिनिक्स (Infinix) आज (16 दिसंबर) भारत में अपना नया बजट स्मार्टफोन Infinix HD Smart 2021 लॉन्च करने के लिए तैयार है. इस फोन की लॉन्चिंग दोपहर 12 लॉन्च होगी. फोन का टीज़र काफी समय पहले जारी कर दिया गया है, जहां से फोन के कुछ फीचर्स और कीमत का पता चल गया है. फ्लिपकार्ट लिस्टिंग और कंपनी के ट्विटर पर दी गई जानकारी के मुताबिक इंफीनिक्स स्मार्ट HD 2021 की कीमत 5,999 रुपये रखी जाएगी. आइए जानते हैं किन फीचर्स के साथ आएगा ये फोन…

इनफीनिक्स स्मार्ट एचडी 2021 में 6.1 इंच का IPS HD+ डिस्प्ले दिया गया है, जो कि 720×1560 पिक्सल रेजॉलूशन के साथ आएगा. ये फोन 2 जीबी रैम और 32 जीबी के इंटरनल स्टोरेज के साथ पेश किया जाएगा. फिलहाल इस फोन के प्रोसेसर के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है. फोन की मेमोरी को ज़रूरत पड़ने पर माइक्रो एसडी कार्ड की मदद से 256 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है. ये फोन एंड्रायड 10 गो एडिशन ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करता है.

कैमरे के तौर पर इस फोन में 8 मेगापिक्सल का कैमरा दिया जाएगा.  यह सिंगल कैमरा स्क्वेयर शेप कैमरा मॉड्यूल के अंदर फिक्स है. सेल्फी की बात करें तो इस फोन में ग्राहकों को 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा दिया जाएगा. खास बात ये है कि इस फोन के कैमरे से 30 fps पर 1080 पिक्सल रेजोलूशन वाली वीडियो रिकॉर्डिंग की जा सकती है. अब बात करें फोन की सबसे खास फीचर्स की तो वह इसकी बैटरी है. पावर देने के लिए इसमें 5000mAh की बैटरी दी गई है, जो कि 5W के फास्ट चार्जिंग के साथ आती है. कनेक्टिविटी की बात करें तो इस फोन में ब्लूटूथ, वाई-फाई 802.11 b/g/n, माइक्रो यूएसबी पोर्ट और 3.5 mm हेडफोन जैक जैसे फीचर दिए गए हैं.





Source link

Most affordable 7 seat cars, SUVs in India, See Which is Better in Your Budget, Check List | भारतीय बाजार में उपलब्ध हैं ये 5 सबसे सस्ती 7 सीटर कारें, लिस्ट में देखें आपके बजट में कौन सी बेहतर


  • Hindi News
  • Tech auto
  • Most Affordable 7 Seat Cars, SUVs In India, See Which Is Better In Your Budget, Check List

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • मारुति ईको 7 लोगों के साथ सफर करने का सबसे सस्ता साधन है
  • ट्राइबर कीमत, कंफर्ट और फीचर्स का एक बेजोड़ कॉम्बिनेशन है

सस्ती सात सीटर कारों की मांग अभी भी काफी मजबूत है और इसे पिछले महीने की बिक्री के आंकड़ों से देखा जा सकता है। सबसे सस्ती सात सीटों वाले पांच में से दो मॉडल की नवंबर 2020 की 10 बेस्ट सेलिंग कारों की लिस्ट में उपस्थिति है। अगर आपकी फैमिली बड़ी है और आप एक सस्ती 7 सीटर कार की तलाश में हैं, तो हमने भारतीय बाजार में मौजूद 5 सस्ती 7-सीटर कारों की लिस्ट तैयार की है। नीचे देखें लिस्ट…

1. मारुति सुजुकी ईको (Maruti Eeco)

मारुति ईको सात लोगों के साथ सफर करने का सबसे सस्ता साधन है, हालांकि यह मल्टी यूटिलिटी व्हीकल है। इसका केबिन काफी बड़ा है, लेकिन ज्यादा आरामदायक या आधुनिक नहीं है। यह बेसिक, पुराना और लागत के हिसाब से बनाया गया है। 1.2-लीटर पेट्रोल इंजन शहर के लिए पर्याप्त है लेकिन एक पूर्ण भार के साथ तनावपूर्ण लगता है, खासकर ऑप्शनल सीएनजी किट के साथ।

