China Finally Congratulates Biden, Harris For Their Victory In Us Presidential Election – चीन ने आखिरकार बाइडन और हैरिस को दी अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में जीत की बधाई

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, बीजिंग
Updated Fri, 13 Nov 2020 06:15 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

चीन ने आखिरकार शुक्रवार को अमेरिका के राष्ट्रपति पद के लिए हुए चुनाव में जो बाइडन और उप राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार रहीं कमला हैरिस को उनकी जीत के लिए बधाई दे दी। चीन ने अपनी झिझक मिटाकर बधाई देते हुए कहा कि बीजिंग अमेरिकी लोगों की पसंद का सम्मान करता है।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा, अमेरिकी चुनाव पर अमेरिका के अंदर और अंतरराष्ट्रीय समुदाय की ओर से दी जा रही प्रतिक्रियाओं पर नजर रख रहे थे। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सचिव एंटोनियो गुटेरेस समेत कई वैश्विक नेता बाइडन को बधाई दे चुके हैं।

प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा, हम अमेरिका की जनता की पसंद का पूरा सम्मान करते हैं और जो बाइडन व कमला हैरिस को जीत की बधाई देते हैं। उन्होंने कहा कि हम समझते हैं कि अमेरिकी कानूनों और प्रक्रियाओं का पालन करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों का परिणाम निर्धारित किया जाएगा।

बता दें कि शुरुआती दौर में चीन जो बाइडन को जीत की बधाई देने में झिझक रहा था। नौ नवंबर को वांग ने बाइडन की जीत पर बधाई देने से इनकार कर दिया था। तब उन्होंने कहा था कि अमेरिक में हुए चुनाव का परिणाम देश के कानून और व्यवस्थाओं के अनुरूप निर्धारित किया जाना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि ट्रंप के चार साल के कार्यकाल में चीन-अमेरिका संबंध सबसे खराब दौर में थे। चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी की ओर से उम्मीदवार मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा हार मानने से इनकार किए जाने के बाद चीन ने डेमोक्रेट प्रत्याशी बाइडन को बधाई नहीं दी थी।

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने सोमवार को अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन और उप राष्ट्रपति कमला हैरिस को जीत की बधाई दी थी। बधाई संदेश में बाइडन और हैरिस का नाम नहीं था बल्कि उन्हें नव निर्वाचित राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति कहकर संबोधित किया गया।

अमेरिकी चुनाव अधिकारियों ने खारिज किए ट्रंप के धोखाधड़ी के दावे
अमेरिका के चुनाव सुरक्षा अधिकारियों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चुनाव में धोखाधड़ी के दावों को खारिज करते हुए कहा कि इसके कोई सबूत नहीं हैं और 2020 राष्ट्रपति चुनाव अमेरिकी इतिहास के सबसे सुरक्षित चुनाव थे। बता दें कि ट्रंप लगातार चुनावी धोखाधड़ी के निराधार दावे कर रहे हैं और उन्होंने अभी तक अपनी हार स्वीकार नहीं की है।

चीन ने आखिरकार शुक्रवार को अमेरिका के राष्ट्रपति पद के लिए हुए चुनाव में जो बाइडन और उप राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार रहीं कमला हैरिस को उनकी जीत के लिए बधाई दे दी। चीन ने अपनी झिझक मिटाकर बधाई देते हुए कहा कि बीजिंग अमेरिकी लोगों की पसंद का सम्मान करता है।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा, अमेरिकी चुनाव पर अमेरिका के अंदर और अंतरराष्ट्रीय समुदाय की ओर से दी जा रही प्रतिक्रियाओं पर नजर रख रहे थे। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सचिव एंटोनियो गुटेरेस समेत कई वैश्विक नेता बाइडन को बधाई दे चुके हैं।

प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा, हम अमेरिका की जनता की पसंद का पूरा सम्मान करते हैं और जो बाइडन व कमला हैरिस को जीत की बधाई देते हैं। उन्होंने कहा कि हम समझते हैं कि अमेरिकी कानूनों और प्रक्रियाओं का पालन करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों का परिणाम निर्धारित किया जाएगा।

बता दें कि शुरुआती दौर में चीन जो बाइडन को जीत की बधाई देने में झिझक रहा था। नौ नवंबर को वांग ने बाइडन की जीत पर बधाई देने से इनकार कर दिया था। तब उन्होंने कहा था कि अमेरिक में हुए चुनाव का परिणाम देश के कानून और व्यवस्थाओं के अनुरूप निर्धारित किया जाना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि ट्रंप के चार साल के कार्यकाल में चीन-अमेरिका संबंध सबसे खराब दौर में थे। चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी की ओर से उम्मीदवार मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा हार मानने से इनकार किए जाने के बाद चीन ने डेमोक्रेट प्रत्याशी बाइडन को बधाई नहीं दी थी।

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने सोमवार को अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन और उप राष्ट्रपति कमला हैरिस को जीत की बधाई दी थी। बधाई संदेश में बाइडन और हैरिस का नाम नहीं था बल्कि उन्हें नव निर्वाचित राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति कहकर संबोधित किया गया।

अमेरिकी चुनाव अधिकारियों ने खारिज किए ट्रंप के धोखाधड़ी के दावे
अमेरिका के चुनाव सुरक्षा अधिकारियों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चुनाव में धोखाधड़ी के दावों को खारिज करते हुए कहा कि इसके कोई सबूत नहीं हैं और 2020 राष्ट्रपति चुनाव अमेरिकी इतिहास के सबसे सुरक्षित चुनाव थे। बता दें कि ट्रंप लगातार चुनावी धोखाधड़ी के निराधार दावे कर रहे हैं और उन्होंने अभी तक अपनी हार स्वीकार नहीं की है।



Source link

Leave a Comment

Translate »
You cannot copy content of this page