It was important to keep the winning habit, says Rohit Sharma – PL 2020 : मुंबई को चैंपियन बनाने के बाद कप्तान रोहित ने कह दी ये बड़ी बात

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  



IPL 2020 : मुंबई को चैंपियन...- India TV Hindi

Image Source : IPLT20.COM
IPL 2020 : मुंबई को चैंपियन बनाने के बाद कप्तान रोहित ने कह दी ये बड़ी बात

दुबई। मुंबई इंडियन्स के कप्तान रोहित शर्मा ने पांचवीं बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का खिताब जीतने पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि जीत की आदत बनाये रखना महत्वपूर्ण था जिसमें उनकी टीम सफल रही। मुंबई ने फाइनल में दिल्ली कैपिटल्स को पांच विकेट से हराकर पिछले आठ साल में पांचवीं बार आईपीएल का खिताब जीता और रोहित ने कहा कि पूरे सत्र में वह टीम के प्रदर्शन से खुश हैं।

रोहित ने कहा, ‘‘जिस तरह से पूरे सत्र में हमारी टीम ने प्रदर्शन किया उससे मैं बहुत खुश हूं। मैंने टूर्नामेंट के शुरू में कहा था कि हमें जीत की आदत बनाये रखने की जरूरत है। हम इससे अधिक की उम्मीद नहीं कर सकते थे। हमने पहली गेंद से अपने प्रयास शुरू किये और फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा। सहयोगी स्टाफ को भी बहुत श्रेय जाता है।’’ 

देवदत्त पडिक्कल चुने गए ‘इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर’, मिला 10 लाख की इनामी राशि

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे खिलाड़ियों से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करवाने के लिये उचित संतुलन तलाशना था। मैं उन कप्तानों में नहीं हूं जो खिलाड़ियों के पीछे पड़ा रहे। उनमें आत्मविश्वास भरना महत्वपूर्ण है। क्रुणाल, हार्दिक और पोलार्ड लंबे समय से अपनी भूमिका निभा रहे हैं और वे जानते हैं कि उन्हें क्या करना है। ’’ मुंबई इंडियन्स ने फाइनल में राहुल चाहर को अंतिम एकादश में नहीं रखा और रोहित ने इसे रणनीतिक फैसला बताया। उन्होंने कहा, ‘‘राहुल आज नहीं खेल पाया और ऐसे में यह सुनिश्चित करना जरूरी था कि वह यह समझे कि उसने कुछ गलत नहीं किया और यह रणनीतिक चाल थी। हमने यह भी सुनिश्चित किया कि सूर्यकुमार यादव और इशान किशन पूरे आत्मविश्वास के साथ खेलें।’’ 

रोहित को रन आउट होने से बचाने के लिये सूर्यकुमार ने अपना विकेट गंवाया, इस बारे में मुंबई के कप्तान ने कहा, ‘‘वह जिस तरह की फार्म में है मुझे उसके लिये अपना विकेट गंवाना चाहिए था। लेकिन पूरे टूर्नामेंट में उसने बेहतरीन बल्लेबाजी की। ’’ 

मुंबई के कोच माहेला जयवर्धने ने कहा कि उन्होंने खिलाड़ियों पर शुरू से किसी तरह का दबाव नहीं बनाया और उन्हें स्वच्छंद होकर खेलने की छूट दी। जयवर्धने कहा, ‘‘हमने बहुत अच्छी तैयारियां की थी और हमने चीजों को अच्छी तरह से व्यवस्थित किया और यह सुनिश्चित किया कि खिलाड़ियों पर किसी तरह का दबाव नहीं बने। लंबे शॉट लगाना मुंबई के डीएनए में है। हमने इस बार संतुलन स्थापित करने की कोशिश की।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरा काम खिलाड़ियों की मदद करने और उन्हें उनकी भूमिका समझाने की है। हमारी टीम में कई नेतृत्वकर्ता है और शानदार सहयोगी स्टाफ है जिन्होंने हर समय मदद की। ’’ 

कोरोना से जंग : Full Coverage





Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page