Coronavirus prevention: मजबूत रहेगी इम्यूनिटी, खाने में शामिल करें ये विटामिन | health – News in Hindi

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


दुनियाभर में कोरोना वायरस (Coronavirus) महमारी की वजह से इम्यूनिटी बूस्ट करने की सलाह दी जा रही है. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Corona virus) से बचाव के लिए डॉक्टर्स, हेल्थ एक्सपर्ट लोगों को इम्यूनिटी स्ट्रांग (Immunity Strong) करने की सलाह दे रहे हैं. इम्यूनिटी को स्ट्रांग करने के लिए लोगों ने अपनी दिनचर्या में काफी बदलाव भी किया है. आप अपने रोजाना के खाने में कुछ ख़ास विटामिन्स और पोषक तत्वों को शामिल कर अपनी इम्यूनिटी बढ़ा सकते हैं.

इसे भी पढ़ेंः मेटाबॉलिज्म को धीमा कर देती है लाइफस्टाइल से जुड़ी ये 6 गलतियां, जान लें कैसे

प्रोटीन: शरीर के उपचार, मरम्मत में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. इसके अलावा, एंटीबॉडी और प्रतिरक्षा कोशिकाएं प्रोटीन पर निर्भर करती हैं. सीफ़ूड, लीन मीट, पोल्ट्री, अंडे, बीन्स और मटर, सोया उत्पाद और अनसाल्टेड नट्स और सीड्स, दूध और डेयरी उत्पाद में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है.
विटामिन ए: अगर आप विटामिन का सेवन नहीं करते हैं तो आप बीमार भी पड़ सकते हैं. विटामिन ए, बी, सी, डी और ई को प्रतिरक्षा बढ़ाने में एक प्रमुख भूमिका निभाते हैं. विटामिन प्रभावी एंटीऑक्सिडेंट, रोगाणुरोधी एजेंटों के रूप में कार्य करते हैं. विटामिन बॉडी में एंटीबॉडी बनाते हैं और सेलुलर फ़ंक्शन में मदद करते हैं.ये खाद्य पदार्थ हैं विटामिन के मुख्य स्त्रोत:

विटामिन ए – पपीता, खुबानी, गाजर, शकरकंद, दूध और उत्पाद, अंडे, आदि.

विटामिन बी 6 – अदरक, लहसुन, मेथी के बीज, दाल, मूंग दाल, मेथी के बीज, जीरा, आदि.

विटामिन बी 9 – ड्रमस्टिक, मूंगफली, अखरोट, पिस्ता, सोयाबीन, मसूर दाल, सन बीज, पपीता, आम, शिमला मिर्च, और ताजा मटर.

विटामिन बी 12 – दूध और दूध से बने उत्पाद, मुर्गी, अंडे, मांस, मछली, आदि.

विटामिन सी – हरी पत्तेदार सब्जियां, खट्टे फल, शिमला मिर्च, आंवला, अमरूद, नींबू, आदि.

विटामिन डी – धूप, अंडे, वसायुक्त मछलियां , दूध और उत्पाद, आदि.

विटामिन ई – नट और बीज.

खनिज: जस्ता, सेलेनियम, लोहा, मैग्नीशियम, तांबा आदि, प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं. स्रोतों में साबुत अनाज, दाल और दालें, बीज, बाजरा, हरी पत्तेदार सब्जियां, पोल्ट्री, अंडे, मछली आदि शामिल हैं.

प्रोबायोटिक्स: प्रोबायोटिक्स कुछ खाद्य पदार्थों में मौजूद हैं. वे प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने और हानिकारक आंत बैक्टीरिया के विकास को बाधित करने में मदद कर सकते हैं. कुछ प्रोबायोटिक्स को शरीर में प्राकृतिक एंटीबॉडी के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए दिखाया गया है. स्रोतों में फरमेंट दूध, दही, केफिर और अन्य फर्मेंट खाद्य उत्पाद शामिल हैं.

पानी: सादा पानी सबसे अच्छा तरल पदार्थ है. अन्य प्रकार के तरल पदार्थ नारियल का पानी, लाइम वाटर , छाछ, सूप, पानी, आदि हो सकते हैं. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)





Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page