CBSE Class 10th And 12th New Exam Pattern 2021 – CBSE New Exam Pattern 2021: दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षा के पैटर्न में हुआ बदलाव, यहां पढ़ें

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


CBSE New Exam Pattern 2021: सीबीएसई ने दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया है। यह बदलाव इसी सत्र 2020-21 से लागू होगा। परीक्षा पैटर्न में यह बदलाव ऑफिशियल वेबसाइट पर जारी सैंपल पेपर के जरिए चेक किया जा सकता है।

CBSE New Exam Pattern 2021: सीबीएसई ने दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया है। यह बदलाव इसी सत्र 2020-21 से लागू होगा। परीक्षा पैटर्न में यह बदलाव ऑफिशियल वेबसाइट पर जारी सैंपल पेपर के जरिए चेक किया जा सकता है। यह बदलाव सीबीएसई के 10वीं हिंदी विषय में हुआ है। हिंदी विषय में अब केवल दो ही खंड में प्रश्न रहेंगे। प्रथम खंड में केवल वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न होंगें जबकि द्वितीय खंड में लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे। अभी तक हिंदी में चार खंड में प्रश्न पूंछे जाते थे। हिंदी के प्रथम खंड में 40 मार्क्स और द्वितीय खंड में 40 मार्क्स के सवाल रहेंगे।

CBSE Class 12th New Exam pattern
12वीं के इंगलिश विषय में भी बदलाव किया है। अभी तक इंगलिश में तीन खंड में प्रश्न पूछे जाते थे, परंतु अब दो खंड में प्रश्न पूंछे जायेंगें। पहले खंड में बहुविकल्पीय प्रकार के प्रश्न और दूसरे खंड में लघु तथा दीर्घ उत्तरीय प्रश्न रहेंगे। सीबीएसई बोर्ड ने यह बदलाव सत्र 2021 की परीक्षा के लिए किया है।

12वीं जीवविज्ञान के प्रश्नपत्र में पांच की जगह चार भाग होंगे और प्रश्नों की संख्या 27 से बढ़ाकर 33 कर दी गयी है। इस प्रकार मनोविज्ञान में इस साल वस्तुनिष्ठ प्रश्न की संख्या 17 से बढ़ाकर 21 कर दी गयी है।

CBSE Board Exam 2021 Sample paper
इसी तरह सीबीएसई बोर्ड ने कला संकाय के कई विषयों में प्रश्न पत्र की संख्या घटाई गयी है। बोर्ड के कक्षा 12वीं में इस बार मल्टीपल च्वाइस वाले प्रश्नों की संख्या 18 की जगह 15 कर दी गई है। इनमें से केवल 14 प्रश्नों के जबाब ही देने हैं. परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने कहा कि बदलाव की जानकारी सैंपल पेपर से दे दी गयी है।













Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page