ईको पेट्रोल ईको डीजल
इंजन 1196cc, 4 सिलेंडर, पेट्रोल 1196cc, 4 सिलेंडर, सीएनजी
पावर 73 एचपी 63 एचपी
टॉर्क 98 एनएम 85 एनएम
गियरबॉक्स 5 स्पीड मैनुअल 5 स्पीड मैनुअल
माइलेज (ARAI) 16.11kpl 20.88km/kg
कीमत (एक्स-शोरूम, दिल्ली) 3.81-4.22 लाख 4.95 लाख

सिर्फ 5.6 सेकंड में 0-100 Kmph की रफ्तार पकड़ती है ये इलेक्ट्रिक एसयूवी, कंपनी ने शुरू की बुकिंग

2. डैटसन गो प्लस (Datsun Go+)

डैटसन ने इसे 7-सीटर कहता है, लेकिन सीटों की अंतिम पंक्ति वयस्कों या बड़े बच्चों के लिए कंफर्टेबल नहीं है। सबसे हालिया फेसलिफ्ट ने इसे नया लुक और अधिक इक्विपमेंट लाने में मदद की, लेकिन इसकी हल्की बिल्ट क्वालिटी में कोई बदलाव नहीं हुआ। डैटसन गो प्लस के 1.2-लीटर पेट्रोल इंजन को मैनुअल और सीवीटी गियरबॉक्स ऑप्शन मिलते हैं, जो दोनों शहरी ड्राइविंग के लिए अनुकूल हैं।

गो प्लस मैनुअल गो प्लस सीवीटी
इंजन 1198cc, 4 सिलेंडर, पेट्रोल 1198cc, 4 सिलेंडर, पेट्रोल
पावर 68 एचपी 77 एचपी
टॉर्क 104 एनएम 104 एनएम
गियरबॉक्स 5 स्पीड मैनुअल सीवीटी
माइलेज (ARAI) 19.02kpl 18.57kpl
कीमत (एक्स-शोरूम, दिल्ली) 4.20-6.26 लाख 6.70-6.90 लाख

इस महीने जीप की इस दमदार एसयूवी पर होगी 3 लाख रुपए तक की बचत, देखें ऑफर की पूरी डिटेल

3. रेनो ट्राइबर (Renault Triber)

ट्राइबर इस प्राइज पॉइंट पर प्रैक्टिकालिटी, कंफर्ट और फीचर्स का एक बेजोड़ कॉम्बिनेशन है। इस प्रकार, यह बहुत अच्छे मूल्य का प्रतिनिधित्व करता है। तीसरी पंक्ति भी प्रयोग करने योग्य है, लेकिन स्पेस शायद एक बड़े पैमाने पर एक्सटेंडेड बूट के रूप में बेहतर उपयोग किया जाता है। 1.0 पेट्रोल इंजन शहर के लिए पर्याप्त है, और यह हाइवे पर लोडेड होने पर तनावपूर्ण महसूस कराता है। ऑटोमैटिक गियरबॉक्स ऑप्शन पैकेज में सुविधा को जोड़ता है। जबकि एक ट्राइबर टर्बो-पेट्रोल आ रहा है, लेकिन इसके लॉन्च में देरी हुई है।

ट्राइबर मैनुअल ट्राइबर ऑटोमैटिक
इंजन 999cc, 3 सिलेंडर, पेट्रोल 999cc, 3 सिलेंडर, पेट्रोल
पावर 72 एचपी 72 एचपी
टॉर्क 96 एनएम 96 एनएम
गियरबॉक्स 5 स्पीड मैनुअल 5 स्पीड मैनुअल
माइलेज (ARAI) 19kpl 18.27kpl
कीमत (एक्स-शोरूम, दिल्ली) 5.12-6.95 लाख 6.30-7.35 लाख

1 जनवरी से महंगी हो जाएंगी किआ मोटर्स की सोनेट और सेल्टोस, कार्निवल मौजूदा कीमत में बिकेगी

4. मारुति सुजुकी अर्टिगा (Maruti Ertiga)

मारुति का सेकंड जनरेशन एमपीवी शहर में उपयोग में आसानी के लिए जाना जाता है, विशेष रूप से ऑटोमैटिक रूप में – और हाईवे पर भी। यह काफी शांत भी है, खासतौर से इसके माइल्ड-हाइब्रिड तकनीक की बदौलत। मारुति एर्टिगा प्रैक्टिकालिटी और स्पेस के मामले में हाई स्कोर करता है, हालांकि इस प्राइस पॉइंट पर कुछ और प्रीमियम सुविधाएं मिल सकती थी।

