Coronavirus In Himachal Pradesh Covid 19 Positive Cases And Deaths Today Updates 21 November 2020 – Coronavirus In Himachal: पांच कोरोना संक्रमितों की मौत, लोक सेवा आयोग के सचिव आशुतोष भी संक्रमित

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


अमर उजाला नेटवर्क, शिमला
Updated Sat, 21 Nov 2020 05:38 PM IST

सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग के सचिव आशुतोष गर्ग की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। आयोग में 6 कर्मचारियों के पॉजिटिव पाए जाने पर सचिव ने भी अपनी जांच करवाई थी। शनिवार दोपहर बाद सचिव की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। इसके बाद वह होम आइसोलेट हो गए हैं। प्रदेश में शनिवार को पांच कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई। चंबा जिले में कोरोना संक्रमण से एक साथ तीन मरीजों की मौत हो गई है।

अचानक एक साथ तीन मरीजों की मौत से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। मरने वाले तीन मरीजों में दो पुरुष और एक महिला शामिल है। एक मरीज ने टांडा, एक ने चंबा और एक मरीज ने होम आइसोलेशन के दौरान दम तोड़ा है। जानकारी अनुसार भलेई की रहने वाली 80 वर्षीय महिला 17 नवंबर को कोरोना संक्रमित पाई गई थी। उसे उपचार के लिए डीसीएच चंबा में भर्ती किया गया था। 18 नवंबर को महिला की हालत को देखते हुए उसे टांडा अस्पताल रेफर कर दिया गया।

महिला कोरोना संक्रमण के साथ निमोनिया और किडनी की बीमारी से भी ग्रसित थी। शनिवार सुबह महिला ने टांडा में दम तोड़ दिया। दूसरे मामले में बाथरी के सुदाई गांव के रहने वाला 47 वर्षीय व्यक्ति को 18 नवंबर को डीसीएचसी डलहौजी में भर्ती किया गया था। कोरोना संक्रमण के साथ व्यक्ति को बीपी और शुगर की बीमारी थी।

मरीज का ऑक्सीजन लेवल ठीक नहीं हो रहा था। इसके चलते मरीज को डीसीएचसी चंबा भेज दिया गया। लेकिन यहां पर शनिवार सुबह मरीज ने आखिरी सांस ली। तीसरे मामले में राजपुरा के धार गांव के 77 वर्षीय व्यक्ति ने होम आइसोलेशन के दौरान घर पर ही दम तोड़ दिया है। 18 नवंबर को व्यक्ति का सैंपल एकत्रित करके जांच को पीसीआर लैब में भेजा गया था। इसी दिन देर रात 

नेरचौक मेडिकल कॉलेज में शनिवार को तीन महिलाओं की मौत हुई है जिसमें दो की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव है जबकि एक की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। दो मंडी जिले से संबंधित हैं जबकि तीसरी 39 वर्षीय महिला कुल्लू के शास्त्री नगर की है जिसे नेरचौक लाया गया था लेकिन वार्ड में भर्ती करने से पहले ही उसकी मौत हो गई।

दो अन्य महिलाएं करसोग व सुंदरनगर की रहने वाली हैं। जिसमें करसोग के बदार बखरोट की 48 वर्षीय महिला को यहां पॉजिटिव आने के बाद शुक्रवार को ही भर्ती किया गया था लेकिन देर रात उसने भी दम तोड़ दिया। इसके अलावा सुंदरनगर के धोधवां भोजपुर निवासी 74 वर्षीय बुजुर्ग महिला की भी सारी वार्ड में मौत हुई है लेकिन इसका आरटीपीसीआर टेस्ट मौत के बाद लिया है जिसकी रिपोर्ट आना बाकी है।

