हर साल की तरह इस साल भी आईपीएल 2020 में कई नए और युवा टैलेंट देखने को मिले.

IPL 2020 की खोज हैं यह 6 युवा खिलाड़ी, दे रहे हैं टीम इंडिया में दस्तक

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग का 13वां सीजन (IPL 2020) भी अब खत्म हो गया है. हर साल की तरह इस साल भी आईपीएल 2020 में कई नए और युवा टैलेंट देखने को मिले. जहां एक तरफ आईपीएल में इस साल कई दिग्गजों ने अपने प्रदर्शन से निराश किया तो वहीं दूसरी तरफ नए और युवा खिलाड़ियों ने अपनी एक अलग पहचान बनाई. इन युवा खिलाड़ियों की क्रिकेट दिग्गजों और विश्लेषकों ने जमकर तारीफ की. इन खिलाड़ियों ने अपने खेल से ना केवल दिल जीता, बल्कि भारतीय क्रिकेट टीम में दस्तक देने के अपने हौसले को भी दिखाया. आईपीएल 2020 में इन 6 युवा खिलाड़ियों ने बेहद प्रभावित किया है. आइए देखते हैं ये खिलाड़ी कौन हैः

1.ईशान किशन (मुंबई इंडियंस): ईशान किशन मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हैं. हालांकि वह पिछले तीन साल से क्रिकेट में चर्चित नाम रहे हैं. बिहार के किशन ने अंडर-19 से अपनी छवि विकेटकीपर-बल्लेबाज के रूप में बनाई. मुंबई इंडियंस के लिए उन्हें लगातार मौके नहीं मिले. खासतौर पर क्विंटन डीकॉक के टीम में आने के बाद. 2020 में सौरभ तिवारी के चोटिल होने के बाद किशन को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ मौका मिला. उन्होंने इस मौके को भुनाया और 99 रन की पारी खेली. मुंबई वह मैच सुपर ओवर में हार गया था, लेकिन किशन ने रनों का पीछा करते हुए जो प्रवृत्ति दिखाई उसने सबको प्रभावित किया. इसके बाद से किशन मुंबई इंडियंस की टीम का अहम हिस्सा हो गए.

IPL 2020: जानिए विजेता और उपविजेता टीम को कितनी मिलेगी इनामी राशि, कोरोना का दिखेगा असर

2. देवदत्त पडीक्कल (आरसीबी): रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए 2020 के लिए ऑस्ट्रेलियन ओपनर आरोन फिंच को लेना बड़ा फैसला था. आरसीबी ने फिंच के साथ नियमित ओपनर पार्थिव पटेल की जगह देवदत्त पडीक्कल को चुना. देवदत्त ने आरसीबी की उम्मीदों को पूरा किया. वह आरसीबी के मजबूत स्तंभ बनकर उभरे. पडीक्कल ने 15 मैचों में 31.53 की औसत और 124.80 के स्ट्राइक रेट से 473 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 5 अर्धशतक भी जड़े.3. प्रियम गर्ग (सनराइजर्स हैदराबाद): भारतीय अंडर-19 के कप्तान 19 वर्षीय प्रियम गर्ग को हैदराबाद के लिए बल्लेबाजी के कम अवसर मिले. वह निचले क्रम में बल्लेबाजी करते हैं, लेकिन पहले ही मौके पर उन्होंने अपनी प्रतिभा दिखाई. एक मैच के दौरान हैदराबाद चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 69 रन पर 4 विकेट गंवा चुका था. लेकिन प्रियम गर्ग ने 26 गेंदों पर 51 रनों की पारी खेल कर टीम का स्कोर 5 विकेट पर 164 तक पहुंचाया. उनकी शांत और धैर्यपूर्ण पारी ने यह दिखाया कि वह बड़ी पारियां खेल सकते हैं. प्रियम ने आईपीएल 2020 में 14 मैचों में 14.77 की औसत और 119.81 के स्ट्राइक रेट से 133 रन बनाए.

IPL 2020: दूसरे खिलाड़ियों को पत्नी के साथ खड़े देख KKR के इस बल्लेबाज पर आया फैंस को तरस!

4. अब्दुल समद (सनराइजर्स हैदराबाद): जम्मू कश्मीर के ऑल राउंडर समद बेहद प्रतिभाशाली हैं. वह पूर्व भारतीय ऑल राउंडर इरफान पठान के नेतृत्व में तैयार हुए हैं. पठान जम्मू-कश्मीर के मेंटोर रह चुके हैं. मुथैया मुरलीधरण ने उन्हें टीम के लिए चुना था. वह सनराइजर्स हैदराबाद के गेंदबाजी कोच हैं. जितने सीमित मौके समद को मिले, उसमें उन्होंने निराश नहीं किया. समद ने दिखाया कि वह कितनी आसानी से दुबई के अबू धाबी में गेंद को सीमा पार पहुंचा सकते हैं. चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ एक मैच में अपने आखिरी ओवर में उन्होंने परिपक्वता और प्रतिभा का परिचय दिया. समद से इरफान पठान, युवराज सिंह और ब्रायन लारा जैसे दिग्गज भी खासे प्रभावित हैं. 19 साल के समद ने आईपीएल 2020 में 12 मैच खेले और 22.20 की औसत से 111 रन बनाए. उनकी स्ट्राइक रेट 170.76 की रही. इस सीजन में उन्होंने आठ चौके और छह छक्के लगाए.

5. रवि बिश्नोई (किंग्स XI पंजाब): भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम से निकले एक अन्य स्टार हैं- लेग स्पिनर बिश्नोई. पंबाज ने उन पर मुजीब उर रहमान से अधिक भरोसा जताया. बिश्नोई ने उन्हें निराश नहीं किया. आरसीबी के खिलाफ बिश्नोई ने तीन विकेट लेकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया. इस मैच में पंजाब को 97 रनों से जीत मिली. वह पंजाब के हेड कोच अनिल कुंबले से अभी गेंदबाजी की ट्रिक्स सीख रहे हैं, लेकिन बिश्नोई ने बड़े खिलाड़ियों को गेंदबाजी की इच्छा दिखाई है. बिश्नोई ने आईपीएल 2020 के 14 मैचों में 7.37 की इकोनॉमी से 12 विकेट लिए हैं.

रांची के बाद मुंबई में बन रहा है महेंद्र सिंह धोनी का आलिशान घर, साक्षी ने शेयर की तस्वीरें

6. कमलेश नागरकोटी (कोलकाता नाइट राइडर्स): दाएं हाथ के तेज गेंदबाज कमलेश नागरकोटी 2018 में कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम में शामिल हुए थे, लेकिन दो सीजन तक उन्हें चोट की वजह से एक भी मैच खेलने को नहीं मिला. लेकिन इस साल यूएई में हुए आईपीएल 2020 में उन्हें मौका मिला. नागरकोटी ने केकेआर का विश्वास दोबारा अर्जित किया. उन्हें अपनी चोट से उबरने का भी पूरा मौका मिला. राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ एक मैच में उन्होंने मैच विनिंग स्पैल डाला और जोफ्रा आर्चर का मुश्किल कैच पकड़ा. उम्मीद है कि केकेआर के साथ उनका भविष्य उज्ज्वल होगा. आईपीएल 2020 में उन्होंने 10 मैचों में 8.88 की इकोनॉमी से 5 विकेट लिए.





Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page