अर्टिगा मैनुअल अर्टिगा ऑटोमैटिक अर्टिगा सीएनजी
इंजन 1462cc, 4 सिलेंडर, माइल्ड-हाइब्रिड पेट्रोल 1462cc, 4 सिलेंडर, माइल्ड-हाइब्रिड पेट्रोल 1462cc, 4 सिलेंडर, माइल्ड-हाइब्रिड सीएनजी
पावर 105 एचपी 105 एचपी 92 एचपी
टॉर्क 138 एनएम 138 एनएम 122 एनएम
गियरबॉक्स 5 स्पीड मैनुअल 4 स्पीड टॉर्क कन्वर्टर 5 स्पीड मैनुअल
माइलेज (ARAI) 19.01kpl 17.99kpl 26.08km/kg
कीमत (एक्स-शोरूम, दिल्ली) 7.59-9.71 लाख 9.36-10.13 लाख 8.95 लाख

भारतीय बाजार में एंट्री करेंगी ये 5 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, 15 लाख से कम होगी इनकी कीमत; देखें लिस्ट

5. महिंद्रा बोलेरो (Mahindra Bolero)

महिंद्रा बोलेरो अभी भी हर महीने सबसे ज्यादा बिकने वाले मॉडलों में से एक है। हालांकि यह क्रूड और पुराना महसूस कराता है, लेकिन इसकी कठोर, मजबूत और विश्वसनीय प्रकृति खरीदारों को आकर्षित करती है। हालांकि, सीटों की दूसरी और तीसरी पंक्तियां तंग हैं और केबिन या तो आमंत्रित नहीं कर रहा है। एसयूवी 2.5-लीटर डीजल इंजन से लैस है।

इंजन 1498cc, 3 सिलेंडर, टर्बो-डीजल
पावर 76 एचपी
टॉर्क 210 एनएम
गियरबॉक्स 5 स्पीड मैनुअल
माइलेज (ARAI)
कीमत (एक्स-शोरूम, दिल्ली) 8.01-9.01 लाख

मारुति, हुंडई से होंडा तक, इन 9 सेडान को सस्ते में खरीदने का मौका; 2.5 लाख रुपए तक मिल रहा डिस्काउंट



Source link

Onemix 1s Plus Yoga Laptops 7 Inch Intel 3965y 8gb Ram Laptop Know The Truth Behind This Offer – 1,499 रुपये में 8gb रैम वाला लैपटॉप, क्या है इस ऑफर की सच्चाई?


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

आजकल किसी भी प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए सोशल मीडिया सबसे बड़ा जरिया हो गया है, लेकिन आपको भी यह बात मालूम होगी कि सबसे ज्यादा धोखाधड़ी ऑनलाइन शॉपिंग में ही रही है। आपने कई बार अपने फेसबुक फीड में देखा होगा कि 30 हजार रुपये का सोनी का हेडफोन 300 रुपये में मिल रहा है। कई बार तो महंगे प्रोडक्ट को भी महज 1 रुपये में फेसबुक की शॉपिंग कैटेगरी में लिस्ट कर दिया जाता है। अब एक नया स्कैम चल रहा है जिसमें महज 1,499 रुपये में 8 जीबी रैम के साथ लैपटॉप देने का दावा किया जा रहा है। आइए जानते हैं इस ऑफर की सच्चाई…

गैजेट्स इंडिया नाम के एक फेसबुक पेज पर इस लैपटॉप को लिस्ट किया गया है। बकायदा 1,499 रुपये की कीमत के साथ पोस्ट को स्पॉनसर्ड भी किया गया है, जबकि इस लैपटॉप को www.sportsgadgets.in पर लिस्ट किया गया है। दावा किया जा रहा है कि इस महज 1,499 रुपये में आपको OneMix 1s Plus Yoga लैपटॉप मिलेगा। इस लैपटॉप में 256 जीबी स्टोरेज के साथ 8 जीबी की रैम और 7 इंच की डिस्प्ले के दावना किया जा रहा है। दावा यह भी है कि इस लैपटॉप की स्क्रीन में टच का सपोर्ट है और विंडोज 10 भी मिलेगा। इस लैपटॉप के साथ एक पेन भी है जो कि लैपटॉप को कंट्रोल करने में इस्तेमाल होगा। इस लैपटॉप में फिंगरप्रिंट स्कैनर भी है और इसमें intel 3965Y प्रोसेसर का इस्तेमाल किया गया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि www.sportsgadgets.in को www.shopify.com पर बनाया गया है। शॉपीफाई एक ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म है जहां कोई भी तुरंत अपनी साइट डिजाइन करके प्रोडक्ट बेचना शुरू कर सकता है। यानी यदि आपके पास कोई डोमेन है तो आप इस साइट की मदद से अपनी शॉपिंग साइट बना सकते हैं।

