what is caffeine and know benefits and side effects of caffeine | चाय-कॉफी से मिलने वाला कैफीन दिमाग को एक्टिव तो करता है लेकिन ब्लड प्रेशर भी बढ़ाता है, जानिए इसके फायदे-नुकसान

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

19 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • कैफीन ब्लड में मिलकर पूरे शरीर में पहुंचता है और सबसे ज्यादा असर ब्रेन पर पड़ता है
  • यह दिमाग को एक्टिव करता है, थकान और भूख नहीं महसूस होने देता

ऑफिस में काम करते-करते थकान महसूस करते हैं। अचानक से ख्याल आता है और चाय या कॉफी पी लेते हैं। कुछ ही मिनट बाद खुद को फ्रेश महसूस करने लगते हैं, लेकिन कभी सोचा है ऐसा क्यों होता है। इसकी वजह है वो कैफीन जो आपकी चाय और कॉफी में पाया जाता है। दुनिया की 80 फीसदी आबादी चाय या कॉफी के जरिए कैफीन ले रही है। कैफीन क्या है और यह आपका दिमाग कैसे एक्टिव कर देता है, पढ़िए स्टोरी…

क्या है कैफीन
कैफीन चाय, कॉफी और कोको प्लांट में पाया जाने वाला स्टीमुलेंट है। इनके जरिए यह शरीर में पहुंचता है। इसका असर सीधे दिमाग के नर्वस सिस्टम पर पड़ता है। आप खुद को काफी रिलैक्स महसूस करने लगते हैं। कैफीन वाले पेय पदार्थों का चलन 18वीं शताब्दी में शुरू हो गया था, साल-दर-साल बढ़ा है।

कैफीन काम कैसे करता है?
जब भी हम चाय या कॉफी लेते हैं, इसमें मौजूद कैफीन ब्लड में मिलकर पूरे शरीर में फैल जाता है। इसका सबसे ज्यादा असर दिमाग पर होता है। दिमाग से जुड़ा एक न्यूरोट्रांसमीटर है एडिनोसिन। यह आपको बताता है कि आप थक गए हैं। कैफीन इसी न्यूरोट्रांसमीटर को ब्लॉक कर देता है। ऐसे में आप थकान नहीं महसूस करते और खुद को फ्रेश पाते हैं।

कैफीन डोपामाइन और एड्रेनेलिन न्यूरोट्रांसमीटर की एक्टिविटी बढ़ाता है। नतीजा आप उत्तेजित हो जाते हैं। खुद को काफी एक्टिव पाते हैं और ध्यान लगाकर काम कर पाते है।

डायटीशियन सुरभि पारीक कहती हैं, कैफीन कुछ हद तक फायदा पहुंचाता है लेकिन जब यह अधिक मात्रा में शरीर में पहुंचता है तो नुकसान करने लगता है।

अब इसके फायदे नुकसान समझ लीजिए

शरीर में कैफीन पहुंचने पर भूख कम लगती है, इसलिए वजन घटता है। आप शारीरिक और मानसिक रूप से खुद को काफी एनर्जेटिक महसूस करते हैं, इसलिए ज्यादा काम कर पाते हैं। थकावट महसूस नहीं होती।

शरीर में इसकी मात्रा अधिक होने पर सीधा असर नींद पर पड़ता है। नींद आने में दिक्कत आती है। शरीर से यूरिन ज्यादा रिलीज होती है और पानी की कमी हो जाती है। एनर्जी अधिक बढ़ने पर ब्लड प्रेशर बढ़ता है जो आपको कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए कैफीन को कम मात्रा में ही लें तो बेहतर होगा।



Source link

Leave a Comment

Translate »
You cannot copy content of this page