Coronavirus Hit On British Petroleum Company, Will Lay Off 10,000 Jobs – ब्रिटिश पेट्रोलियम कंपनी पर कोरोना की मार, 10 हजार कर्मचारियों की करेगी छंटनी

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


ख़बर सुनें

कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाएं बुरी तरह से प्रभावित हो रही हैं। जिसके चलते करोड़ो लोगों की नौकरियां छिन रही हैं। इस बीच यूके की तेल कंपनी ब्रिटिश पेट्रोलियम ने 10 हजार कर्मचारियों को निकालने का ऐलान किया है। बता दें कि मौजूदा समय में कंपनी के पास कुल कर्मचारियों की संख्या 70 हजार है। इस हिसाब से कंपनी लगभग 15 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करने जा रही है।

कंपनी के सीईओ बर्नार्ड लूनी ने अपने 70 हजार कर्मचारियों को ईमेल लिखकर बताया कि बीते दिनों तेल की मांग में भारी गिरावट होने के कारण अब इस घाटे से उबरना जरूरी है और इसी वजह हम कंपनी के 10,000 कर्मचारियों की छंटनी करने जा रहे हैं।  

जानकारी के अनुसार जिन लोगों को कंपनी से बाहर किया जाएगा, उसमे अधिकतर वरिष्ठ अधिकारी होंगे, कम सैलरी पाने वाले कर्मचारियों को नौकरी से नहीं निकाला जाएगा। लूनी ने कहा है कि कंपनी अपने खर्चों में आगे भी कमी कर सकती है। वहीं 2021 में कंपनी अपने वरिष्ठ अधिकारियों को सैलरी में बढ़ोतरी नहीं दे रही है, कंपनी का कहना है कि इस साल सैलरी बोनस नहीं मिलेगा।

 उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में कीमतों में तेजी से वृद्धि हुई है क्योंकि सरकार लॉकडाउन में छूट देते हुए व्यवसायों को धीरे-धीरे फिर से खोलने की अनुमति दे रही है।

कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाएं बुरी तरह से प्रभावित हो रही हैं। जिसके चलते करोड़ो लोगों की नौकरियां छिन रही हैं। इस बीच यूके की तेल कंपनी ब्रिटिश पेट्रोलियम ने 10 हजार कर्मचारियों को निकालने का ऐलान किया है। बता दें कि मौजूदा समय में कंपनी के पास कुल कर्मचारियों की संख्या 70 हजार है। इस हिसाब से कंपनी लगभग 15 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करने जा रही है।

कंपनी के सीईओ बर्नार्ड लूनी ने अपने 70 हजार कर्मचारियों को ईमेल लिखकर बताया कि बीते दिनों तेल की मांग में भारी गिरावट होने के कारण अब इस घाटे से उबरना जरूरी है और इसी वजह हम कंपनी के 10,000 कर्मचारियों की छंटनी करने जा रहे हैं।  

जानकारी के अनुसार जिन लोगों को कंपनी से बाहर किया जाएगा, उसमे अधिकतर वरिष्ठ अधिकारी होंगे, कम सैलरी पाने वाले कर्मचारियों को नौकरी से नहीं निकाला जाएगा। लूनी ने कहा है कि कंपनी अपने खर्चों में आगे भी कमी कर सकती है। वहीं 2021 में कंपनी अपने वरिष्ठ अधिकारियों को सैलरी में बढ़ोतरी नहीं दे रही है, कंपनी का कहना है कि इस साल सैलरी बोनस नहीं मिलेगा।

 उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में कीमतों में तेजी से वृद्धि हुई है क्योंकि सरकार लॉकडाउन में छूट देते हुए व्यवसायों को धीरे-धीरे फिर से खोलने की अनुमति दे रही है।



Source link

Leave a Comment

Translate »
You cannot copy content of this page