गैजेट्स इंडिया के इस ऑफर की हमनें तहकीकात की तो पता चला कि इसी लैपटॉप को www.amazon.ae पर लिस्ट किया गया है। यह अमेजन की सऊदी अरब की वेबसाइट है। इस साइट पर AED 2,699.99 के साथ लिस्ट किया गया है। बता दें कि AED संयुक्त अरब अमीरात की करेंसी है। AED का मतलब अरब अमीरात दिरहम है। अब यदि 2,699.99 दिरहम भारतीय रुपया में बदलते हैं तो इस लैपटॉप की कीमत 54,053.28 रुपये हो जाती है। तो हमारी जांच में पता चला कि लैपटॉप के फीचर्स तो सही हैं लेकिन इस कीमत को लेकर किया जा रहा दावा फर्जी है। यह संभव है कि इस लैपटॉप को खरीदने के बाद आपसे नियम व शर्तों का हवाला देकर फ्रॉड किया जाए या अधिक पैसे लिए जाएं। अब यह आपके स्व-विवेक पर निर्भर करता है कि आप लालच में आते हैं या फिर आधिकारिक वेबसाइट से इस लैपटॉप को खरीदते हैं। इस फेसबुक पेज पर भी लोगों ने फर्जीवाड़े को लेकर शिकायतें की हैं।

आजकल किसी भी प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए सोशल मीडिया सबसे बड़ा जरिया हो गया है, लेकिन आपको भी यह बात मालूम होगी कि सबसे ज्यादा धोखाधड़ी ऑनलाइन शॉपिंग में ही रही है। आपने कई बार अपने फेसबुक फीड में देखा होगा कि 30 हजार रुपये का सोनी का हेडफोन 300 रुपये में मिल रहा है। कई बार तो महंगे प्रोडक्ट को भी महज 1 रुपये में फेसबुक की शॉपिंग कैटेगरी में लिस्ट कर दिया जाता है। अब एक नया स्कैम चल रहा है जिसमें महज 1,499 रुपये में 8 जीबी रैम के साथ लैपटॉप देने का दावा किया जा रहा है। आइए जानते हैं इस ऑफर की सच्चाई…


आगे पढ़ें

1,499 रुपये में 8GB रैम वाला यह लैपटॉप



Source link

Land Rover Defender Plug-In Hybrid Bookings Open In India, Catches 0-100Kmph in just 5.6 seconds | सिर्फ 5.6 सेकंड में 0-100 Kmph की रफ्तार पकड़ती है ये इलेक्ट्रिक एसयूवी, कंपनी ने शुरू की बुकिंग


  • Hindi News
  • Tech auto
  • Land Rover Defender Plug In Hybrid Bookings Open In India, Catches 0 100Kmph In Just 5.6 Seconds

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली18 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • इसमें एक 2.0-लीटर चार-सिलेंडर इनजेनियम पेट्रोल इंजन है
  • कंपनी का दावा है- मिलेगी 209 किमी प्रति घंटे की टॉप स्पीड

जगुआर लैंड रोवर इंडिया ने आज घरेलू बाजार में प्लग-इन हाइब्रिड डिफेंडर के लिए बुकिंग शुरू करने की घोषणा की है। डिफेंडर P400e, टाटा के स्वामित्व वाली लग्जरी कार निर्माता का पहला PHEV (प्लग इन हाइब्रिड व्हीकल्स) है और इसे सबसे शक्तिशाली और फ्यूल एफिशिएंट कहा जाता है।

सिर्फ 5.6 सेकंड में 0-100Kmph की रफ्तार
इसमें एक 2.0-लीटर चार-सिलेंडर इनजेनियम पेट्रोल इंजन है, जो 105 kW इलेक्ट्रिक मोटर के साथ मिलकर काम करता है, क्योंकि P400e लगभग 400 हॉर्सपावर का अधिकतम पावर आउटपुट और 640 एनएम का पीक टॉर्क जनरेट करता है। कंपनी का दावा है 209 किमी प्रति घंटे की टॉप स्पीड तक पहुंचने से पहले यह केवल 5.6 सेकंड में शून्य से 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक पहुंचती है।

भारतीय बाजार में एंट्री करेंगी ये 5 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, 15 लाख से कम होगी इनकी कीमत; देखें लिस्ट

