Hindi News International Coronavirus Novel Corona Covid 19 20 November | Coronavirus Novel Corona Covid 19 News World Cases Novel Corona Covid 19 | WHO की मेडिसिन लिस्ट से रेमडेसिविर बाहर; फाइजर ने US सरकार से वैक्सीन का इमरजेंसी अप्रूवल मांगा

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


  • Hindi News
  • International
  • Hindi News International Coronavirus Novel Corona Covid 19 20 November | Coronavirus Novel Corona Covid 19 News World Cases Novel Corona Covid 19

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वॉशिंगटन26 मिनट पहले

अमेरिकी कंपनी फाइजर ने जर्मन कंपनी बायोएनटेक के साथ मिलकर वैक्सीन बनाई है। शुरुआती आंकलन बताते हैं कि वैक्सीन 95% तक इफेक्टिव रही। (सिम्बोलिक फोटो)

  • दुनिया में 5.73 करोड़ से ज्यादा संक्रमित, 13.68 लाख मौतें हुईं, 3.98 करोड़ लोग ठीक हुए
  • अमेरिका में संक्रमितों का आंकड़ा 1.20 करोड़ से ज्यादा, अब तक 2.58 लाख लोगों की जान गई

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने एंटी वायरल दवा रेमडेसिविर को कोरोना के इलाज में इस्तेमाल हो रही दवाओं की लिस्ट से बाहर कर दिया है। WHO ने कहा है कि दुनिया के जिन देशों के अस्पतालों में संक्रमितों के इलाज में रेमडेसिविर इंजेक्शन का इस्तेमाल हो रहा है, उन्हें फौरन इसे रोकना चाहिए। संगठन के मुताबिक, इस बात के कोई सबूत नहीं हैं कि यह दवा कोरोना के इलाज में मददगार है।

उधर, अमेरिका की दवा कंपनी फाइजर (Pfizer) ने शुक्रवार को घोषणा की है कि वह यूएस रेग्युलेटर्स से कोविड-19 वैक्सीन की इमरजेंसी यूज के लिए इजाजत मांगेगी। फाइजर द्वारा विकसित वैक्सीन का शुरुआती आंकलन बताता है कि वैक्सीन 95% तक इफेक्टिव रही। फाइजर ने बताया कि इमरजेंसी यूज टैग से प्रोसेस जल्दी शुरू हो सकती है और कोरोना वैक्सीन की डोज अगले महीने तक उपलब्ध हो जाएगी। अब यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) को तय करना है कि इमर्जेंसी वैक्सीनेशन के लिए पर्याप्त सबूत हैं कि नहीं।

दुनियाभर में अब तक 5.73 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 3.98 करोड़ लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 13.68 लाख लोगों की जान जा चुकी है। अब 1.61 करोड़ मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है, यानी एक्टिव केस। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

कोरोना प्रभावित टॉप-10 देशों में हालात

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 12,072,560 2,58,354 7,244,99
भारत 90,06,079 1,32,223 84,28,409
ब्राजील 59,83,089 1,68,141 54,07,498
फ्रांस 20,86,288 47,127 1,47,569
रूस 20,39,926 35,311 15,51,414
स्पेन 15,74,063 42,291 उपलब्ध नहीं
यूके 14,53,256 53,775 उपलब्ध नहीं
अर्जेंटीना 13,49,434 36,532 11,67,514
इटली 13,08,528 47,870 4,98,987
कोलंबिया 12,25,490 34,761 11,32,393

ट्रम्प के इलाज में इस्तेमाल हुई थी रेमडेसिविर
‘द गार्डियन’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले महीने इलेक्शन कैम्पेन के दौरान जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प संक्रमित हुए थे तो उनके इलाज में रेमडेसिविर का इस्तेमाल किया गया था। अब WHO इसके इस्तेमाल पर रोक लगाने की सलाह दे रहा है।

