Terrible Mistake In Neet Result, Low-score Student Topper In St Category, Nta Releases Second Revised Marksheet – Neet 2020: कम स्कोर वाला छात्र संशोधित मार्कशीट में निकला एसटी कैटेगिरी में ऑल इंडिया टॉपर

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


एजुकेशन डेस्क,अमर उजाला

Updated Tue, 20 Oct 2020 03:48 PM IST

विद्यार्थी ( सांकेतिक तस्वीर)
– फोटो : पीटीआई

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

NEET 2020: मेडिकल पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए होने वाली नीट परीक्षा के रिजल्ट में बड़ी गलती सामने आई है। नीट मार्कशीट में फेल हुआ छात्र संशोधित मार्कशीट के बाद एसटी कैटेगिरी में ऑल इंडिया टॉपर निकला है। दरअसल, नीट रिजल्ट की घोषणा में फेल निकलने के बाद छात्र ने ओएमआर शीट और ‘आंसर की’ के आधार पर अपने रिजल्ट को चुनौती दी, जिसके बाद उसकी कॉपी फिर जांचने के बाद उसे एसटी कैटेगिरी में ऑल इंडिया टॉपर घोषित किया गया है।

इसे भी पढ़ें-दिल्ली विश्वविद्यालय: दूसरी कट ऑफ के तहत 9 हजार से ज्यादा छात्रों ने किया आवेदन

क्या है पूरा मामला?

राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले के गंगापुर शहर के रहने वाले 17 साल के मृदुल रावत को पहले नीट के रिजल्ट में फेल घोषित कर दिया गया था। उनका स्कोर बेहद कम आया था। लेकिन, जब उन्होंने एनटीए की तरफ से जारी अपने इस रिजल्ट को चुनौती दी, तो संशोधित मार्कशीट में वह एसटी कैटेगिरी में ऑल इंडिया टॉपर निकले। 

पहली मार्कशीट में मृदुल को 720 में 329 अंक मिले थे। इसके बाद उन्होंने ओएमआर शीट और ‘आंसर की’ के आधार पर रिजल्ट को चुनौती दी, तो उनके 720 में से 650 अंक निकले और एनटीए ने अपनी गलती सुधारते हुए उन्हें एसटी कैटेगिरी में ऑल इंडिया टॉपर घोषित किया। 

इसे भी पढ़ें-देशभर के केंद्रीय और नवोदय विद्यालयों को 2 नवंबर से खोलने की तैयारी

 

NEET 2020: मेडिकल पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए होने वाली नीट परीक्षा के रिजल्ट में बड़ी गलती सामने आई है। नीट मार्कशीट में फेल हुआ छात्र संशोधित मार्कशीट के बाद एसटी कैटेगिरी में ऑल इंडिया टॉपर निकला है। दरअसल, नीट रिजल्ट की घोषणा में फेल निकलने के बाद छात्र ने ओएमआर शीट और ‘आंसर की’ के आधार पर अपने रिजल्ट को चुनौती दी, जिसके बाद उसकी कॉपी फिर जांचने के बाद उसे एसटी कैटेगिरी में ऑल इंडिया टॉपर घोषित किया गया है।

इसे भी पढ़ें-दिल्ली विश्वविद्यालय: दूसरी कट ऑफ के तहत 9 हजार से ज्यादा छात्रों ने किया आवेदन

क्या है पूरा मामला?
राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले के गंगापुर शहर के रहने वाले 17 साल के मृदुल रावत को पहले नीट के रिजल्ट में फेल घोषित कर दिया गया था। उनका स्कोर बेहद कम आया था। लेकिन, जब उन्होंने एनटीए की तरफ से जारी अपने इस रिजल्ट को चुनौती दी, तो संशोधित मार्कशीट में वह एसटी कैटेगिरी में ऑल इंडिया टॉपर निकले। 

पहली मार्कशीट में मृदुल को 720 में 329 अंक मिले थे। इसके बाद उन्होंने ओएमआर शीट और ‘आंसर की’ के आधार पर रिजल्ट को चुनौती दी, तो उनके 720 में से 650 अंक निकले और एनटीए ने अपनी गलती सुधारते हुए उन्हें एसटी कैटेगिरी में ऑल इंडिया टॉपर घोषित किया। 

इसे भी पढ़ें-देशभर के केंद्रीय और नवोदय विद्यालयों को 2 नवंबर से खोलने की तैयारी

 



Source link

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

Translate »
You cannot copy content of this page