इसे घर-ऑफिस में आसानी से चार्ज किया जा सकता है

  • 2021 लैंड रोवर डिफेंडर P400e 19.2kWh की बैटरी से लैस है, और इसे 15A सॉकेट या 7.4 kW AC वॉल बॉक्स चार्जर के उपयोग से घर या ऑफिस में आसानी से चार्ज किया जा सकता है। बुकिंग की ओपनिंग पर बोलते हुए, जगुआर लैंड रोवर इंडिया के प्रेसिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर, रोहित सूरी ने कहा: “लैंड रोवर की शानदार ऑफ-रोड क्षमता को बरकरार रखते हुए, हम भारत में अपने प्लग-इन हाइब्रिड नई डिफेंडर P400e को पेश करते हुए बेहद गर्व महसूस करते हैं। नवंबर 2020 में जगुआर I-PACE के लिए बुकिंग खोलने के बाद, हमने जगुआर लैंड रोवर पोर्टफोलियो में इलेक्ट्रिफाइड वाहनों को पेश करने की हमारी प्रतिबद्धता की पुष्टि की।”
  • जेएलआर ने पुष्टि की है कि अपकमिंग डिफेंडर P400e को डिफेंडर 110 पर एसई, एचएसई, एक्स-डायनेमिक एचएसई और एक्स कुल चार वैरिएंट में बेचा जाएगा। 2021 लैंड रोवर डिफेंडर P400e की डिलीवरी अगले वित्तीय वर्ष (अप्रैल से जून 2021 की अवधि) की पहली तिमाही में शुरू होने की उम्मीद है। लग्जरी ब्रांडों के साथ भारत में क्लीनर वाहनों को लाने पर ध्यान केंद्रित करने के साथ, हम अगले साल लॉन्च होने वाले जीरो एमिशन वाहनों की एक सीरीज देखेंगे।

इस महीने जीप की इस दमदार एसयूवी पर होगी 3 लाख रुपए तक की बचत, देखें ऑफर की पूरी डिटेल

पांच, छह या सात सीट ऑप्शन में उपलब्ध
डिफेंडर कुछ महीने पहले 90 और 110 वैरिएंट में आया था और इसकी कीमत 73.98 लाख रुपए है, जो 90.46 लाख रुपए (एक्स-शोरूम) तक जाती है। बेस, एस, एसई, एचएसई और फर्स्ट एडिशन ट्रिम्स में बेचा गया, नया डिफेंडर नए डी 7 एक्स आर्किटेक्चर पर आधारित है और ब्रांड द्वारा निर्मित सबसे कठोर और सबसे मजबूत बॉडी होने का दावा किया जाता है। एक एल्यूमीनियम इंटेंसिव आर्किटेक्चर का उपयोग करते हुए, ऑफ-रोडर को पांच, छह या सात सीट ऑप्शन में खरीदा जा सकता है।

1 जनवरी से महंगी हो जाएंगी किआ मोटर्स की सोनेट और सेल्टोस, कार्निवल मौजूदा कीमत में बिकेगी

इंजन में कितना है दम
यह 2.0-लीटर चार-सिलेंडर टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल इंजन से लैस है, जो कि 296 बीएचपी का अधिकतम पावर आउटपुट और 400 एनएम का पीक टॉर्क जनरेट करने के लिए पर्याप्त है। पावरट्रेन एक आठ-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन से जुड़ा है जो ट्विन ट्रांसफर केस के साथ सभी चार पहियों पर पावर भेजता है।



Source link

6 Years Boy Spends 12 Lakh Rs To Purchase Ipad Game – 6 साल के बच्चे ने गेम के लिए उड़ा दिए मां के 12 लाख रुपए, जब मां को पता चला तो…


स्मार्टफोन पर गेम खेलने को लेकर ज्यादातर बच्चों में क्रेज देखने को मिलता है। बच्चों को हाथ में मोबाइल लग जाए तो वे कई घंटों तक उसमें गेम खेलते रहते हैं। हालांकि आजकल जो गैजेट्स आ रहे हैं, उनमें पैरेंटल कंट्रोल फीचर आता है। लेकिन उनका इस्तेमाल कम ही लोग करते हैं। ऐसे में बच्चे के हाथ में गैजेट देना कभी—कभी महंगा भी पड़ सकता है। ऐसा ही कुछ न्यूयॉर्क में एक महिला के साथ हुआ। न्यूयॉक के विल्टन शहर में एक 6 साल के बच्चे ने आईपैड (ipad) पर गेम खरीदने के लिए मां के क्रेडिट कार्ड से करीब 12 लाख रुपए खर्च कर डाले।

