PM मोदी के सहारे नीतीश की नैया पार, 125 सीटों के साथ बिहार में फिर NDA सरकार

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


महागठबंधन से कांटे की टक्कर के बाद नीतीश कुमार एक बार फिर बिहार के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं.

महागठबंधन से कांटे की टक्कर के बाद नीतीश कुमार एक बार फिर बिहार के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं.

Bihar Election Result 2020: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस तरह से बिहार में चुनावी रैलियां की उसके बाद से एनडीए पर बिहार की जनता का भरोसा बढ़ गया. प्रधानमंत्री ने लोगों को आगाह किया कि उनका वोट एक बार फिर बिहार में जंगलराज ला सकता है.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 11, 2020, 1:47 AM IST

नई दिल्ली. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election Results) के नतीजों ने एक बार फिर साबित कर दिया है बिहार (Bihar) की जनता की नब्ज पकड़ना किसी भी एग्जिट पोल (Exit poll) के बस की बात नहीं है. ​बिहार चुनाव के बाद आए एग्जिट पोल ने भले ही महागठबंधन (mahagathbandhan) के सिर पर जीत का सेहरा बांध दिया हो लेकिन हकीकत इससे बिल्कुल उलट निकली है. बिहार में एक बार फिर एनडीए की सरकार बन चुकी है और नीतीश कुमार (Nitish Kumar) अगले पांच सालों के लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठने को तैयार हैं. बता दें बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए को 125 सीटें, महागठबंधन को 110 सीटें, एलजेपी को 1 जबकि अन्य के खाते में 7 सीटें गई हैं.

बिहार में एक बार फिर नीतीश कुमार ने साबित कर दिया कि उनका सुशासन बिहार की जनता की पहली पसंद है और वहां के लोग अभी भी उनपर भरोसा करते हैं. हालांकि इस चुनाव को पूरी तरह से नीतीश कुमार के पक्ष में करने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस तरह से बिहार में चुनावी रैलियां की उसके बाद से एनडीए पर बिहार की जनता का भरोसा बढ़ गया. प्रधानमंत्री ने लोगों को आगाह किया कि उनका वोट एक बार फिर बिहार में जंगलराज ला सकता है. प्रधानमंत्री की यही बात शायद बिहार की जनता के दिल में घर कर गई. इसके बाद चुनाव के दिन जो हुआ वह आज सबके सामने है.

बिहार के चुनाव नतीजों पर गौर करें तो एनडीए में बीजेपी के खाते में सबसे ज्यादा सीटें गई हैं. बिहार के चुनाव में बीजेपी को 74 सीटें हासिल हुई हैं. वहीं जनता दल यूनाइटेड के खाते में 43 सीटें गई हैं. इस बार के चुनाव में वीआईपी को 4 हम को 4 सीट मिली है. इस बार के बिहार विधान सभा चुनाव में महागठबंधन से बीजेपी को कड़ी टक्कर मिली है.

महागठबंधन के खाते में 110 सीटें गई हैं. महागठबंधन में आरजेडी के खाते में 75 सीटें जबकि कांग्रेस को 19 सीटें मिली हैं. इस गठबंधन की अन्य पार्टियों में सीपीआईएमएल को 12 सीटें जबकि सीपीएम को 2 सीटें मिली हैं. बिहार चुनाव में सीपीआई के खाते में मात्र 2 सीटें गई हैं. इस चुनाव में सबसे खराब स्थिति एलजेपी की रही. चिराग पासवान के नेतृत्व में इस बार ​का चुनाव लड़ रही एलजेपी को केवल 1 सीटें मिली है.





Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page