Maintenance Of Hygiene Standards Is Taken Care Of In The Manufacture Of Harvest Gold Bread – हार्वेस्ट गोल्ड ब्रेड के निर्माण में रखा जाता है स्वच्छता के मानकों का पूरा ध्यान

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


ख़बर सुनें

27 साल पहले लोगों को स्वादिष्ट ब्रेड खिलाने के लिए भिवाड़ी के एक कमरे में शुरू किया गया हार्वेस्ट गोल्ड आज एक विश्वस्तरीय ब्रांड बन चुका है। दिल्ली एनसीआर में पांच फैक्ट्रियों के साथ, डिस्कवरी चैनल के “द ग्रेट इंडियन फैक्ट्री सीरीज” में भी हार्वेस्ट गोल्ड का कार्यालय दर्शन कराया जा चुका है। हार्वेस्ट गोल्ड अपने उत्पादों, जैसेकि, बन, पाव, कुल्चा, बर्गर बन, रोटी, रस्क आदि के द्वारा लाखों घरों तक पहुंच चुका है। आज के मुश्किल समय में भी लोगों को अच्छा उत्पाद उपलब्ध करानाअपनी जिम्मेदारी समझते हुए, हार्वेस्ट गोल्ड नित्य नए परिवर्तन कर रहा है।

वर्तमान समय में स्वच्छता व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना आवश्यक हो गया है। विभिन्न प्रकार की बीमारियों से बचाव के लिए ये उपाय अत्यंत लाभदायक सिद्ध हो रहे हैं। इसके द्वारा हम न सिर्फ अपनी सुरक्षा करते हैं बल्कि अन्य लोगों को भी इन बीमारियों से बचाते हैं। स्वच्छता व सोशल डिस्टेंसिंग ही इन बीमारियों के संक्रमण से बचने का सबसे कारगर हथियार है। कुछ ऐसा ही मानना है हार्वेस्ट गोल्ड का और इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए उन्होंने अपने उत्पादन में कई महत्वपूर्ण परिवर्तन किए हैं।

इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए हार्वेस्ट गोल्ड ने कोविड-19 संक्रमण से बचाव हेतु सारे नए मानकों को अपना कर अपनी स्वच्छता की परम्परा को आगे बढ़ाया है। हार्वेस्ट गोल्ड को हमेशा से उच्च गुणवत्ता के उत्पादों के लिए जाना गया है। इनकी क्वालिटी पॉलिसी में उत्पादन युनिट को स्वच्छ रखना अनिवार्य है। इस स्वच्छता को बरकरार रखने के लिए फैक्ट्री को सैनिटाइज़ कराना, सभी कर्मचारियों द्वारा हेड मास्क पहनना, अपने हाथों को हर थोड़ी देर में धोना व आईपीए हैंड सैनिटाइजर द्वारा उन्हें स्वच्छ रखना आवश्यक है। 

वर्तमान समय में जिन कर्मचारियों का उत्पादन युनिट में आना जरूरी है, उनके लिए अतिरिक्त सावधानी बरती जा रही है। सारे कर्मचारियों के लिए उत्पादन युनिट में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य कर दिया गया है। साथ ही उन्हें कोविड-19 से जुड़े भ्रम व तथ्यों के बारे में विशेषज्ञों के द्वारा सूचित भी किया गया है।

हार्वेस्ट गोल्ड के उत्पादन युनिट के हर प्रवेश द्वार पर सभी कर्मचारियों की थर्मल स्क्रीनिंग के द्वारा तापमान की जांच की जाती है। इसके अलावा डिलीवरी करने वाले ट्रकों को सैनिटाइज़ करना शुरू कर दिया है। साथ ही ट्रक चालकों की थर्मल स्क्रीनिंग जैसे कई महत्वपूर्ण कदम भी उठाए हैं।

इनके द्वारा की गई नई पहल इस प्रकार है:

  • कोविड-19 के बारे में अपने सभी कर्मचारियों को सही जानकारी उपलब्ध कराना।
  • उत्पादन युनिट व बाहर, हर जगह सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना।
  • उत्पादन युनिट व डिलीवरी वाले ट्रक में स्वच्छता बरकरार रखना।
  • महत्वपूर्ण वस्तुएं जैसे कच्चे माल लाने वाले ट्रक, ब्रेड रखने वाले क्रेट व कार्टन, आदि को सैनेटाइज़ करना।
  • कर्मचारियों की बसों को सैनेटाइज़ करना।
  • नियमित रूप से डॉक्टर द्वारा प्रत्येक कर्मचारियों की जांच कराना।