बताया जा रहा है कि इन्हें भी देर रात दो बजे यहां लाया गया था और थोड़ी देर में मौत हो गई। वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ जीवानंद चौहान ने तीन मौत की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि तीन में से दो की रिपोर्ट पॉजिटिव है और तीसरी महिला की रिपोर्ट आना बाकी है। ऊना जिले में 26 कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं।

हिमाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग के सचिव आशुतोष गर्ग की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। आयोग में 6 कर्मचारियों के पॉजिटिव पाए जाने पर सचिव ने भी अपनी जांच करवाई थी। शनिवार दोपहर बाद सचिव की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। इसके बाद वह होम आइसोलेट हो गए हैं। प्रदेश में शनिवार को पांच कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई। चंबा जिले में कोरोना संक्रमण से एक साथ तीन मरीजों की मौत हो गई है।

अचानक एक साथ तीन मरीजों की मौत से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। मरने वाले तीन मरीजों में दो पुरुष और एक महिला शामिल है। एक मरीज ने टांडा, एक ने चंबा और एक मरीज ने होम आइसोलेशन के दौरान दम तोड़ा है। जानकारी अनुसार भलेई की रहने वाली 80 वर्षीय महिला 17 नवंबर को कोरोना संक्रमित पाई गई थी। उसे उपचार के लिए डीसीएच चंबा में भर्ती किया गया था। 18 नवंबर को महिला की हालत को देखते हुए उसे टांडा अस्पताल रेफर कर दिया गया।

महिला कोरोना संक्रमण के साथ निमोनिया और किडनी की बीमारी से भी ग्रसित थी। शनिवार सुबह महिला ने टांडा में दम तोड़ दिया। दूसरे मामले में बाथरी के सुदाई गांव के रहने वाला 47 वर्षीय व्यक्ति को 18 नवंबर को डीसीएचसी डलहौजी में भर्ती किया गया था। कोरोना संक्रमण के साथ व्यक्ति को बीपी और शुगर की बीमारी थी।

मरीज का ऑक्सीजन लेवल ठीक नहीं हो रहा था। इसके चलते मरीज को डीसीएचसी चंबा भेज दिया गया। लेकिन यहां पर शनिवार सुबह मरीज ने आखिरी सांस ली। तीसरे मामले में राजपुरा के धार गांव के 77 वर्षीय व्यक्ति ने होम आइसोलेशन के दौरान घर पर ही दम तोड़ दिया है। 18 नवंबर को व्यक्ति का सैंपल एकत्रित करके जांच को पीसीआर लैब में भेजा गया था। इसी दिन देर रात 

नेरचौक मेडिकल कॉलेज में शनिवार को तीन महिलाओं की मौत हुई है जिसमें दो की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव है जबकि एक की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। दो मंडी जिले से संबंधित हैं जबकि तीसरी 39 वर्षीय महिला कुल्लू के शास्त्री नगर की है जिसे नेरचौक लाया गया था लेकिन वार्ड में भर्ती करने से पहले ही उसकी मौत हो गई।

दो अन्य महिलाएं करसोग व सुंदरनगर की रहने वाली हैं। जिसमें करसोग के बदार बखरोट की 48 वर्षीय महिला को यहां पॉजिटिव आने के बाद शुक्रवार को ही भर्ती किया गया था लेकिन देर रात उसने भी दम तोड़ दिया। इसके अलावा सुंदरनगर के धोधवां भोजपुर निवासी 74 वर्षीय बुजुर्ग महिला की भी सारी वार्ड में मौत हुई है लेकिन इसका आरटीपीसीआर टेस्ट मौत के बाद लिया है जिसकी रिपोर्ट आना बाकी है।

बताया जा रहा है कि इन्हें भी देर रात दो बजे यहां लाया गया था और थोड़ी देर में मौत हो गई। वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ जीवानंद चौहान ने तीन मौत की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि तीन में से दो की रिपोर्ट पॉजिटिव है और तीसरी महिला की रिपोर्ट आना बाकी है। ऊना जिले में 26 कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं।



Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page