गुरुवार को जारी बयान में WHO ने कहा- हमारी गाइडलाइन कमेटी यह सलाह देती है कि अगर रेमडेसिविर का अस्पतालों में इस्तेमाल किया जा रहा है तो इसे बंद कर देना चाहिए। हमें इस बात के कोई सबूत नहीं मिले हैं कि कोविड पेशेंट्स के इलाज में यह कारगर है। WHO की सलाह कई लोगों को चौंका सकती है। दरअसल, कई देशों के मेडिकल साइंटिस्ट्स ने साफ तौर पर इसके इस्तेमाल की सलाह दी है।

रूस में 24 घंटे में रिकॉर्ड 24 हजार से ज्यादा केस
रूस में पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 24 हजार 318 कोरोना के मामले सामने आए। इससे पहले गुरुवार को यहां 23 हजार 610 मामले सामने आए थे। यह पहली बार है, जब देश में कोरोना में एक दिन में इतने मामले सामने आए हैं। रिस्पॉन्स सेंटर के मुताबिक, रूस में अब तक कुल 20 लाख 39 हजार 926 मामले सामने आ चुके हैं।

चीन में 10 लाख लोगों को वैक्सीन
चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कोरोना वैक्सीन पर दुनिया के सभी देशों से सहयोग करने की अपील की है। इस बीच, खबर है कि चीन ने अब तक अपने देश के करीब 10 लाख लोगों को ‘सायनोफार्म’ वैक्सीन लगा भी दिया है। चीन के सरकारी अफसर ज्यादातर बातों की जानकारी मीडिया को नहीं देते, लेकिन वैक्सीन दिए जाने की खबर की उन्होंने पुष्टि की है।

जिनपिंग ने गुरुवार को एशिया-पेसिफिक इकोनॉमिक कोऑपरेशन की मीटिंग में हिस्सा लिया। उन्होंने कहा- वायरस से निपटने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि हम सभी देश मिलकर इसके वैक्सीन और दवाओं पर काम करें। इस बारे में एक दूसरे पर इल्जाम लगाने से खतरा कम होने के बजाए बढ़ता जाएगा।

चीन के एक लैब में सफाई करता स्टाफ। एक रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने अपने 10 लाख नागरिकों को सायनोफार्म वैक्सीन लगाया है।

चीन के एक लैब में सफाई करता स्टाफ। एक रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने अपने 10 लाख नागरिकों को सायनोफार्म वैक्सीन लगाया है।

थैंक्सगिविंग डे पर ट्रैवल न करें
अमेरिका में सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) ने देश के नागरिकों से अपील की कि वे थैंक्सगिविंग डे पर यात्रा करने से बचें। CDC के डायरेक्टर डॉक्टर हेनरी वेक ने कहा- हम जितना ज्यादा सफर करेंगे, महमारी का खतरा उतनी ही तेजी से फैलता जाएगा और यह सबके लिए खतरनाक है।

फिर भी अगर आप यात्रा करना ही चाहते हैं तो हर उस गाइडलाइन का पालन करें जो हमने जारी की हैं। हम जानते हैं कि छुटि्टयों का हर कोई लुत्फ उठाना चाहता है, लेकिन कुछ खतरों को किसी भी हाल में नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। माना जा रहा है कि आज देर रात सीडीसी कुछ नई गाइडलाइन्स जारी कर सकता है।

अमेरिका में नाउम्मीद हो रहे डॉक्टर
‘द गार्डियन’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका के कुछ राज्यों में हालात अब काबू से बाहर होते जा रहे हैं। संक्रमितों का आंकड़ा तो बढ़ ही रहा है, साथ ही मरने वालों की संख्या भी अब काबू से बाहर होती दिख रही है। टेनेसी के डायरेक्टर ऑफ क्रिटिकल केयर डॉक्टर एलिसन जॉनसन ने कहा- सही कहूं तो अब हम अवसाद में हैं और नाउम्मीद होते जा रहे हैं। हम नहीं कह सकते कि कब हालात सुधरेंगे। इसकी फिलहाल, कोई उम्मीद भी नजर नहीं आती। मैंने अपने कॅरियर में कभी नहीं सोचा कि इस तरह के हालात से सामना होगा। इदाहो में डॉक्टरों ने साफ कर दिया है कि सभी मरीजों को बेड दे पाना मुश्किल हो सकता है।



Source link

Leave a Comment

Translate »
You cannot copy content of this page