Apple App store से खरीदा गेम
घटना न्यूयॉर्क के विल्टन की है। यहां जेसिका जॉनसन के 6 साल के बेटे ने जॉर्ज जॉनसन Apple ipad के अपने फेवरेट वीडियो गेम को खरीदने के लिए अपने मां के क्रेडिट कार्ड से करीब 16,000 डॉलर (लगभग 11.80 लाख रुपए) खर्च कर दिए। बताया जा रहा है कि बच्चे ने Apple App store से अपना पसंदीदा गेम ‘Sega’s Sonic Forces का आईपैड वर्जन खरीदा है। हैरान कर देनी वाली बात यह है कि मां को इस बात की भनक तक नहीं लगी कि उनका बच्चा गेम खरीदने के लिए लाखों रुपए उनके क्रेडिट कार्ड से खर्च कर रहा है।

क्रेडिट कार्ड से किए 25 ट्रांजेक्शन
रिपोर्ट के अनुसार, 6 साल के इस बच्चे ने अपने गेम के लिए बूस्टर खरीदा, जिसमें सबसे पहले Red Rings (1.99 डॉलर) और फिर Gold Rings (99.99 डॉलर) खरीदी। बता दें कि इन बूस्टर पर हर बार हज़ारों डॉलर खर्च करने पर प्लेयर को नए कैरेक्टर और ज्यादा स्पीड मिलती है। इसके लिए बच्चे ने नौ जुलाई को 25 ट्रांजेक्शन किए, जिनकी कीमत 2,500 डॉलर्स यानी करीब 1.8 लाख रुपए है। मां को शुरुआत में यह कोई फ्रॉड लगा। उन्होंने इसकी शिकायत भी की। बाद में उन्हें सच्चाई का पता चला।

यह भी पढ़ें—Google Map पर शॉर्टकट लेने के चक्कर में गई युवक की जान, रास्ता भटक पहुंचा ऐसी जगह…

game_2.png

मां ने किया धोखाधड़ी का क्लेम
बच्चे की मां जेसिका जॉनसन को जब अपने क्रेडिट कार्ड से 1 लाख 80 हजार के 25 ट्रांजेक्शन मिले तो उन्हें लगा कि उनके साथ किसी तरह का फ्रॉड हुआ है। जेसिका जॉनसन ने धोखाधड़ी का क्लेम तब किया जब उनका बिल 16,293.10 डॉलर (11.99 लाख रुपए) तक पहुंच गया। ऐसे में उन्होंने बैंक से कॉन्टैक्ट किया। तब उन्हें पता लगा कि ये ट्रांजेक्शन उनके क्रेडिट कार्ड से ही हुए हैं और उन्हें Apple कंपनी को को कॉन्टैक्ट करना होगा।

यह भी पढ़ें—Google से कस्टमर केयर का नंबर निकालना पड़ सकता है भारी, खाली हो सकता है आपका बैंक अकाउंट

एप्पल ने किया पैसे लौटाने से इनकार
इसके बाद जेसिका ने एप्पल कंपनी में इसकी शिकायत की, लेकिन एप्पल ने पैसा लौटाने से इंकार कर दिया। एप्पल का कहना है कि जॉनसन ने इसकी शिकायत 60 दिनों के अंदर नहीं की है। एपल ने यह भी कहा है कि जॉनसन ने अपने अकाउंट को लॉक भी नहीं किया। वहीं मां ने भी आईपैड में पैरेंटल कंट्रोल ऑन नहीं कर रखा था। मां का कहना है कि अगर मुझे पता होता कि उसके लिए एक सेटिंग थी, तो मैं अपने 6 साल के बच्चे को वर्चुअल सोने की अंगूठी के लिए लगभग 20,000 डॉलर खर्च करने की अनुमति नहीं देती।





Source link

Iqoo U3 Launched With Mediatek Dimensity 800u 5g Soc Price And Specifications – Iqoo U3 स्मार्टफोन हुआ लॉन्च, मिलेगा Dimensity 800u 5g प्रोसेसर


