Indian Origin Billionaire Brothers Academic Skipping Sikh On Queen S Honours List – ब्रिटेन: महारानी के जन्मदिन पर इन्हें मिला सम्मान, सबसे खास रहे 74 वर्षीय स्किपिंग सिख

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के 94वें जन्मदिन के मौके पर सम्मानित होने वालों की सूची में इस बार कई भारतीय मूल के लोग भी शामिल रहे। इस सूची के अनुसार यह सम्मान कई श्रेणियों में दिया गया। बहरहाल, अपने उत्कृष्ट कार्यों के चलते इस सूची में भारतीय मूल के अरबपति बंधु, ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर और स्किपिंग सिख के नाम से प्रख्यात रजिंदर सिंह ने जगह बनाई है।

सम्मान पाने वाले विविध क्षेत्रों से जुड़े लोगों की यह सूची शनिवार को जारी की गई है। इसके मुताबिक, हाल में ब्रिटेन की सुपरमार्केट चेन असडा का अधिग्रहण के बाद सुर्खियों में आए जुबैर और मोहसिन ईसा का नाम इसमें शामिल है। इन दोनों भाइयों को व्यवसाय और दान जैसी सेवाओं के लिए सीबीई से सम्मानित किया गया है। सीबीई का मतलब ब्रिटिश साम्राज्य के कमांडर से है।

सूची में कुछ ब्रिटिश भारतीयों के नाम भी शामिल हैं, जिन्हें ओबीई (ब्रिटिश साम्राज्य के अधिकारी) से सम्मानित किया गया है। इसमें इंपीरियल कॉलेज लंदन के केमिकल इंजीनियरिंग के प्रोफेसर निले शाह और मेडिकल और दान के लिए काम कर रहे हीलिंग लिटिल हर्ट्स के सीईओ डॉ. संजीव निचानी शामिल हैं।

लॉकडाउन के दौरान फिटनेस और स्वास्थ्यवर्धक सेवाओं के लिए लोगों को प्रेरित करने वाले 74 वर्षीय स्किपिंग सिख उर्फ रजिंदर सिंह को एमबीई (ब्रिटिश साम्राज्य का सदस्य) का सम्मान मिला है। ये वे लोग हैं, जिन्होंने कोविड-19 महामारी के दौरान ब्रिटेन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और ब्रिटेन को आगे बढ़ाने में मदद की है।

इसके अलावा इस सूची में संदीप सिंह भी शामिल हैं, इन्हें भी एमबीई से सम्मानित किया गया है। इस सम्मान को पाने वाले लोगों में बिंटी की फाउंडर मनजीत कौर गिल भी शामिल हैं। मनजीत कौर ने ब्रिटेन और अमेरिका जैसे विकासशील देशों में महिलाओं के लिए मासिक धर्म के उत्पाद से संबंधित कार्य में योगदान दिया था।

वहीं नृत्य शिक्षका पुष्पकला गोपाल को दक्षिण एशिया नृत्य की सेवाओं के लिए, शिक्षा विभाग के वरिष्ठ नीति अधिकारी वसंत पटेल को गोद लिए हुए बच्चों और उनके परिवारों की सेवाओं के लिए और नॉलेज इक्विटी सेंटर की फाउंडर बलजीत कौर संधू को समानता और नागरिक समाज के लिए एमबीई से सम्मानित किया गया।

इस बार सूची में 1,495 लोगों को सम्मानित किया है, इसमें 72 फीसदी उन लोगों को शामिल किया गया है, जिन्होंने स्थानीय समुदाय के लिए उत्कृष्ट काम किया है। यूके कैबिनेट ऑफिस का कहना है कि यह सूची दर्शाती है कि कोविड-19 जैसी बीमारी से लड़ने के लिए देश ने किस तरह आगे बढ़कर काम किया है।

यह सूची अब तक की सबसे अधिक विविधतापूर्ण सूची मानी जा रही है, क्योंकि इसमें 13 फीसदी अल्पसंख्यक पृष्ठभूमि के लोगों को शामिल किया गया है। ब्रिटिश ब्रॉडकास्टर और मूल रूप से इतिहासकार सर डेविड एटनबरो को नाइट ग्रांड क्रॉस से प्रसारण, इतिहास और पर्यावरण के लिए उनके असाधारण और निरंतर अंतरराष्ट्रीय योगदान के लिए सम्मानित किया गया।

कैबिनेट ऑफिस ने बताया कि इस साल सूची में 14 फीसदी जगह स्वास्थ्य कर्मियों और सामाजिक सेवा करने वालों ने ली है। इसके अलावा सूची में 740 महिलाओं को सम्मानित किया गया, जो कि पूरी सूची के 49 फीसदी का प्रतिनिधित्व करती है। यह सूची आमतौर पर जून में जारी की जाती है, लेकिन कोविड-19 महामारी से निपटने में अहम भूमिका निभाने वाले लोगों के नामों पर विचार करने के लिए इसे सितंबर में जारी किया गया।



Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page