उत्पादन युनिट के साथ-साथ हार्वेस्ट गोल्ड की सेल्स टीम ने भी मुश्किल दौर में अपना योगदान दिया है। खासतौर पर वरिष्ठ नागरिकों के लिए डिलीवरी करना। लॉकडाउन का समय वरिष्ठ नागरिकों के लिए काफी मुश्किल भरा रहा है। इस संकट की घड़ी में हार्वेस्ट गोल्ड ने अपने उत्पादों को वरिष्ठ नागरिकों के घर तक पहुंचा रहा है। जिसका लाभ ढेरों बुजुर्गों को हुआ है।

हार्वेस्ट गोल्ड समाज के प्रति अपना उत्तरदायित्व निभाता है। अपने कॉर्पोरेट सोशल रिस्पॉन्सबिल्टी (सीएसआर) के तहत कंपनी ने ‘प्रोजेक्ट एंपावर’ नाम की एक नई पहल की शुरूआत की है। इसके अंतर्गत हार्वेस्ट गोल्ड रोजगार की तलाश कर रहे लोगों को मुफ्त में हाथ गाड़ी देती है, जिसके द्वारा वो सम्मानपूर्वक अपना जीवन यापन कर सकते हैं। हाथ गाड़ी के साथ साथ उन्हें इसे चलाने की ट्रेनिंग, आरडब्ल्यूए की अनुमति व अन्य सहायता भी प्रदान की गई है। इन हाथ गाड़ियों के द्वारा आम लोगों को ब्रेड, मक्खन, अण्डे आदि रोजमर्रा की चीजें आसानी से उपलब्ध कराई जाती हैं। अब तक हार्वेस्ट गोल्ड ने 260 से ज्यादा हाथ गाड़ियां उपलब्ध कराई हैं। एक हाथ गाड़ी की सहायता से महीने में 10 से 15 हजार रुपए कमाए जा सकते हैं। 

कोविड-19 के समय में अपने इन महत्वपूर्ण परिवर्तनों द्वारा हार्वेस्ट गोल्ड ब्रेड ने अपनी परम्परा को बनाए रखा है और स्वच्छता मानको पर खरा उतरा है। हार्वेस्ट गोल्ड का प्रमुख उद्देश्य अपने कर्मचारियों व अपने  उपभोक्ताओं के स्वास्थ्य को सुनिश्चित करना है और वह अपने प्रयासों द्वारा सफल भी हो रहे हैं।

Advertorial

सार

  • सालों से सुरक्षित व स्वच्छ ब्रेड का उत्पादन करता है हार्वेस्ट गोल्ड

विस्तार

27 साल पहले लोगों को स्वादिष्ट ब्रेड खिलाने के लिए भिवाड़ी के एक कमरे में शुरू किया गया हार्वेस्ट गोल्ड आज एक विश्वस्तरीय ब्रांड बन चुका है। दिल्ली एनसीआर में पांच फैक्ट्रियों के साथ, डिस्कवरी चैनल के “द ग्रेट इंडियन फैक्ट्री सीरीज” में भी हार्वेस्ट गोल्ड का कार्यालय दर्शन कराया जा चुका है। हार्वेस्ट गोल्ड अपने उत्पादों, जैसेकि, बन, पाव, कुल्चा, बर्गर बन, रोटी, रस्क आदि के द्वारा लाखों घरों तक पहुंच चुका है। आज के मुश्किल समय में भी लोगों को अच्छा उत्पाद उपलब्ध करानाअपनी जिम्मेदारी समझते हुए, हार्वेस्ट गोल्ड नित्य नए परिवर्तन कर रहा है।

वर्तमान समय में स्वच्छता व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना आवश्यक हो गया है। विभिन्न प्रकार की बीमारियों से बचाव के लिए ये उपाय अत्यंत लाभदायक सिद्ध हो रहे हैं। इसके द्वारा हम न सिर्फ अपनी सुरक्षा करते हैं बल्कि अन्य लोगों को भी इन बीमारियों से बचाते हैं। स्वच्छता व सोशल डिस्टेंसिंग ही इन बीमारियों के संक्रमण से बचने का सबसे कारगर हथियार है। कुछ ऐसा ही मानना है हार्वेस्ट गोल्ड का और इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए उन्होंने अपने उत्पादन में कई महत्वपूर्ण परिवर्तन किए हैं।



Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page