Earthquake Today In Jammu And Kashmir News: Hits Jammu Kashmir Depth Reported Only 5 Km  – Earthquake Today: जम्मू-कश्मीर की धरती एक बार फिर हिली, महसूस किए गए भूकंप के झटके

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


अमर उजाला नेटवर्क, जम्मू

Updated Mon, 28 Sep 2020 12:34 PM IST

जम्मु कश्मीर में भूकंप
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

जम्मू-कश्मीर में सोमवार सुबह एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ने रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 4.2 मापी है। सोमवार सुबह 10 बजकर 42 मिनट पर आए भूकंप के केंद्र की गहराई सतह से महज पांच किलोमीटर नीचे थी।

इससे पहले शनिवार को भी दोपहर के वक्त भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी द्वारा रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 4.8 मापी गई थी, जबकि भूकंप के केंद्र की गहराई सतह से 120 किलोमीटर नीचे थी।

शनिवार से पहले गुरुवार को भी सुबह 08:19 बजे गुलमर्ग में 3.7 तीव्रता से भूकंप आया था। इस दौरान लोग अपने घरों से बाहर आ गए थे। इससे पहले मंगलवार को भी जम्मू-कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। लोग धरती हिलते ही अपने घरों से बाहर आ गए। 

इससे पहले भी 11 सितंबर को जम्मू-कश्मीर में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.3 रही। हालांकि झटके बहुत तेज नहीं थे, लेकिन जब लोगों को महसूस हुए तो वह अपने घरों से बाहर निकल आए थे। 

इस भूकंप का केंद्र भारत-पाकिस्तान का बॉर्डर बताया गया था। भूकंप 11 सितंबर को दोपहर 1.53 बजे आया था। इसकी गहराई धरती से 10 किलोमीटर नीचे थी। भूकंप के लिहाज से जम्मू-कश्मीर संवेदनशील इलाके में आता है।

भूकंप से पूर्व में कई बार कश्मीर में तबाही आ चुकी है। आठ अक्तूबर 2005 के दिन कश्मीर में 7.6 तीव्रता वाला भूकंप आया था। इसमें भारत और पाकिस्तान के 80 हजार लोग मारे गए थे।

जम्मू-कश्मीर में सोमवार सुबह एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ने रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 4.2 मापी है। सोमवार सुबह 10 बजकर 42 मिनट पर आए भूकंप के केंद्र की गहराई सतह से महज पांच किलोमीटर नीचे थी।

इससे पहले शनिवार को भी दोपहर के वक्त भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी द्वारा रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 4.8 मापी गई थी, जबकि भूकंप के केंद्र की गहराई सतह से 120 किलोमीटर नीचे थी।

शनिवार से पहले गुरुवार को भी सुबह 08:19 बजे गुलमर्ग में 3.7 तीव्रता से भूकंप आया था। इस दौरान लोग अपने घरों से बाहर आ गए थे। इससे पहले मंगलवार को भी जम्मू-कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। लोग धरती हिलते ही अपने घरों से बाहर आ गए। 

इससे पहले भी 11 सितंबर को जम्मू-कश्मीर में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.3 रही। हालांकि झटके बहुत तेज नहीं थे, लेकिन जब लोगों को महसूस हुए तो वह अपने घरों से बाहर निकल आए थे। 

इस भूकंप का केंद्र भारत-पाकिस्तान का बॉर्डर बताया गया था। भूकंप 11 सितंबर को दोपहर 1.53 बजे आया था। इसकी गहराई धरती से 10 किलोमीटर नीचे थी। भूकंप के लिहाज से जम्मू-कश्मीर संवेदनशील इलाके में आता है।

भूकंप से पूर्व में कई बार कश्मीर में तबाही आ चुकी है। आठ अक्तूबर 2005 के दिन कश्मीर में 7.6 तीव्रता वाला भूकंप आया था। इसमें भारत और पाकिस्तान के 80 हजार लोग मारे गए थे।



Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page