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

वीवो के सब-ब्रांड iQoo ने अपना लेटेस्ट 5जी फोन iQoo U3 चीन में लॉन्च कर दिया है। iQoo U3 में 6.58 इंच की डिस्प्ले है जिसका रिफ्रेश रेट 90Hz है। इसके अलावा इस फोन में मीडियाटेक का ऑक्टाकोर Dimensity 800U 5G प्रोसेसर है। iQoo U3 में 5000एमएएच की बड़ी बैटरी भी दी गई है। iQoo U3 की प्री-बुकिंग चीन में शुरू हो गई है, लेकिन ग्लोबल मार्केट में इसकी लॉन्चिंग की फिलहाल कोई खबर नहीं है।

iQoo U3 की कीमत
Vivo की चीनी वेबसाइट और JD.com पर iQoo U3 को लिस्ट किया गया है जिसके मुताबिक फोन के 6 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज वेरियंट की कीमत 1,498 चीनी युआन यानी करीब 16,800 रुपये और 8 जीबी रैम के साथ 128 जीबी स्टोरेज वेरियंट की कीमत 1,698 चीनी युआन यानी करीब 19,100 रुपये है। iQoo U3 दो कलर वेरियंट में मिलेगा जिनमें ग्लो ब्लू और टू अर्ली ब्लैक कलर वेरियंट शामिल हैं।

iQoo U3 की स्पेसिफिकेशन
iQoo U3 में 6.58 इंच की एलसीडी डिस्प्ले है जिसका रिजॉल्यूशन 1080×2408 पिक्सल और रिफ्रेश रेट 90Hz है। फोन में मीडियाटेक Dimensity 800U 5G प्रोसेसर दिया गया है जिसके साथ 8 जीबी तक रैम और 128 जीबी की स्टोरेज का सपोर्ट है। iQoo U3 में एंड्रॉयड 10 आधारित iQoo UI 1.5 ऑपरेटिंग सिस्टम दिया गया है।

iQoo U3 का कैमरा 
कैमरे की बात करें तो इसमें डुअल रियर कैमरा सेटअप है जिसमें मेन लेंस 48 मेगापिक्सल का है जिसका अपर्चर f/1.79 है। वहीं दूसरा लेंस 2 मेगापिक्सल का है। कैमरे से 4के वीडियो रिकॉर्ड किया जा सकेगा। इसमें 10एक्स जूम भी है। कैमरे के साथ नाइट, पोट्रेट और पैनोरमा जैसे मोड्स भी दिए गए हैं। सेल्फी के लिए इसमें 8 मेगापिक्सल का लेंस मिलेगा।

iQoo U3 की बैटरी

फोन में 5000mAH की बैटरी है जो 18वॉट की डुअल इंजन फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट करती है। कनेक्टिविटी के लिए इसमें 5G, 4G LTE, Wi-Fi, ब्लूटूथ v5.1, यूएसबी-टाईप-सी और 3.5एमएम का हेडफोन जैक है।

वीवो के सब-ब्रांड iQoo ने अपना लेटेस्ट 5जी फोन iQoo U3 चीन में लॉन्च कर दिया है। iQoo U3 में 6.58 इंच की डिस्प्ले है जिसका रिफ्रेश रेट 90Hz है। इसके अलावा इस फोन में मीडियाटेक का ऑक्टाकोर Dimensity 800U 5G प्रोसेसर है। iQoo U3 में 5000एमएएच की बड़ी बैटरी भी दी गई है। iQoo U3 की प्री-बुकिंग चीन में शुरू हो गई है, लेकिन ग्लोबल मार्केट में इसकी लॉन्चिंग की फिलहाल कोई खबर नहीं है।

iQoo U3 की कीमत

Vivo की चीनी वेबसाइट और JD.com पर iQoo U3 को लिस्ट किया गया है जिसके मुताबिक फोन के 6 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज वेरियंट की कीमत 1,498 चीनी युआन यानी करीब 16,800 रुपये और 8 जीबी रैम के साथ 128 जीबी स्टोरेज वेरियंट की कीमत 1,698 चीनी युआन यानी करीब 19,100 रुपये है। iQoo U3 दो कलर वेरियंट में मिलेगा जिनमें ग्लो ब्लू और टू अर्ली ब्लैक कलर वेरियंट शामिल हैं।

iQoo U3 की स्पेसिफिकेशन
iQoo U3 में 6.58 इंच की एलसीडी डिस्प्ले है जिसका रिजॉल्यूशन 1080×2408 पिक्सल और रिफ्रेश रेट 90Hz है। फोन में मीडियाटेक Dimensity 800U 5G प्रोसेसर दिया गया है जिसके साथ 8 जीबी तक रैम और 128 जीबी की स्टोरेज का सपोर्ट है। iQoo U3 में एंड्रॉयड 10 आधारित iQoo UI 1.5 ऑपरेटिंग सिस्टम दिया गया है।

iQoo U3 का कैमरा 
कैमरे की बात करें तो इसमें डुअल रियर कैमरा सेटअप है जिसमें मेन लेंस 48 मेगापिक्सल का है जिसका अपर्चर f/1.79 है। वहीं दूसरा लेंस 2 मेगापिक्सल का है। कैमरे से 4के वीडियो रिकॉर्ड किया जा सकेगा। इसमें 10एक्स जूम भी है। कैमरे के साथ नाइट, पोट्रेट और पैनोरमा जैसे मोड्स भी दिए गए हैं। सेल्फी के लिए इसमें 8 मेगापिक्सल का लेंस मिलेगा।

iQoo U3 की बैटरी

फोन में 5000mAH की बैटरी है जो 18वॉट की डुअल इंजन फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट करती है। कनेक्टिविटी के लिए इसमें 5G, 4G LTE, Wi-Fi, ब्लूटूथ v5.1, यूएसबी-टाईप-सी और 3.5एमएम का हेडफोन जैक है।



Source link

PUBG Mobile India launch: Beware of fake download links, some can be malware | कई साइट्स पर मौजूद हैं नए पबजी गेम की नकली डाउनलोड लिंक, क्लिक करते ही हो सकता है डेटा चोरी


  • Hindi News
  • Tech auto
  • PUBG Mobile India Launch: Beware Of Fake Download Links, Some Can Be Malware

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • कई यूजर्स नकली एपीके लिंक का शिकार हो चुके हैं
  • नकली लिंक से हैकर्स स्मार्टफोन तक पहुंच बना सकते हैं

लोकप्रिय मोबाइल मल्टी-प्लेयर गेम पबजी मोबाइल एक नए अवतार में भारत में लॉन्च होने के लिए तैयार है, जहां खेल को नए कैरेक्टर्स, गेमप्ले और यहां तक ​​कि एक नया नाम पबजी मोबाइल इंडिया है।

हालांकि कंपनी ने कहा है कि अगले साल फरवरी से पहले इस गेम को लॉन्च करने की संभावना नहीं है, लेकिन कई पबजी प्रशंसकों ने कथित तौर पर कुछ वेबसाइटों पर उपलब्ध गेम के एपीके डाउनलोड लिंक को देखा है।

फेक एपीके लिंक से सावधान

  • आपके लिए यह जानना महत्वपूर्ण है कि इनमें से कई लिंक नकली हैं और उनमें मालवेयर भी हो सकता है। आपके डिवाइस के लिए नकली लिंक खतरनाक हो सकते हैं क्योंकि वे हैकर्स को आपके स्मार्टफोन तक पहुंच प्राप्त करने और संवेदनशील डेटा चोरी करने में मदद कर सकते हैं।
  • कई यूजर्स अतीत में ऐसे दुर्भावनापूर्ण लिंक के शिकार हुए हैं, जिन्होंने उनके स्मार्टफोन को नुकसान पहुंचाया है। बढ़ती अटकलों के बीच कि जल्द ही इस गेम को लॉन्च किया जा सकता है, कई लोग थर्ड-पार्टी वेबसाइट्स पर गेम के डाउनलोड लिंक खोजने की कोशिश कर रहे हैं। कंपनी ने अपने प्रशंसकों से धैर्य रखने को कहा है।

अब दो भाषाओं के बीच रियल टाइम ट्रांसलेशन करेगा एलेक्सा, जानिए किन डिवाइसों में मिलेगी यह सुविधा

पबजी मोबाइल इंडिया से क्या उम्मीद की जा सकती है?

  • पबजी मोबाइल उन 118 चीनी ऐप्स में शामिल था, जिन्हें सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए भारत में प्रतिबंधित किया गया था। भारत सरकार ने कहा कि ये ऐप “भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए पूर्वाग्रहपूर्ण हैं”।
  • पिछले महीने ही हमें पबजी कॉर्पोरेशन की ओर से एक अपडेट मिला था कि उसे भारत में नियमों और विनियमों का पालन करते हुए खेल को फिर से शुरू करने की अनुमति मिली थी।
  • कंपनी ने यह भी कहा है कि वह बेहतर डेटा सुरक्षा की तलाश में है और यह सुनिश्चित करती है कि उसके यूजर्स का डेटा सुरक्षित और स्थानीय रूप से संग्रहीत हो।
  • बैटल रोयाले गेम का भारतीय वर्जन गेमप्ले में बदलाव, खेल की शुरुआत में लॉबी में कपड़े के कैरेक्टर्स और सरकार द्वारा निर्देशों के अनुसार अन्य परिवर्तनों के साथ आने की उम्मीद है।

70 लाख भारतीयों के डेबिट-क्रेडिट कार्ड का डेटा लीक, डार्क वेबसाइट पर अपलोड किया गया



Source link

Translate »